नि:शुल्क लैपटॉप वितरण योजना:

तमिलनाडु सरकार ने राज्य के सरकारी और सरकारी सहायता प्राप्त स्कूलों में छात्रों के लिए एक नि:शुल्क लैपटॉप वितरण योजना शुरू की है। वर्तमान शैक्षणिक वर्ष के कक्षा ११  वीं के छात्रों को लैपटॉप दिया जाएगा। तमिलनाडु राज्य के मुख्यमंत्री एडाप्पडी के पलानीस्वामी ने इस योजना को शुरू किया है। इस योजना पर तमिलनाडु सरकार के १,३४०.४४ करोड़ रुपये खर्च होंगे।

                                                                                           Free Laptop Distribution Scheme (In English):

तमिलनाडु नि:शुल्क लैपटॉप वितरण योजना:

  • राज्य: तमिलनाडु
  • लाभ: छात्रों को नि:शुल्क लैपटॉप प्रदान किया जाएंगा
  • लाभार्थी: ११ वी, १२ वी कक्षा और पॉलिटेक्निक के छात्र

पात्रता मापदंड:

  • यह योजना केवल तमिलनाडु राज्य के स्थायी निवासियों के लिए लागू है।
  • केवल ११ वी, १२ वी कक्षा और पॉलिटेक्निक के छात्रों के लिए यह योजना लागू है।
  • सरकारी और सरकारी सहायता प्राप्त विद्यालयों के छात्र इस योजना के लिए पात्र है।

अन्नाद्रमुक सरकार द्वारा छात्रों को परियोजना के लिए नि:शुल्क लैपटॉप प्रदान करना शुरू किया गया था। तमिलनाडु सरकार का विशेष परियोजना विभाग २०११-१२  से नि:शुल्क लैपटॉप वितरित कर रहा है। इस योजना के तहत अब तक कुल ३७.८८ लाख छात्र लाभान्वित हुए है।

११ वीं कक्षा के ५.१२ लाख छात्र, १२ वीं कक्षा और प्रथम वर्ष की पॉलिटेक्निक के १५.१८ छात्र इस योजना से लाभान्वित होंगे। इस योजना का प्राथमिक उद्देश्य सभी छात्रों को शिक्षा के समान अवसर प्रदान करना है। यह छात्रों को ऑनलाइन शिक्षण संसाधनों और अवसरों से ऑनलाइन जोड़ेगा। तमिलनाडु राज्य के मुख्यमंत्री ने इस योजना के शुभारंभ पर सात पात्र छात्रों को नि:शुल्क लैपटॉप भी वितरित किये।

 

लैपटॉप भाग्य: कर्नाटक में अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति के छात्रों के लिए मुफ्त लैपटॉप

कर्नाटक सरकार ने राज्य के अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति के छात्रों को  मुफ्त लैपटॉप प्रदान करने के लिए लैपटॉप भाग्य नाम की योजना सुरु की है। कर्नाटक राज्य के अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति से संबंधित इंजीनियरिंग, पॉलिटेक्निक और सरकारी डिग्री कॉलेजों में पढ़ने वाले छात्रों को इस योजना के तहत मुफ्त लैपटॉप प्रदान किया जाएगा। इस योजना की घोषणा उच्च शिक्षा मंत्री बसवाराजा रायारेड्डी ने की है और राज्य सरकार इस योजना के लिए ११२ करोड़ रुपये का खर्चा करेंगी। कर्नाटक राज्य के ३५,००० से अधिक छात्रों को इस योजना के तहत मुफ्त लैपटॉप प्रदान किया जाएंगा। प्रत्येक लैपटॉप की कीमत ३२,००० से ३५,००० रुपये के बीच होगी। अगले साल से शुरू होने वाले उपरोक्त पाठ्यक्रमों में प्रवेश प्राप्त करने वाले छात्रों को मुफ्त लैपटॉप प्रदान किया जाएंगा। इस योजना के लिए कोई आय सीमा नहीं है। अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति  जाति से संबंधित छात्र जो उच्च शिक्षा पाठ्यक्रम में अध्ययन कर रहा है,  वह छात्र इस योजना का लाभ उठा सकता है। सरकार का लक्ष्य राज्य के अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति के छात्रों को सशक्त बनाना है और उन्हें डिजिटल क्रांति का हिस्सा बनाना है। इस योजना के माध्यम से इन छात्रों को दुनिया से जुड़ने, वैश्विक अवसर और अध्ययन संसाधन प्रदान किये जाएंगे। बैंगलोर विश्वविद्यालय अपने छात्रों को लैपटॉप भी वितरित करता है, लेकिन छात्रों को पढाई पूरी होने के बाद लैपटॉप वापस करने की आवश्यकता होती है। लैपटॉप भाग्य योजना के तहत छात्रों को नि:शुल्क लैपटॉप प्रदान किया जाएंगा और उन्हें लैपटॉप वापस करने की आवश्यकता नहीं है।

                                    Laptop Bhagya: Free Laptops For SC/ST Students In Karnataka (In English):

लैपटॉप भाग्य योजना का लाभ:

  • इंजीनियरिंग, पॉलिटेक्निक और सरकारी डिग्री कॉलेजों में पढ़ने वाले अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति के छात्रों को मुफ्त लैपटॉप प्रदान किया जाएंगा।
  • लैपटॉप भाग्य योजना के माध्यम से छात्रों को दुनिया से जोडा जाएंगा और उन्हें वैश्विक अवसर प्रदान किये जाएंगे।
  • मुफ्त लैपटॉप छात्रों को अध्ययन संसाधनों को प्रदान करेगा।

लैपटॉप भाग्य योजना के लिए पात्रता:

  • केवल अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति से संबंधित छात्र ही योजना के लिए आवेदन कर सकते है और मुफ्त लैपटॉप प्राप्त कर सकते है।
  • केवल कर्नाटक राज्य के निवासी छात्र इस योजना के लिए आवेदन कर सकते है।
  • इस योजना के लिए कोई आय सीमा नहीं है।

लैपटॉप भाग्य योजना की अधिक जानकारी: