सुपर १०० योजना हरियाणा: मेधावी छात्रों को जेईई और एनईईटी के लिए नि:शुल्क कोचिंग, पात्रता, लाभ और आवेदन कैसे करें

March 15, 2019 | By Yashpal Raut | Filed in: योजनाएं, छात्र, खबरें, शिक्षा, लड़की, लड़का, हरयाणा सरकार, हरयाणा.

हरियाणा सरकार ने राज्य के सरकारी स्कूलों से मेधावी छात्रों के लिए सुपर १०० योजना  हरियाणा शुरू की है। इस योजना का उद्देश्य छात्रों को उच्च शिक्षा के लिए प्रोत्साहित करना और उन्हें मेडिकल और इंजीनियरिंग में प्रवेश के लिए प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी में मदत करना है। हरियाणा राज्य में मनोहरलाल खट्टर सरकार ने राज्य के सरकारी स्कूलों के मेधावी छात्रों को बोर्डिंग की सुविधा के साथ-साथ नि:शुल्क में जेईई और एनईईटी कोचिंग प्रदान करेगी।

                                                                                                      Super 100 Scheme Haryana (In English)

सुपर १००  क्या है?

प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए सरकारी स्कूलों के मेधावी छात्रों को नि:शुल्क कोचिंग और बोर्डिंग देने के लिए हरियाणा सरकार की एक योजना है।

सुपर १०० योजना का उद्देश्य:

  • उच्च शिक्षा के लिए छात्रों को प्रोत्साहित किया जाएंगा।
  • आर्थिक रूप से कमजोर पृष्ठभूमि वाले छात्रों को शिक्षा के समान अवसर प्रदान किये जाएंगे।
  • प्रतियोगी परीक्षाओं के विशेषज्ञों से कोचिंग प्रदान की जाएंगी।
  • राज्य भर में इंजीनियरिंग और मेडिकल शिक्षा को बढ़ावा दिया जाएंगा।

सुपर १०० योजना के लाभ:

  • जेईई और एनईईटी परीक्षा के लिए विशेषज्ञों से नि: शुल्क २  साल के लिए कोचिंग प्रदान की जाएंगी।
  • कक्षा ११ वीं और १२  वीं कक्षा तक बोर्डिंग, ठहरने और यात्रा की व्यवस्था (तीन महीने में एक बार) प्रदान की जाएंगी।

सुपर १००  योजना के लिए पात्रता:

  • यह योजना केवल हरियाणा राज्य के छात्रों के लिए लागू है।
  • यह योजना हरियाणा राज्य के सरकारी स्कूलों के छात्रों के लिए लागू है।
  • जिन छात्रों ने ८५% से आधिक अंक हासिल किये उन छात्रों के लिए यह योजना लागू है।
  • राज्य में जून महीने में आयोजित होने वाली प्रवेश परीक्षा उत्तीर्ण करने वाले छात्र इस योजना के लिए पात्र है।

सुपर १००  २०१८  प्रवेश परीक्षा तिथि:

  •  प्रवेश परीक्षा जून २०१८  के दूसरे सप्ताह में आयोजित की जाएगी।

सुपर १००:  यह कैसे काम करता है / आवेदन कैसे करें?

  • सरकारी स्कूलों के २२५  छात्रों को विशेषज्ञ शिक्षकों से नि:शुल्क कोचिंग प्रदान की जाएंगी।
  • प्रवेश परीक्षा के आधार पर छात्रों का चयन किया जाएगा।
  • प्रवेश परीक्षा हरियाणा राज्य के सभी जिलों में जून २०१८  के दूसरे सप्ताह में आयोजित की जाएगी।
  • १० वी कक्षा के परीक्षा में ८५ % से अधिक अंक प्राप्त करने वाले छात्र प्रवेश परीक्षा के लिए पात्र है।
  • चुने गये २२५ छात्र और छात्राओं को जेईई और एनईईटी प्रवेश परीक्षा के लिए अगले २ सालों के लिए नि:शुल्क कोचिंग प्रदान की जाएगी।
  • १२५  छात्रों को रेवाड़ी के सरकारी स्कूल में प्रवेश दिया जाएगा और १०० छात्रों को करनाल में प्रवेश दिया जाएगा जहां वे ११ वी और १२ वी कक्षा की पढाई पूरी करेंगे।
  • उन छात्रों को ११ वीं और १२ वीं कक्षा के पढाई के साथ साथ उन्हें इंजीनियरिंग और मेडिकल प्रवेश परीक्षाओं की तैयारी के लिए नि:शुल्क कोचिंग प्रदान की जाएंगी।
  • इन दो सालों के दौरान २२५ छात्रों के बोर्डिंग, ठहरने और यात्रा की व्यवस्था (तीन महीने में एक बार) का पूरा खर्चा हरियाणा सरकार करेंगी।
  • सरकार ने राज्य के जिला शिक्षा अधिकारियों और प्राचार्य को माता-पिता और छात्रों को सुपर १००  योजना का लाभ उठाने के लिए और प्रवेश परीक्षा में भाग लेने के लिए प्रोत्साहित करने के लिए निर्देशित किया है।
  • सरकार ने नि:शुल्क कोचिंग संचालित करने के लिए विकास फाउंडेशन रेवाड़ी के साथ एक   समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किये है।
  • छात्रों के लिए जल्दी ही एक और एमओयू बोर्डिंग, ठहरने की व्यवस्था की सुविधा की जाएंगी।
  • इस योजना के लिए लडको और लड़कियों की सामान संख्या का चयन किया जाएंगा।
  • राज्य सरकार ने इस योजना के लिए १ करोड़ रुपये का बजट आवंटित किया है।

अन्य महत्वपूर्ण योजना:


Tags: , , , , , , , , , , , ,

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *