अटल नि:शुल्क वर्दी योजना: हिमाचल प्रदेश में स्कूल के छात्रों के लिए नि:शुल्क वर्दी योजना –

हिमाचल प्रदेश सरकार ने राज्य में स्कूल के छात्रों के लिए एक नि:शुल्क वर्दी प्रदान करने के लिए अटल नि:शुल्क वर्दी योजना को मंजूरी दे दी है। सरकारी विद्यालयों में १ ली कक्षा  से १२ वीं कक्षा तक पढ़ने वाले छात्रों को निःशुल्क स्कूल वर्दी प्रदान की जाएगी।प्रत्येक छात्र को दो स्कूल की वर्दी प्रदान की जाएगी।३ री,६ वी और ९ वी कक्षा में पढ़ने वाले छात्रों को नि:शुल्क वर्दी के साथ स्कूल बैग उपलब्ध कराए जाएंगे।

इस योजना का प्राथमिक उद्देश्य यह सुनिश्चित करना है कि गरीब परिवारों के छात्रों को स्कूल में पहनने के लिए वर्दी है।यह योजना हिमाचल प्रदेश के छात्रों को स्कूल जाने के लिए प्रोत्साहित करेगी।

                                                                                                                 Atal Free Vardi Yojana (In English)

 अटल नि:शुल्क वर्दी योजना: एक हिमाचल सरकार की योजना जिसके तहत स्कूल में पढने वाले छात्रों को नि:शुल्क स्कूल वर्दी के साथ स्कूल बैग वितरित किये जाएंगे।

अटल नि:शुल्क वर्दी योजना का उद्देश्य:

  • हिमाचल प्रदेश राज्य के बच्चों को स्कूल जाने के लिए प्रोत्साहित किया जाएंगा।
  • इस योजना के तहत यह सुनिश्चित करना है कि गरीब परिवारों के छात्रों को स्कूल में पहनने के लिए वर्दी है।

अटल नि:शुल्क वर्दी योजना का लाभ:

  • नि:शुल्क स्कूल वर्दी (१ ली कक्षा  से १२ वी कक्षा तक पढने वाले छात्रों को प्रदान की जाएंगी)
  • नि:शुल्क स्कूल बैग (३ री, ६ वी और ९वी कक्षा में पढ़ने वाले छात्रों के लिए)

अटल नि:शुल्क वर्दी योजना के लिए पात्रता:

  • यह योजना हिमाचल प्रदेश के निवासियों के लिए लागू है।
  • सरकारी विद्यालयों में पढ़ रहे छात्रों के लिए यह योजना लागू है।
  • १ ली कक्षा से १२ वी कक्षा में पढने वाले सभी छात्रों के लिए यह योजना लागू है।

अटल नि:शुल्क वर्दी योजना / हिमाचल प्रदेश नि:शुल्क वर्दी योजना: विशेषताएँ और कार्यान्वयन-

  •   शैक्षणिक वर्ष २०१८-१९, २०१९-२०, २०२०-२१ में पढ़ने वाले छात्रों को नि:शुल्क वर्दी  वितरित की जाएगी।
  • राज्य के मंत्रिमंडल ने स्कूल वर्दी खरीदने के लिए एक समिति को मंजूरी दे दी है।
  • इस योजना का नाम भारत के पूर्व प्रधानमंत्री श्री अटल बिहारी वाजपेई के नाम पर रखा गया है।
  • इस योजना का लाभ सभी राज्य के स्कूल के बच्चे को प्रदान किया जाएंगा।
  • हिमाचल प्रदेश राज्य नागरिक आपूर्ति निगम की मदत से वर्दी का वितरण किया जाएंगा।
  • इस योजना को मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर की अध्यक्षता में हिमाचल प्रदेश के मंत्रिमंडल द्वारा अनुमोदित किया गया है।
  • स्कूल वर्दी कक्षाओं में एकरूपता लाती है।

संबंधित योजनाएं:

अटल जलधारा योजना: त्रिपुरा में सभी के लिए मुफ्त जल आपूर्ति कनेक्शन-

त्रिपुरा सरकार ने राज्य के सभी परिवारों को मुफ्त में शुद्ध पेयजल आपूर्ति कनेक्शन प्रदान करने के लिए अटल जलधारा योजना शुरू की है। इस योजना के माध्यम से त्रिपुरा राज्य में हर किसी को शुद्ध पानी प्रदान किया जाएंगा ताकि पानी से पैदा होने वाली बीमारियों से त्रिपुरा राज्य मुक्त हो जाएंगा। इस योजना का नाम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की नई भारत पहल के तहत भारत के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के नाम पर रखा गया है। स्वच्छ पानी पर हर किसी का अधिकार है और यह राज्य सरकार की जिम्मेदारी है कि प्रत्येक परिवार को स्वच्छ और शुद्ध पानी मुहैया कराया जाए।

                                                                                                                    Atal Jaldhara Yojana (In English)

अटल  जलधारा  योजना क्या है?  त्रिपुरा सरकार की एक योजना जो राज्य के सभी घरों को मुफ्त जल आपूर्ति कनेक्शन प्रदान करती है।

अटल  जलधारा  योजना का उद्देश्य:

  • राज्य के नागरिक को स्वच्छ और शुद्ध पेयजल प्रदान किया जाएंगा।
  • इस योजना के तहत राज्य के प्रत्येक घर में जल आपूर्ति कनेक्शन प्रदान किया जाएंगा।
  • राज्य के नागरिक को पानी से होने वाली बीमारियों से रोका जाएंगा।

अटल  जलधारा  योजना का लाभ:

  • घरेलू उपभोक्ताओं के लिए मुफ्त जल आपूर्ति कनेक्शन प्रदान किया जाएंगा।

अटल  जलधारा  योजना के लिए पात्रता:

  • नि:शुल्क जल आपूर्ति कनेक्शन केवल त्रिपुरा राज्य में लागू होंगा।
  • राज्य के सभी घर इस योजना के लिए पात्र है।

मुफ्त जल आपूर्ति कनेक्शन और आवेदन पत्रों के लिए आवेदन कैसे करें:

योजना के लिए अलग से आवेदन करने की कोई आवश्यकता नहीं है।राज्य के नागरिकों को सामान्य जल आपूर्ति कनेक्शन के लिए आवेदन करने की आवश्यकता है।जल आपूर्ति कनेक्शन आवेदन पत्र राज्य जल आपूर्ति विभाग / नगर पालिका / पंचायत कार्यालयों में उपलब्ध है। आवेदन पत्र भरें, आवश्यक दस्तावेज को संलग्न करें और उसी कार्यालय में आवेदन पत्र को जमा करें जहां से आपको आवेदन पत्र मिला है।अटल जलधर योजना के विकास के लिए एक नि: शुल्क जल आपूर्ति योजना है और यह सुनिश्चित करने के लिए कि राज्य के प्रत्येक घर में बुनियादी सुविधाएं हों। त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बिप्लाब कुमार देब ने इस योजना की घोषणा की है ।

अन्य महत्वपूर्ण योजनाएं:

 

 

 

कैशलेस अटल अमृत अभियान (एएए) योजना असम: गरीबी रेखा से नीचे (बीपीएल) और गरीबी रेखा के ऊपर (एपीएल) के लिए २ लाख रूपये तक मुक्त उपचार और चिकिस्ता | पात्रता, आवश्यक दस्तावेज, अस्पतालों की सूचि और aaa-assam.in पर नामांकन की प्रक्रिया

भारत के उपराष्ट्रपति श्री एम वेंकैया नायडू ने अटल अमृत अभियान (एएए) योजना का शुभारंभ किया है। अटल अमृत अभियान (एएए) योजना के माध्यम से असम राज्य के नागरिकोंको स्वास्थ सेवा प्रदान की जाएगी। गरीबी रेखा के निचे (बीपीएल) और गरीबी रेखा से ऊपर (एपीएल) परिवारों को योजना के तहत २ लाख रूपए तक नि:शुल्क चिकिस्ता सेवा प्रदान की जाएगी। जिसके परिणाम स्वरुप रज्य के नागरिकों  स्वास्थ के लिए  ऋण लेने की जरुरत नही पडनी चाहिए ये योजना का मुख्य लक्ष है। ६३ मिलियन भारतीय स्वास्थ के उपचार का खर्च के कारन हर साल गरीबी रेखा के निचे (बिपीएल) हो जातें है। नगदीरहित अटल अमृत अभियान (एएए) योजना के तहत असम राज्य के ९२% लोगों को लाभ मिला है जिनका आय सालाना ५ लाख रुपये  से कम है।

अटल अमृत अभियान योजना क्या है?
असम सरकार द्वारा एक स्वास्थ सेवा योजना जो गरीबी रेखा के निचे (बिपीएल) और गरीबी रेखा के उपर (एपीएल) परिवारों को २ लाख रूपए तक स्वास्थ सेवा ओर चिकिस्ता उपचार प्रदान करता है।

अटल अमृत अभियान योजना का उद्देश:

  • परिवार को गंभीर बीमारी की स्थिति मे लोगों को वित्तीय साहयता प्रदान करना
  • नगदी रहित स्वास्थ उपचार और चिकिस्ता देखभाल
  • नगदी रहित चिकिस्ता लाभ
  • २ लाख रूपये तक नि: शुल्क चिकिस्ता देखभाल
  • छह आम है और उच्च लागत बीमारी को योजना मे शामिल किया गया है।
  • योजना मे ४३८ प्रक्रियाओं को शामिल किया है
  • कैशलेस अस्पताल भर्ती: अटल अमृत अभियान ( एएए) के तहत रोगी को अस्पताल भर्तीकराया जा सकता है और राशि भुगतान के बिना इलाज किया जाता है
  • सरकार उपचार के लिए भुगतान करेंगी
  • उपचार, चिकिस्ता, निदान, भोजन, और अस्पताल शुल्क आदि की तरह सभी खर्च प्रदानकिया जाता है। प्रवास के लिए ( ३०० रूपए प्रति व्यक्ति यात्रा के लिए) और भत्ता( १००० रूपए प्रति दिन अधिकतम १० दिन तक लागु )

अटल अमृत अभियान योजना: 24 x 7 टोल फ्री हेल्पलाइन नंबर
1800 102 7480 / 104

अटल अमृत अभियान योजना के तहत बीमारीया: 

  • कैंसर
  • किडनी के आजार
  • स्थायविक स्थिति
  • नवजात रोगों के आजार
  • बर्न्स
  • ह्रदय के आजार

अटल अमृत अभियान योजना के लिए पात्रता:

  • नागरिक असम राज्य का रहिवासी होना चाहिए।
  • गरीबी रेखा से नीचे के सदस्य (गरीबी रेखा से नीचे): वार्षिक आय १.२ लाख रूपए कम होना चाहिए।
  • गरीबी रेखा के ऊपर सदस्य (गरीबी रेखा के ऊपर): वार्षिक आय १.२ लाख से ५ लाख रूपए के बिच होना चहिए।
  • १०० रूपए प्रति वर्ष नाममात्र प्रीमियम के साथ आवेदन कर सकते है।
  • लाभार्थी के पास राशन कार्ड होना अनिवार्य है और राशन कार्ड असम राज्य के राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा बोर्ड की मान्यता प्राप्त होना चाहिए।
  • असम राज्य के परिवार जिनकी वार्षिक आय ५ लाख रूपए से कम है ओ आवेदन करने के लिए पात्र है।

अटल अमृत अभियान योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज:

  • राशन पत्रिका
  • वोटर आई डी
  • आय प्रमाण पत्र
  • आवेदक की उम्र १८ साल के निचे होने पर आवेदक की जन्म पत्र होना चाहिए.
  • राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम (एनएफएसए) कार्ड (वैकल्पिक)

अटल अमृत अभियान योजना नामांकन कैसे करे / आवेदन कैसे करे?

१. ऊपर उल्लेख दस्तावेजों की सूची के साथ नजदीक के अटल अमृत अभियान (एएए) नामांकन केंद्र पर जाएं
२. सभी सदस्यों को जो नामांकन करना चाहते है आवेदन के समय केंद्र मे मौजूद होना आवश्यक है।
३. अधिकारी सभी दस्तावेजों की पुष्टि पात्रता के आधार पर करते है और दस्तावेज सत्यापन करते है।
४. एपीएल परिवारो के सदस्यों को १०० रूपए चालान वार्षिक प्रीमियम के रुप मे बैंक मे जमा करना होंगा।
५. सत्यापन और एपीएल के मामले मे भुगतान करने के बाद अधिकारी एक तस्वीर और उंगलियों के निशान लिए जाते है
६. अटल अमृत अभियान (एएए) आईडी कार्ड प्रत्येक आवेदकों के लिए जारी किया जाता है।

अस्पतालों की सूचि जहा अटल अमृत अभियान योजना उपलब्ध है:

असम राज्य के २४ सरकारी / निजी अस्पातल मे नि:शुल्क और नगदी रहित उपचार उपलब्ध है। असम राज्य के पैनलबध्य अस्पतालों सूचि के लिए यहाँ क्लिक करे। साथ ही निम्नलिखित शहरों मे नगदी रहित और मुक्त इलाज असम राज्य के बाहर अटल अमृत अभियान (एएए) योजना के तहत उपलब्ध है:

  • मंबुई (केवल कैंसर के इलाज)
  • बेंगलुरु
  • चेन्नई
  • दिल्ली (एनसीआर षेत्र)
  •  कोलकता

इन शहरोमे अटल अमृत योजना अस्पतालों के नाम और पता डाऊनलोड करने के लिये यहा क्लिक करे।

अधिक जानकारी और विवरण: