नि:शुल्क लैपटॉप वितरण योजना:

तमिलनाडु सरकार ने राज्य के सरकारी और सरकारी सहायता प्राप्त स्कूलों में छात्रों के लिए एक नि:शुल्क लैपटॉप वितरण योजना शुरू की है। वर्तमान शैक्षणिक वर्ष के कक्षा ११  वीं के छात्रों को लैपटॉप दिया जाएगा। तमिलनाडु राज्य के मुख्यमंत्री एडाप्पडी के पलानीस्वामी ने इस योजना को शुरू किया है। इस योजना पर तमिलनाडु सरकार के १,३४०.४४ करोड़ रुपये खर्च होंगे।

                                                                                           Free Laptop Distribution Scheme (In English):

तमिलनाडु नि:शुल्क लैपटॉप वितरण योजना:

  • राज्य: तमिलनाडु
  • लाभ: छात्रों को नि:शुल्क लैपटॉप प्रदान किया जाएंगा
  • लाभार्थी: ११ वी, १२ वी कक्षा और पॉलिटेक्निक के छात्र

पात्रता मापदंड:

  • यह योजना केवल तमिलनाडु राज्य के स्थायी निवासियों के लिए लागू है।
  • केवल ११ वी, १२ वी कक्षा और पॉलिटेक्निक के छात्रों के लिए यह योजना लागू है।
  • सरकारी और सरकारी सहायता प्राप्त विद्यालयों के छात्र इस योजना के लिए पात्र है।

अन्नाद्रमुक सरकार द्वारा छात्रों को परियोजना के लिए नि:शुल्क लैपटॉप प्रदान करना शुरू किया गया था। तमिलनाडु सरकार का विशेष परियोजना विभाग २०११-१२  से नि:शुल्क लैपटॉप वितरित कर रहा है। इस योजना के तहत अब तक कुल ३७.८८ लाख छात्र लाभान्वित हुए है।

११ वीं कक्षा के ५.१२ लाख छात्र, १२ वीं कक्षा और प्रथम वर्ष की पॉलिटेक्निक के १५.१८ छात्र इस योजना से लाभान्वित होंगे। इस योजना का प्राथमिक उद्देश्य सभी छात्रों को शिक्षा के समान अवसर प्रदान करना है। यह छात्रों को ऑनलाइन शिक्षण संसाधनों और अवसरों से ऑनलाइन जोड़ेगा। तमिलनाडु राज्य के मुख्यमंत्री ने इस योजना के शुभारंभ पर सात पात्र छात्रों को नि:शुल्क लैपटॉप भी वितरित किये।

 

लैपटॉप भाग्य: कर्नाटक में अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति के छात्रों के लिए मुफ्त लैपटॉप

कर्नाटक सरकार ने राज्य के अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति के छात्रों को  मुफ्त लैपटॉप प्रदान करने के लिए लैपटॉप भाग्य नाम की योजना सुरु की है। कर्नाटक राज्य के अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति से संबंधित इंजीनियरिंग, पॉलिटेक्निक और सरकारी डिग्री कॉलेजों में पढ़ने वाले छात्रों को इस योजना के तहत मुफ्त लैपटॉप प्रदान किया जाएगा। इस योजना की घोषणा उच्च शिक्षा मंत्री बसवाराजा रायारेड्डी ने की है और राज्य सरकार इस योजना के लिए ११२ करोड़ रुपये का खर्चा करेंगी। कर्नाटक राज्य के ३५,००० से अधिक छात्रों को इस योजना के तहत मुफ्त लैपटॉप प्रदान किया जाएंगा। प्रत्येक लैपटॉप की कीमत ३२,००० से ३५,००० रुपये के बीच होगी। अगले साल से शुरू होने वाले उपरोक्त पाठ्यक्रमों में प्रवेश प्राप्त करने वाले छात्रों को मुफ्त लैपटॉप प्रदान किया जाएंगा। इस योजना के लिए कोई आय सीमा नहीं है। अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति  जाति से संबंधित छात्र जो उच्च शिक्षा पाठ्यक्रम में अध्ययन कर रहा है,  वह छात्र इस योजना का लाभ उठा सकता है। सरकार का लक्ष्य राज्य के अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति के छात्रों को सशक्त बनाना है और उन्हें डिजिटल क्रांति का हिस्सा बनाना है। इस योजना के माध्यम से इन छात्रों को दुनिया से जुड़ने, वैश्विक अवसर और अध्ययन संसाधन प्रदान किये जाएंगे। बैंगलोर विश्वविद्यालय अपने छात्रों को लैपटॉप भी वितरित करता है, लेकिन छात्रों को पढाई पूरी होने के बाद लैपटॉप वापस करने की आवश्यकता होती है। लैपटॉप भाग्य योजना के तहत छात्रों को नि:शुल्क लैपटॉप प्रदान किया जाएंगा और उन्हें लैपटॉप वापस करने की आवश्यकता नहीं है।

                                    Laptop Bhagya: Free Laptops For SC/ST Students In Karnataka (In English):

लैपटॉप भाग्य योजना का लाभ:

  • इंजीनियरिंग, पॉलिटेक्निक और सरकारी डिग्री कॉलेजों में पढ़ने वाले अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति के छात्रों को मुफ्त लैपटॉप प्रदान किया जाएंगा।
  • लैपटॉप भाग्य योजना के माध्यम से छात्रों को दुनिया से जोडा जाएंगा और उन्हें वैश्विक अवसर प्रदान किये जाएंगे।
  • मुफ्त लैपटॉप छात्रों को अध्ययन संसाधनों को प्रदान करेगा।

लैपटॉप भाग्य योजना के लिए पात्रता:

  • केवल अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति से संबंधित छात्र ही योजना के लिए आवेदन कर सकते है और मुफ्त लैपटॉप प्राप्त कर सकते है।
  • केवल कर्नाटक राज्य के निवासी छात्र इस योजना के लिए आवेदन कर सकते है।
  • इस योजना के लिए कोई आय सीमा नहीं है।

लैपटॉप भाग्य योजना की अधिक जानकारी:

 

नि:शुल्क लैपटॉप वितरण योजना तमिलनाडु: ऑनलाइन पंजीकरण और आवेदन कैसे करे

तमिलनाडु सरकार ने राज्य में एक नि:शुल्क लैपटॉप वितरण योजना शुरू की है। योजना के तहत उच्च माध्यमिक, कॉलेज के छात्रों को नि:शुल्क लैपटॉप प्रदान किये जाएंगे। राज्य सरकार कक्षा ९ वीं और १० वीं के छात्रों के लिए योजना का विस्तार करने की योजना बना रही है। योजना का प्राथमिक उद्देश्य राज्य में प्रौद्योगिकी आधारित शिक्षा को आगे बढ़ाना है। यह योजना राज्य के सरकारी और सरकारी सहायता प्राप्त स्कूलों और कॉलेजों में पढ़ने वाले छात्रों के लिए लागू है।

                                                                     Free Laptop Distribution Scheme Tamil Nadu (In English)

तमिलनाडु नि:शुल्क लैपटॉप वितरण योजना का उद्देश्य:

  • छात्रों को सशक्त बनाया जाएंगा।
  • प्रौद्योगिकी आधारित शिक्षा को बढ़ावा दिया जाएंगा।
  • उन्हें दुनिया से जोड़ने के लिए मदत की जाएंगी।
  • राज्य में गरीब छात्रों को समान अवसर प्रदान किये जाएंगे।

तमिलनाडु  नि:शुल्क लैपटॉप योजना के लिए पात्रता:

  • यह योजना केवल तमिलनाडु में लागू है।
  • केवल सरकारी और सरकारी सहायता प्राप्त स्कूल और कॉलेज के छात्रों इस योजना के लिए आवेदन कर सकते है।
  • कक्षा ९ वीं, १० वीं, उच्चतर माध्यमिक और कॉलेज के छात्रों के लिए यह योजना लागू है।

छात्रों को लैपटॉप कंप्यूटर का वितरण की तमिलनाडु नि:शुल्क लैपटॉप योजना:

  • योजना के तहत अब तक ३८ लाख नि:शुल्क लैपटॉप का वितरण किया गया है।
  • योजना साल २०११-२०१२ में शुरू हुई है।
  • योजना पर अब तक ५,५२०.४९ करोड़ रुपये खर्च हुए है।
  • साल २०१७-१८ में ५.४३ लाख छात्रों को नि:शुल्क लैपटॉप प्रदान किये गए है।
  • साल २०१७-१८ बजेट में लैपटॉप वितरण खरीदने पर ७५८  करोड़ रुपये खर्च किये गए है।
  • ५.५  लाख छात्रों को साल २०१८-१९ के बजेट में छात्रों को नि:शुल्क लैपटॉप प्रदान करने के लिए ७५८ करोड़ रुपये खर्च किये गए है।
  • तमिलनाडु के इलेक्ट्रॉनिक्स निगम (इएलसीओटी) लैपटॉप खरीदने की एजेंसी है।
  • लैपटॉप में शैक्षिक सामग्री पहले से ही मौजूद रहेंगी।

संबंधित योजनाएं:

 

 

अनुंडोरम बोरुआ लैपटॉप पुरस्कार योजना (एआरबीएएस) असम: छात्रों के लिए मुफ्त लैपटॉप और इंटरनेट arbas.assam.gov.in पर ऑनलाइन पंजीकरण

असम राज्य सरकार ने मेधावी छात्रों के लिए अनुंडोरम बोरुआ लैपटॉप पुरस्कार योजना (एआरबीएएस) शुरू की है। इस योजना का नाम श्री अनुंडोरम बोरूआ के नाम पर रखा गया है जो भारतीय सिविल सेवा में शामिल होने वाले पहले आसामी थे।योजना के तहत राज्य के मेधावी छात्रों को लैपटॉप और इंटरनेट के साथ एक प्रमाणपत्र प्रदान किया जाएगा। असम राज्य का माध्यमिक शिक्षा बोर्ड इस योजना को लागू करता है। उन्होंने अनुंडोरम बोरुआ लैपटॉप पुरस्कार योजना (एआरबीएएस) के लिए पंजीकरण और ऑनलाइन आवेदनों के लिए वेबसाइट शुरू की है। इच्छुक उम्मीदवार माध्यमिक शिक्षा बोर्ड असम के arbas.assam.gov.in पर ऑनलाइन आवेदन कर सकते है। यह योजना २००५  में  शुरू की गई थी और इसका मुख्य उद्देश्य छात्रों को सिविल सेवाओं में करियर बनाने के लिए प्रोत्साहित करना है।

Anundoram Borooah Laptop Award Scheme (In English)

अनुंडोरम बोरुहा लैपटॉप पुरस्कार योजना क्या हैअसम में मेधावी छात्रों को प्रतिस्पर्धी परीक्षाओं के लिए प्रोत्साहित करने के लिए एक पुरस्कार योजना है। इस योजना के तहत छात्रों को प्रमाणपत्र, मुफ्त लैपटॉप और इंटरनेट प्रदान किया जाएगा।

अनुंडोरम बोरुहा लैपटॉप पुरस्कार योजना के लिए पात्रता: राज्य मदरसा शिक्षा बोर्ड या फिर सेबा असम द्वारा आयोजित एचएसएलसी / मीट्रिक परीक्षामे ७५ प्रतिशत से ज्यादा या प्रथम श्रेणी में उतीर्ण होने वाले छात्र ही इस योजना के लिए पात्र है।

अनुंडोरम बोरुहा लैपटॉप पुरस्कार योजना का लाभ:

  • प्रशंसा प्रमाण पत्र
  • नि:शुल्क लैपटॉप / कंप्यूटर
  •  दो साल के लिए नि:शुल्क इंटरनेट (3 जी / 4 जी)

अनुंडोरम बोरुआ लैपटॉप पुरस्कार योजना (एआरबीएएस) २०१८ की महत्वपूर्ण तिथियां:

  • आवेदन शुरू होने की तिथि: १८ सितंबर २०१८
  • आवेदन की अंतिम तिथि: २७ सितंबर २०१८

अनुंडोरम बोरुआ लैपटॉप पुरस्कार योजना (एआरबीएएस)  के लिए आवश्यक दस्तावेज:

  • लाभार्थी के एचएसएलसी या एएचएम प्रमाणपत्र (पीडीएफ प्रारूप में स्कैन किए गएऔर संस्थान के प्रमुख द्वारा हस्ताक्षरित)
  • पासपोर्ट आकार की तस्वीर (हालिया और जेपीजी प्रारूप)

अनुंडोरम बोरुआ लैपटॉप पुरस्कार योजना (एआरबीएएस) २०१८ का आवेदन कैसे करेंएआरबीएएस लैपटॉप वितरण योजना ऑनलाइन आवेदन पत्र और पंजीकरण १८  सितंबर २०१८ को सुरु हो गया है। आवेदन के लिए असम राज्य के माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के आधिकारिक वेबसाइट arbas.assam.gov.in पर पंजीकरण करे। लॉगिन करके ऑनलाइन आवेदन पत्र पूरी तरह भरे। दस्तावेजोको उपलोड करे और फॉर्म को सबमिट करे।

अन्य योजनाएं और छात्रवृत्तियां: