११२ डायल योजना उत्तराखंड: अपराध या सेहत ख़राब होने के स्तिति में आपातकालीन मदत के लिए हेल्पलाइन

उत्तराखंड सरकार ११२ डायल योजना नामक नई योजना पर काम कर रही है। इस योजना का उद्देश्य राज्य के नागरिकों को एक ही टेलीफोन नंबर पर सभी आपातकालीन सेवाएं प्रदान करना है। यह योजना राज्य के नागरिकों को तत्काल सहायता प्रदान करेगी और लाभार्थी का समय भी बचाएगी। उत्तराखंड राज्य के नागरिक अब अपराध की रिपोर्ट करने के लिए या सेहत ख़राब होने के आपात स्थिति के मामले में ११२ डायल कर सकते है। इस योजना से प्रदेश के लोगो को आपात स्तिथि में त्वरित मदत मिलेगी। नागरिकों को अब अलग-अलग नंबरों पर कॉल करने की आवश्यकता नहीं है। लाभार्थी पुलिस नियंत्रण संख्या १००, अग्निशमन संख्या  १०१, स्वास्थ्य सेवा संख्या  १०८, बाल सहायता लाइन संख्या १०९८ , महिला सहायता लाइन संख्या  १०९० के बजाय  सिर्फ ११२ पर कॉल कर सकते  है। राज्य के डीजीपी इस योजना की देखरेख के लिए जिम्मेदार रहेंगे।

112 Dial Yojana (In English)

देहरादून डायल ११२ योजना के लिए मुख्यालय होगा और हरिद्वार में एक नियंत्रण कक्ष स्थापित किया जाएगा। यह कॉल सीधे देहरादून से हरिद्वार तक पहुंच जाएगी और उसके बाद, यह कॉल संबंधित क्षेत्रों को भेज दी जाएगी। जिस लाभार्थी को सहायता चाहिए उसे तत्काल राहत प्रदान की जाएगी। योजना प्रारंभ होने के बाद शिकायतकर्ता को अलग-अलग प्रकार की मदद पाने के लिए अलग-अलग नंबरों पर कॉल नहीं करना पड़ेगा। यह योजना हरिद्वार में एक परीक्षण के आधार पर प्रारंभ की जाएगी। इस योजना के तहत, राज्य आपातकालीन सहायता प्रणाली भी सभी कोतवाली और पुलिस स्टेशनों के वैन में लगाई जाएगी। योजना की निगरानी राज्य पुलिस विभाग द्वारा की जाएगी।

११२ डायल योजना क्या है? उत्तराखंड राज्य सरकार के नागरिकों के लिए एक ही संख्या (११२) के माध्यम से सभी आपातकालीन सेवाएं प्रदान करने के लिए एक योजना।

उत्तरखंड राज्य आपातकालीन सेवाएं हेल्पलाइन / टोल फ्री नंबर

११२

११२  डायल योजना का उद्देश्य:

  • एक ही संख्या (११२) के माध्यम से सभी आपातकालीन सेवा प्रदान करना
  • नागरिकों को तत्काल सहायता प्रदान करना
  • योजना के माध्यम से लाभार्थी का समय और जीवन बचाना
  • मौके पर तत्काल राहत प्रदान करना
  • राज्य में हर किसी को तत्काल आपातकालीन सहायता प्रदान करना

११२  डायल योजना के लिए पात्रता और कौन आवेदन कर सकता है:

  • यह योजना केवल उत्तरखंड राज्य में ही उपलब्ध है
  • प्रदेश का कोई भी निवासी ११२ डायल कर के मदत मांग सकता है

११२ डायल योजना का लाभ:

  • एक ही संख्या (११२) के माध्यम से सभी आपातकालीन सेवाएं
  • राज्य के नागरिकों को तत्काल सहायता
  • लाभार्थी को  घटना स्थल पर तत्काल राहत और चिकित्सा सेवाएं

११२  डायल योजना के  सेवाओं का लाभ कैसे प्राप्त करें:

पुलिस, चिकित्सा विभाग, प्राकृतिक आपदा की रिपोर्ट करने या किसी अन्य प्रकार की सहायता की आवश्यकता के लिए बस अपने मोबाइल या पास के लैंडलाइन से  ११२ पर कॉल करें और योजना का लाभ उठाये।

११२ डायल योजना का कार्यान्वयन और विशेषताएं:

  • इस योजना उत्तराखंड राज्य में जल्द ही प्रारंभ किया जाएगा
  • इस योजना का पर्यवेक्षण राज्य के डीजीपी द्वारा किया जाएगा
  • इस योजना का उद्देश्य राज्य के नागरिकों को एक ही संख्या में सभी आपातकालीन सेवाएं प्रदान करना है
  • राज्य के नागरिकों को तुरंत मदत प्रदान की जाएगी
  • पुलिस नियंत्रण संख्या १००, अग्निशमन संख्या  १०१, स्वास्थ्य सेवा संख्या १०८, बाल सहायता रेखा संख्या  १०९८, महिला सहायता रेखा संख्या  १०९० सभी को  ११२ के माध्यम से पहुंचा जा सकता है
  • लाभार्थी को इन सभी नंबरों की सभी सेवाओं को केवल एक ही संख्या के माध्यम से दी जाएगी
  • इसका मुख्यालय देहरादून में बनाया गया है और इसका नियंत्रण कक्ष हरिद्वार में बनाया जाएगा
  • यह योजना हरिद्वार में एक परीक्षण के आधार पर शुरू की गई है

अन्य महत्वपूर्ण योजनाएं:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *