मुख्यमंत्री अर्बन लीडर फ़ेलोशिप प्रोग्राम (सीएमयुएलएफ) दिल्ली: cmulf.dtu.ac.in रजिस्ट्रेशन, ऑनलाइन फॉर्म, आवेदन की प्रक्रिया और लॉगिन

दिल्ली सरकार ने राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में कुछ महत्वपूर्ण मुद्दों में भाग लेने और हल करने के लिए युवाओं की मदत लेने के लिए  मुख्यमंत्री अर्बन लीडर फ़ेलोशिप प्रोग्राम (सीएमयूएलएफ) की शुरुआत की है। युवा नवप्रवर्तनक और सामाजिक नेता कार्यक्रम में भाग ले सकते है और सरकार की चुनौतियों में से कुछ चुनौतियों पर काम कर सकते है ।लाभार्थी को प्रति माह १.२५ लाख रुपये की फेलोशिप  प्रदान की जाएंगी।

                                                  Chief Minister’s Urban Leaders Fellowship Programme  (In English)

 

मुख्यमंत्री अर्बन लीडर फैलोशिप  प्रोग्राम (सीएमयूएलएफ):

  • दिल्ली सरकार द्वारा युवाओं के लिए एक फैलोशिप कार्यक्रम है।
  •  भारत देश के सामाजिक युवा इस योजना में  भाग ले सकते है।
  • देश के युवाओं को दिल्ली सरकार और सार्वजनिक सेवा के साथ काम करने का अवसर मिलेगा।
  • शहरी भारत  का सामना करने वाली प्रमुख समस्याओं और चुनौतियों का समाधान करने का प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा।

 मुख्यमंत्री अर्बन लीडर फैलोशिप  प्रोग्राम (सीएमयूएलएफ) की मुख्य विशेषताएं:

  • फैलोशिप विभिन्न विभागों के मंत्रियों और वरिष्ठ सामाजिक अधिकारियों के साथ काम करने का मौका मिलेंगा।

कार्य की प्रकृति:

  • उन्हें शिक्षा, स्वास्थ्य, जल प्रबंधन, पर्यावरण, कला और संस्कृति, परिवहन आदि से संबंधित चुनौतियां दी जाएंगी।
  •  उन्हें मुद्दों का विश्लेषण करने और अभिनव समाधानों के साथ आने की आवश्यकता है।
  • विभिन्न नीतियों, पहल और परियोजनाओं के निर्माण के साथ सरकार मदत करेंगी।

पद:

  • अध्येताओं (२० पद)
  • सहायता अध्येताओं (१० पद)

मानधन:

  • अध्येताओं के उम्मीदवार को १.२५ प्रति माह रुपये प्रदान किये जाएंगे।
  • सहायक पदों के उम्मीदवार को ७५,००० प्रति माह रुपये प्रदान किये जाएंगे।

अवधि :

  • कार्यक्रम का कार्यकाल २  साल का है।

दिल्ली सरकार दिल्ली की विभिन्न समस्याओं का समाधान करने में अभिनव रही है। आम आदमी नेतृत्व में सरकार को कई पहलुओं के लिए पहचाना गया है, जैसे स्कूलों में खुशी पाठ्यक्रम, सरकारी स्कूलों में परिवर्तन, मोहाला क्लीनिक में उच्च गुणवत्ता वाली प्राथमिक स्वास्थ्य देखभाल, भारत देश में सबसे कम दरो पर २४ x ७  बिजली और सरकार के घरेलू वितरण सेवाएं प्रदान करती है। सरकार लोकप्रिय शब्द “परिवर्तन करना” दील्ली शासन क्रान्ति  के  लिए अपनी नीतियों का प्रचार कर रही है।

मुख्यमंत्री अर्बन लीडर फैलोशिप  प्रोग्राम (सीएमयूएलएफ) के लिए पात्रता और कौन आवेदन कर सकता है:

  • कोई भी भारतीय नागरिक इस योजना के लिए आवेदन कर सकता है।
  • आयु: आवेदक की उम्र २१ से ३५ वर्ष के आयु वर्ग के बीच होनी चाहिए।

अध्येताओं:

  • उम्मीदवार को पीएच.डी. का अनुभव एक वर्ष होना चाहिए।
  • उम्मीदवार को न्यूनतम ६० % अंकों के साथ स्नातकोत्तर और न्यूनतम ३ साल का अनुभव होना चाहिए।
  • स्नातक न्यूनतम ६० % अंकों के साथ स्नातक और न्यूनतम ५ साल का अनुभव होना चाहिए।

सहायता अध्येताओं:

  • उम्मीदवार को कम से कम ६०% अंक के साथ स्नातकोत्तर और न्यूनतम ५ साल का अनुभव होना चाहिए।
  • उम्मीदवार को कम से कम ६०% अंक के साथ स्नातक और न्यूनतम १ साल का अनुभव होना चाहिए।

सीएमयूएलएफ की महत्वपूर्ण तिथियां:

  • आवेदन की समय सीमा / आवेदन की अंतिम तिथि: ४ नवंबर २०१८
  •  पहली शॉर्टलिस्ट की घोषणा: १५ नवंबर २०१८
  • अंतिम साक्षात्कार: २६ और २७ नवंबर २०१८
  • अंतिम सूची की घोषणा: १५ नवंबर २०१८
  • चयनित उम्मीदवारों के लिए अंतिम तारीख प्रस्ताव को स्वीकार करने के लिए: ०७  दिसंबर २०१८
  • फैलोशिप कार्यक्रम कब शुरू होता है: ७ जनवरी २०१९

 मुख्यमंत्री अर्बन लीडर फैलोशिप  प्रोग्राम (सीएमयूएलएफ): पंजीकरण, आवेदन पत्र, ऑनलाइन आवेदन और लॉगिन कैसे करे:

  • मुख्यमंत्री अर्बन लीडर फैलोशिप  प्रोग्राम (सीएमयूएलएफ) के लिए पंजीकरण करने के लिए यहां क्लिक करें।
  • अपना नाम, ईमेल आईडी, पासवर्ड, कैप्चा के लिए आवेदन करने के लिए पोस्ट करें और सबमिट बटन पर क्लिक करें।
  •  सफल पंजीकरण पर लॉगिन करने के लिए यहां क्लिक करें।
  •  लॉगिन पर सीएमयूएलएफ साथी और सहायता साथी के लिए आवेदन पत्र का चयन करें।
  • आवेदन पत्र भरें सभी जरूरी विवरण प्रदान करें और यदि आवश्यक हो तो दस्तावेज अपलोड करें और जमा करें।

 

 

 

आशिर्वाद छात्रवृत्ति योजना (एएससी) / punjabscholarships.gov.in: आवेदन पत्र, पात्रता, आवेदन की प्रक्रिया और आवश्यक दस्तावेज

आशिर्वाद छात्रवृत्ति योजना (एएससी) एससी / एसटी / ओबीसी और अल्पसंख्यक छात्रों के कल्याण के लिए पंजाब सरकार द्वारा पूर्व-मैट्रिक और पोस्ट-मैट्रिक छात्रवृत्ति प्रदान करने के लिए योजना है। असल में आशिर्वाद (punjabscholarships.gov.in) नाम का पोर्टल पंजाब सरकार द्वारा शुरू की है जहां छात्र आशिर्वाद योजना के तहत दोनों छात्रवृत्ति के लिए आवेदन पत्र भर सकते है। राज्य का पिछड़ा समुदाय का कोई भी छात्र पैसे की कमी के कारण अशिक्षित नहीं रहना चाहिए यह इस योजना का मुख्य उद्देश है। यह योजना गरीब छात्र को पेशेवर या गैर पेशेवर शैक्षणिक क्षेत्र में अपनी पढ़ाई जारी रखने के लिए वित्तीय सहायता प्रदान करती है।  छात्रों को छात्रवृत्ति योजनाओंकी जानकारी देना, छात्रवृत्तियों के लिए आवेदन करना और छात्रोकी समस्याओंका समाधान करना इस वेबसाइट का उद्देश्य है।

Ashirwad Scholarship Scheme (In English)

 आशिर्वाद छात्रवृत्ति योजना के लाभ:

  • उच्चा शिक्षा के लिए अनुदान: यह योजना दसवीं के बाद के शिक्षा के लिए छात्रों को वित्तीय सहायता देता है।
  • छात्रों को पात्र होने के लिए कुछ शर्तें: छात्रवृत्ति के बारे में सबसे अच्छी बात यह है कि यह केवल पिछड़े समुदाय के छात्र के लिए परिवार की वार्षिक आय की केवल एक शर्त है और प्रतिशत के आधार पर कोई चयन नहीं है।
  • परेशानी मुक्त प्रक्रिया: पंजाब सरकार द्वारा इस योजना की प्रक्रिया पूरी तरह से ऑनलाइन है और छात्रवृत्ति पंजीकरण  और आवेदन ऑनलाइन ही कर सकते है।

आशिर्वाद छात्रवृत्ति योजना के लिए पात्रता:

  • अभिभावक/संरक्षक की वार्षिक आय १ लाख रुपये से अधिक नहीं होनी चाहिए।
  • योजना के लिए आवेदन करने के समय उम्मीदवार उम्र १७ साल से कम नहीं होनी चाहिए।
  • लाभार्थी छात्र पंजाब राज्य का छात्र होना चाहिए।
  • छात्र एससी / एसटी / ओबीसी जाती से होना चाहिए।
  • वह पंजाब में सरकारी या निजी स्कूल / बोर्ड / संस्थान या विश्वविद्यालय से होना चाहिए।

आशिर्वाद छात्रवृत्ति योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज़:

  • उम्मीदवार के माता-पिता / अभिभावक का आय प्रमाण पत्र
  • जाति का प्रमाण पत्र
  • आवासीय सबूत (बिजली बिल, जल कनेक्शन बिल, गैस कनेक्शन बिल, राशन कार्ड, मतदाता पहचान पत्र, आधार कार्ड, पैन कार्ड या ड्राइविंग लाइसेंस)
  • १० वी और १२ वी कक्षा  की गुण पत्रिका
  • संस्थान का शुल्क विवरण जिसमें छात्र वर्तमान में अध्ययन करने का इरादा रखता है
  • बैंक पासबुक (बैंक का नाम, शाखा का नाम, खाता धारक का नाम, आईएफएससी और एमआईसीआर कोड)
  • अभिभावक /माता-पिता से एक हलफनामा प्रमाण पत्र (यदि आवश्यक हो तो व्यक्तिगत रूप से आवेदन भरने के समय सूचित किया जाएगा)
  • संस्थानों की संबद्धता से संबंधित प्रमाण पत्र
  • छात्र की २ पासपोर्ट आकार की तस्वीरें (अधिक प्रतियां रखने से बेहतर)

आशिर्वाद छात्रवृत्ति योजना के लिए आवेदन पत्र:

  • आशिर्वाद छात्रवृत्ति योजना के लिए आवेदन पत्र (आधिकारिक लिंक: punjabscholarships.gov.in) की आधिकारिक वेबसाइट पर उपलब्ध है, छात्र वहां लॉगिन कर सकते है और आवेदन प्रक्रिया पूरी कर सकते है।

आशिर्वाद छात्रवृत्ति योजना के लिए आवेदन की प्रक्रिया:

  • इस योजना के पोर्टल के लिंक punjabscholarships.gov.in पर क्लिक करे।
  • मुख्य पृष्ठ से छात्र कोने का चयन करें।
  • अब लिंक पर क्लिक करके छात्रवृत्ति के मोड का चयन करें।
  • उपयोगकर्ता-आईडी और पासवर्ड के साथ लॉगिन करें जो छात्र ने  खाता बनाने के समय उपयोग किया गया था।
  • आवेदन पत्र में सभी विवरण भरें।
  • सभी दस्तावेज अपलोड करें।
  • इसे जमा करें और पुष्टि के लिए आवेदन पत्र का प्रिंटआउट निकाले।   

अधिक जानकारी के लिए संपर्क: 

  • सामाजिक न्याय और सशक्तिकरण विभाग
  • स्कूल या कॉलेज में छात्र संपर्क कर सकते है

संदर्भ और विवरण:

  • इस योजना के बारे में अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे
  • पंजाब छात्रवृत्ति आधिकारिक वेबसाइट:  punjabscholarships.gov.in

scholarships.gov.in – राष्ट्रीय छात्रवृत्ति पोर्टल (एनएसपी) एंड्रॉइड/मोबाइल ऐप: डाउनलोड करें और ऑनलाइन छात्रवृत्ति अप्लाई करे

केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने भारत देश के अल्पसंख्यक समुदाय के छात्रों के लिए राष्ट्रीय छात्रवृत्ति पोर्टल (एनएसपी) मोबाइल ऐप शुरू किया है। राष्ट्रीय छात्रवृत्ति पोर्टल (एनएसपी) मोबाइल ऐप विभिन्न सरकारी छात्रवृत्ति के बारे में विवरण प्रदान करता है और छात्र सामाजिक कल्याण योजनाओं और छात्रवृत्ति के लिए आवेदन कर सकते है। भारत सरकार ने पहले ही राष्ट्रीय छात्रवृत्ति पोर्टल (एनएसपी) वेबसाइट scholarships.gov.in लांच की है। मोबाइल ऐप के साथ छात्रों को परेशानी मुक्त छात्रवृत्ति प्रणाली प्रदान की जाएगी। एनएसपी एंड्रॉइड/मोबाइल ऐप से सभी छात्र सरकारी छात्रवृत्ति के लाभ के लिए आवेदन कर सकते है और साथ ही विभिन्न जानकारिया प्राप्त करने के लिए पोर्टल और ऐप का उपयोग कर सकते है। छात्रवृत्ति राशि सीधे प्रत्यक्ष लाभ हस्तांतरण / डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर (डीबीटी) प्रणाली  का उपयोग करके छात्रों के बैंक खातों में सीधे स्थानांतरित की जाएंगी।

National Scholarship Portal mobile app (In English)

राष्ट्रीय छात्रवृत्ति पोर्टल (एनएसपी) मोबाइल एप्लीकेशन: गूगल प्ले स्टोर से एनएसपी एप्लीकेशन डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें

राष्ट्रीय छात्रवृत्ति पोर्टल (एनएसपी) मोबाइल ऐप सेवाएं:

  • एनएसपी मोबाइल एप से छात्र विभिन्न छात्रवृतीयोके लिए पात्रता देख सकते है।
  • एनएसपी मोबाइल एप के माध्यम से  छात्रवृत्ति और योजनाओं की जानकारी प्रदान करता है।
  • छात्र विभिन्न छात्रवृत्ति के लिए ऑनलाइन / पंजीकरण  कर सकता है।
  • सभी आवश्यक दस्तावेज अपलोड कर सकते है।
  • छात्र आवेदन की स्थिति और छात्रवृत्ति राशि हस्तांतरण कर सकते है।
  • छात्र आवेदन स्थिति एसएमएस अलर्ट द्वारा प्राप्त कर सकते है।

राष्ट्रीय छात्रवृत्ति पोर्टल मोबाइल ऐप डाउनलोड और पंजीकरण कैसे करें?

  • गूगल प्ले स्टोर से सीधे राष्ट्रीय छात्रवृत्ति पोर्टल मोबाइल एंड्रॉइड ऐप डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें।
  • राष्ट्रीय छात्रवृत्ति आधिकारिक पोर्टल scholarships.gov.in पर जाएं और ऐप डाउनलोड करने के लिए वेबसाइट के ऊपरी दाएं कोने पर गूगल प्ले आइकन पर क्लिक करें।

  • ऐप इंस्टॉल करे और ऐप को खोलें, यहाँ नीचे सभी छात्रवृत्तियां दिखाई जाएगी।
  • यदि आप पहले से ही scholarships.gov.in के साथ पंजीकृत नहीं हैं, तो “Fresh Registration” पर क्लिक करें अन्यथा “Login” पर क्लिक करें, आप ऐप में लॉगिन करने के लिए अपने यूजरनाम और पासवर्ड का उपयोग करें।
  • लॉगिन करने के बाद उपयोगकर्ता सभी योजनाओं को देखने और उनके लिए आवेदन कर सकते है।

राष्ट्रीय छात्रवृत्ति पोर्टल (एनएसपी) मोबाइल ऐप की मुख्य विशेषताएं:

  • केंद्र और राज्य सरकारों, मंत्रालयों और विभागों द्वारा शुरू की गई सभी कल्याणकारी योजनाओं और छात्रवृत्ति के लिए एक ऐप है।
  • इस योजना के माध्यम  सभी छात्रों को समय-समय पर छात्रवृत्ति के बारे में जानकारी प्रदान की जाएगी।
  • छात्र को इस ऐप के माध्यम से नकली छात्रवृत्ति आवेदन वेबसाइट से बचाया जाएगा।
  • इस ऐप के तहत छात्रों को विविध सुविधा प्रदान की जाएगी।
  • इस ऐप के तहत जरूरतमंद छात्रों को छात्रवृत्ति प्रदान की जाएगी।
  • ऐप और वेबसाइट दूरस्थ क्षेत्रों, गांवों, पहाड़ी क्षेत्रों, उत्तर-पूर्व क्षेत्र के छात्रों के लिए करता है।
  • सरकारी छात्रवृत्ति योजनाओं के साथ लगभग ३ करोड़ छात्र को अभी तक लाभान्वित किया है।
  • इस योजना के तहत १,६३  करोड़ लड़कियों को  छात्रवृत्ति का लाभ मिला रहा है।
  • मुस्लिम लड़कियों की ड्रॉप आउट दर ७०% से ३५-४० % तक कम हुई है।