मध्य प्रदेश मतदाता पहचान पत्र: एमपी मतदाता सूची में  ऑनलाइन नाम डाउनलोड करें और जांच करें ceomadhyapradesh.nic.in :

मध्य प्रदेश चुनाव २०१८ की घोषणा की गई है और राज्य विधायी विधानसभा चुनाव २८  नवंबर को आयोजित किया जाएंगा और परिणाम ११ दिसंबर २०१८ को घोषित किए जाएंगे। मध्य प्रदेश राज्य के मतदाता मतदाता सूची में अपना नाम ऑनलाइन देख सकते है और मतदाता पहचान पत्र भी डाउनलोड कर सकते है।सीईओ से मतदाता पर्ची के साथ मतदान पहचान पत्र  आधिकारिक वेबसाइट ceomadhyapradesh.nic.in सीईओ सांसद ने चुनावी रोल अपडेट किया है और  मध्य प्रदेश चुनाव २०१८  के लिए नवीनतम मतदाता सूची प्रकाशित की है।

                                                                                                Madhya Pradesh Voter ID Card (In English)

भारत देश  के निर्वाचन आयोग ने सभी योग्य और नए मतदाताओं से यह सुनिश्चित करने के लिए अनुरोध किया है कि उनके पास मतदाता पहचान पत्र है और आने वाले विधानसभा चुनावों में मत दें। जिन लोगों के पास मतदाता पहचान पत्र नहीं है वे ऑनलाइन मतदाता पहचान पत्र के लिए आवेदन कर सकते है, विवरण जानने के लिए यहां क्लिक करें।

मध्य प्रदेश मतदाता पहचान पत्र ऑनलाइन डाउनलोड करें: अपने मतदाता पहचान पत्र के अनुसार अपने चुनावी रोल में विवरण देखें

सीईओ मध्य प्रदेश मतदाता सेवा पोर्टल पर जाने के लिए यहां क्लिक करें।

मध्य प्रदेश मतदाता पहचान पत्र ऑनलाइन डाउनलोड करें- अपने मतदाता पहचान पत्र के अनुसार अपने चुनावी रोल विवरण देखें।

अपना जिला चुनें।

अपना सभा निर्वाचन क्षेत्र का नाम चुनें।

मतदाता पहचान पत्र दर्ज करें और खोज बटन पर क्लिक करें।

 मध्य प्रदेश मतदाता पहचान पत्र ऑनलाइन डाउनलोड करें: अपने मतदाता पहचान पत्र को अपने नाम और विवरण या मतदाता पहचान पत्र (ईपीआईसी संख्या) के साथ खोजें:

  • सीईओ  मध्य प्रदेश चुनावी रोल २०१८ में जाने के लिए यहां क्लिक करें।
  •    अपना जिला या सभा निर्वाचन क्षेत्र चुनें।
  •  ईपीआईसी संख्या द्वारा खोज एमपी मतदाता सूची को चुनें, मतदाता पहचान पत्र नंबर और कैप्चा दर्ज करें, खोज बटन पर क्लिक करें।
  •  नाम और अन्य विवरणों से खोज एमपी मतदाता सूची चुनें, अपना नाम या पिता का नाम दर्ज करें, आयु लिंग, कैप्चा दर्ज करें और खोज बटन पर क्लिक करें।
  •    आपके विवरण से मेल खाने वाली मतदाता सूची दिखाई देगी, मैन्युअल रूप से अपने मतदाता पहचान पत्र  को खोजने के लिए सूची को खोजें।

आप मतदाता पहचान पत्र को डाउनलोड कर सकते  है और मतदान पर्ची भी प्रिंट कर सकते  है। सभी चुनावों के लिए मतदान करने के लिए मतदाता पहचान पत्र और मतदान पर्ची की आवश्यकता है। वे सभी जो मतदाता सूची में अपना नाम नहीं पाते   है और ऑनलाइन मतदाता पहचान पत्र डाउनलोड नहीं कर सकते  है, सीईओ एमपी हेल्पलाइन १९५० (नागरिक सेवाओं टोल फ्री नंबर) को कॉल कर सकते  है।

सांसद चुनाव २०१८:

  • मध्यप्रदेश विधान सभा चुनाव २०१८ की तिथिया:  सांसद विधानसभा चुनाव मतदान,नामांकन,गिनती और परिणाम
  • सीईओ मध्यप्रदेश मतदाता सूची २०१८-१९ डाउनलोड करे ceomadhyapradesh.nic.in  पर तस्वीर के साथ सीईओ  नावितम मतदाता सूची (मतदान केंद्र वार / निर्वाचन क्षेत्र वार/ बूथ वार मतदाता सूची पीडीएफ)

मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव २०१८ की तिथियां: एमपी चुनाव मतदान, परिणाम की तारीख और नामांकन के लिए अंतिम तिथि

भारत देश के निर्वाचन आयुक्त श्री ओ पी रावत ने मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव २०१८ की घोषणा की है। मध्यप्रदेश राज्य में विधानसभा चुनाव का मतदान २८ नवंबर २०१८ को होगा। वर्तमान में मध्यप्रदेश राज्य में बीजेपी की सरकार है और श्री शिवराज सिंह चौहान मध्यप्रदेश राज्य के मुख्यमंत्री है। बीजेपी सरकार का कार्यकाल दिसंबर २०१८ में समाप्त होने वाला है।

मध्य प्रदेश राज्य विधान सभा चुनाव २०१८ / मध्य प्रदेश विधान सभा चुनाव २१०८ की तिथियां:

  •  राजपत्र अधिसूचना जारी करने की तिथि: २ नवंबर २०१८
  • नामांकन / उम्मीदवार भरने की अंतिम तिथि (चुनाव आवेदन पत्र जमा करना): ०९ नवंबर  २०१८
  •  नामांकन की जांच की तिथि: १२ नवंबर २०१८
  • नामांकन वापस लेने की अंतिम तिथि: १४  नवंबर २०१८
  • मतदान सभा के लिए मतदान की तिथि: २८ नवंबर  २०१८
  • गिनती / मतदान परिणाम घोषणाओं की तिथि: ११ दिसंबर २०१८

मध्यप्रदेश राज्य विधान सभा में कुल २३० सीटें है। मतदान एक ही दिन में २८ नवंबर २०१८ को पूरे २३० विधान सभा क्षेत्रों में राज्य भर में होंगा। विधायकों (विधान सभा के सदस्य) के परिणाम ११ दिसंबर २०१८ को घोषित किए जाएंगे जो कि मध्यप्रदेश राज्य का चुनावों का गिनती का दिवस है। मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़, राजस्थान, तेलंगाना और मिजोरम राज्य में एक साथ-साथ राज्य विधानसभा चुनावों होंगे।

सीईओ मध्य प्रदेश मतदाता सूची २०१८-१९: फोटो के साथ एमपी का नवीनतम चुनावी रोल ceomadhyapradesh.nic.in से डाउनलोड करें (मतदान स्टेशन वार / निर्वाचन क्षेत्रवार / पोलिंग स्टेशन / बूथ वार मतदाता सूची पीडीएफ प्रारूप में)

मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव २०१८ तिथियों की घोषणा के रूप में मध्य प्रदेश में आयोजित आचार संहिता (मॉडल कोड) लागु कर दी गयी है। सभी राजनीतिक दलों ने आगामी चुनावों की तैयारी शुरू कर दी है। राज्य में सभी सक्रिय पक्ष राज्य के चुनाव में भाग लेंगे। प्रमुख प्रतियोगिता भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी), भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस (आईएनसी) के बीच होगी। बीजेपी की उम्मीदवार सूची और कांग्रेस की उम्मीदवार सूची जल्द ही प्रकाशित की जाएगी। मतदान और समाचार एजेंसियों ने पहले से ही मध्यप्रदेश चुनाव २०१८ पर काम करना शुरू कर दिया है। सभी पार्टिया अब चुनाव के तैयारी में जुट गयी है और साथ ही मध्य प्रदेश विधान सभा चुनाव ओपिनियन पोल २०१८ भी जल्द ही सभी एजेन्सिया घोषित करने की अपेक्षा है।

मुख्यमंत्री जन कल्याण योजना मध्य प्रदेश: मुफ्त बिजली कनेक्शन और २०० रूपये प्रति महिना बिजली बिल. योग्यता और आवेदन कैसे करे

मध्य  प्रदेश सरकार ने  मजदूरो और  बिपीएल परिवारों के लिए मुख्यमंत्री जन कल्याण योजना २०१८ की घोषणा की है। राज्य कैबिनेट द्वरा योजना को मंजूरी दी है और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा घोषणा की गई है। मध्यप्रदेश के सभी घरो मे बिजली उपलब्ध करना इस योजना का मुख्य उद्देश है। इस योजना के तहत गरीब परिवारों को २०० रूपये प्रति महिना रियायती दर से बिजली उपलब्ध की जाएंगी।

मुख्यमंत्री  जन कल्याण  योजना क्या है?

यह एक योजना है जिसमे मध्य प्रदेश के गरीब परिवारों को मुफ्त बिजली कनेक्शन प्रदान किया जाएगा और २०० रूपये प्रति महिना रियायती दर से बिजली उपलब्ध की जाएगी।

मुख्यमंत्री जन कल्याण  योजना का  उद्देश:

  • मध्यप्रदेश सभी परिवारों तक  बिजली उपलब्ध करना इस योजना का मुख्य उद्देश है।
  • योजना के माध्यम से मध्यप्रदेश राज्य के गरीब परिवारों को सशक्त बनाना  है।

मुख्यमंत्री जन कल्याण  योजना का  लाभ:

  • गरीब और पिछड़े परिवारोको नि:शुल्क बिजली कनेक्शन प्रदान किया जाएगा
  • २०० रूपये प्रति महीने दर से बिजली दि जायेगी 
  • अगर बिजली बिल २०० रूपए से कम है तो  वास्तविक बिल का भुगतान करने की आवश्कता नही है
  • बिल की  राशि २०० रूपए से अधिक है तो  राज्य सरकार द्वारा भुगतान किया जाएगा
  • लाभार्थी  योजना के तहत  एक टीवी, एक पंखा और बल्ब का उपयोग कर सकता है

मुख्यमंत्री जन कल्याण  योजना के लिए पात्रता:

  • योजना केवल मध्य प्रदेश के नागरिको के लिए लागू है
  • योजना असंगठित क्षेत्र के मजदूरों के लिए लागू है
  • गरीबी रेखा के नीचे (बिपीएल) परिवार योजना के लिए पात्र  है
  • जो लोग एयर कंडीशनर,बिजली का हीटर का उपयोग नही करते, और जिसका बिजली का खपत १००० वाट से कम है ऐसे लोगो को ही इस योजना का फायदा मिल सकता है

मुख्यमंत्री जन कल्याण योजना के लिए आवेदन पत्र और कैसे करे आवेदन?

सरकार ने अभी योजना शुरू की है, सरकार अभी योजना के आवेदन पत्र और आवेदन विवरण के साथ आने के लिए तयारी कर रही है.

मुख्यमंत्री जन कल्याण  योजना  का उद्देश:

  • राज्य के मजदूर और बिपीएल परिवार को नि: शुल्क बिजली का कनेक्शन प्रदान किया जाएगा और २००  रूपये प्रति महिना रियायती दर से  पर बिजली उपलब्ध की जाएंगी।
  • बिजली बिल माफी  योजना और पॉवर बिल त्याग माफी योजना १ जून २०१८ से प्रभावी है।
  • सरकार राज्य के ८८ लाख परिवारों  को इस योजना के माध्यम  से  लाभ प्रदान करने  का प्रयास कर रही है।
  • योजना १ जून २०१८ से लागू है।
  • राज्य सरकार की तरफ से योजना के लिए हर साल १००० करोड़ रूपए संभावित लागत है।

मध्य प्रदेश में विविध योजनाएं: