स्मार्ट राशन योजना (एस आर वाय) पंजाब: नयी आटा दाल योजना – पात्रता, आवश्यक दस्तावेज़, आवेदन पत्र और आवेदन की प्रक्रिया

भारत सरकार के राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन (एनएफएसए)। के तहत पंजाब सरकार ने स्मार्ट राशन कार्ड योजना (SRCS) की सुरवात की है. ईस योजना के तहत लाभार्थी को राशन नई मजबूत जैव मीट्रिक प्रणाली के आधार पर वितरित किया जाएगा. राशन गरीब और जरुरतमंद लाभार्थीयों को वितरित किया जाये और जैव मीट्रिक प्रणाली के मदत से भ्रष्टाचार को रोकना यह योजना का मुख्य उद्देश है. पंजाब राज्य मे १.४१ करोड़ लोगो को नए स्मार्ट राशन कार्ड योजना के तहत लाभान्वित किया जाएगा और इस योजना के लिए सरकार आगामी बजट २०१८-२०१९ में ५०० करोड़ का बजट का प्रस्ताव करने वाली है. स्मार्ट राशन कार्ड योजना १ अप्रैल २०१८ से शुरू करने का निर्धार है.

स्मार्ट राशन कार्ड योजना (SRCS) पंजाब क्या है?

पंजाब सरकार की नई आटा दाल योजना जिसके तहत जैव मीट्रिक प्रणाली के आधार पर लाभार्थी को राशन विपरित किया जाएगा|

स्मार्ट राशन कार्ड योजना (SRCS) का लाभ:

  • पंजाब राज्य के १.४२ लोग स्मार्ट राशन कार्ड योजना (SRCS) योजना के तहत लाभान्वित किया जाए
  • गेहूं २ रूपए प्रति किलोग्राम से दिया जाएगा
  • राशन नई मजबूत जैव मीट्रिक प्रणाली के आधार पर दिया जाएगा
  • गेहूं 30 किलोग्राम पैकेजिंग मे दिया जाएगा
  • छह महीने का राशन (गेहूं) एक ही बार मे दिया जाएगा
  • राशन लाभार्थी के घर पर विपरित किया जाएगा
  • लाभार्थी बैग साथ मे रखे जिसमे उनको राशन दिया जा सके
  • एक परिवार मे परिवार के सदस्यों की संख्या के नुसार राशन मिलेगा उसके उपर राशन नही मिलेगा परिवार के सदस्य को प्रति माह 5 किलोग्राम के हिसाब से गेहूं दिया जाएगा
  • २० रूपए किलोग्राम योजना के तहत प्रत्येक लाभार्थी को आधा किलोग्राम दाल प्रति महिने के हिसाब दि जाएगी
  • एक किलोग्राम चीनी और चाय १०० ग्राम SRCS के तहत रियायती दरो पर दी जाएगी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *