अम्बेडकर प्रवासी विद्या निधि

तेलंगाना सरकार ने राज्य के अनुसूचित जाति (एससी) और अनुसूचित जनजाति (एसटी) के छात्रों के लिए छात्रवृत्ति योजना शुरू की है जिसे अम्बेडकर प्रवासी विद्या निधि कहा जाता है। योजना के तहत छात्रों को विदेश में अध्ययन करने के लिए अनुदान दिया जाएंगा। तेलंगाना सरकार के समाज कल्याण विभाग ने इस योजना को लागू किया है। इस योजना का मुख्य उद्देश्य सामाजिक और आर्थिक रूप से पिछड़े वर्गों के छात्रों को शिक्षा के समान अवसर प्रदान करना है।

                                                                                          Ambedkar Overseas Vidhya Nidhi (In English)

अम्बेडकर प्रवासी विद्या निधि

  • राज्य: तेलंगाना
  • लाभ: विदेशी विश्वविद्यालयों में उच्च शिक्षा के लिए छात्रवृत्ति
  • लाभार्थी: अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति श्रेणियों के छात्र
  • आधिकारिक वेबसाइट: www.telanganaepass.cgg.gov.in

लाभ:

  • छात्रों को शिक्षा शुल्क, रहने के खर्च, वीजा और इकोनॉमी क्लास एयर-टिकट के लिए १० लाख रुपये की छात्रवृत्ति
  • राष्ट्रीयकृत बैंकों से ५ लाख रुपये तक शैक्षिक ऋण

छात्रवृत्ति के लिए पात्रता:

  • यह योजना तेलंगाना राज्य के छात्रों के लिए ही लागू है।
  • अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति श्रेणियों के छात्रों के लिए ही यह योजना लागू है।
  • आय सीमा: आवेदक की पारिवार की वार्षिक आय २.५ लाख रुपये से कम होनी चाहिए।
  • आयु सीमा: आवेदन की आयु १ जुलाई तक ३५ साल से कम होनी चाहिए।
  • शिक्षा: पात्रता परीक्षा में छात्रों को कम से कम ६०% अंक होने चाहिए।
  • एक परिवार से एक ही बच्चे को छात्रवृत्ति दी जाएगी।
  • आवेदनकर्ता के पास वैध टीओईएफएल / आईईएलटीएस और जीआरई / जीएमएटी परीक्षा का स्कोर होना चाहिए।
  • आवेदक के पास विदेशी विश्वविद्यालय प्रवेश का प्रस्ताव होना चाहिए।

आवश्यक दस्तावेजों की सूची:

  • स्कैन की गई तस्वीर
  • पासपोर्ट की प्रति
  • जन्म प्रमाण पत्र
  • आधार कार्ड
  • इ-पासपोर्ट पहचान पत्र का नंबर
  • निवासी प्रमाण पत्र
  • जाति प्रमाण पत्र
  • परिवार का आय प्रमाण पत्र
  • सभी पात्रता परीक्षा की गुण पत्रिका
  • आवेदनकर्ता के पास वैध टीओईएफएल / आईईएलटीएस और जीआरई / जीएमएटी परीक्षा का स्कोर होना चाहिए
  • विदेशी विद्यालय प्रवेश का प्रस्ताव पत्र
  • आयकर आकलन की प्रति
  • राष्ट्रीयकृत बैंक पासबुक की प्रति

पात्र देश: संयुक्त राज्य अमेरिका, ब्रिटेन, ऑस्ट्रेलिया, सिंगापुर और कनाडा आदि देश इस योजना के लिए पात्र है।

अनुसूचित जाति (एसी) और अनुसूचित जनजाति (एसटी) के छात्रों लिए अंबेडकर प्रवासी विद्या निधि ऑनलाइन आवेदन और स्थिति कैसे जाँच करे?

  • अम्बेडकर प्रवासी विद्या निधि के पंजीकरण में जाने के लिए यहाँ क्लिक करें।
  • आवेदन पत्र को पूरी तरह से भरें।
  • सभी आवश्यक दस्तावेज अपलोड करें।
  • आवेदन जमा करें और भविष्य के संदर्भ के लिए आवेदन नंबर को नोट करे।
  • आवेदन की स्थिति की जांच करने के लिए यहां क्लिक करें।
  • आवेदन नंबर के साथ आवश्यक विवरण प्रदान करें और विवरण प्राप्त करें।

महात्मा ज्योतिबा फुले प्रवासी विद्या निधि योजना

तेलंगाना सरकार ने राज्य के बीसी और ईबीसी छात्रों के लिए महात्मा ज्योतिबा फुले प्रवासी विद्या निधि योजना शुरू की है। इस योजना के माध्यम से राज्य के पिछड़े एवं अतिपिछड़े छात्रों को विदेश में अध्ययन के लिए वित्तीय सहायता प्रदान की जाएंगी। राज्य के पिछड़े समुदाय के सभी छात्र इस योजना के तहत पात्र है। इस योजना का प्राथमिक उद्देश्य बीसी और ईबीसी छात्रों को शिक्षा के समान अवसर प्रदान करना है। सरकार चयनित लाभार्थियों को ट्यूशन फीस, एक तरफा इकोनॉमी क्लास एयर टिकट, और वीज़ा शुल्क के लिए अनुदान प्रदान करती है।

Mahatama Jyothiba Phule Overseas Vidhya Nidhi(In English)

 महात्मा ज्योतिबा फुले प्रवासी विद्या निधि योजना

  • राज्य: तेलंगाना
  • लाभ: उच्च शिक्षा के लिए वित्तीय सहायता
  • लाभार्थी: पिछड़े वर्ग के छात्र
  • आधिकारिक वेबसाइट: www.telanganaepass.gov.in

लाभ:

  • छात्रों को २० लाख रुपये तक का अनुदान दिया जाएंगा।
  • अनुदान में ट्यूशन फीस, इकोनॉमी क्लास एयर-टिकट और वीज़ा शुल्क शामिल रहेंगा।

पात्रता:

  • केवल तेलंगाना राज्य के स्थायी निवासी छात्र इस योजना के लिए पात्र है।
  • छात्रों के परिवार की वार्षिक आय ५ लाख रुपये से अधिक नहीं होनी चाहिए।
  • राज्य के केवल बीसी और ईबीसी छात्रों के लिए यह योजना लागू है।
  • आवेदनकर्ता के पास वैध टीओईएफएल / आईईएलटीएस और जीआरई / जीएमएटी परीक्षा का स्कोर होना चाहिए।
  • टीओईएफएल: ८०
  • आईईएलटीएस: ६.५
  • जीआरई: २८०
  • जीएमएटी: ५५०
  • आयु सीमा: आवेदन की वर्ष १ जुलाई को कम से कम ३० साल की आयु के लिए।
  • छात्र के पास विदेशी विश्वविद्यालय का प्रवेश प्रस्ताव पत्र होना चाहिए।

आवश्यक दस्तावेजों की सूची:

  • परिवार का आय प्रमाण पत्र
  • जाति प्रमाण पत्र
  • आधार कार्ड
  • जन्म प्रमाण पत्र
  • निवासी  प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट की प्रति
  • सभी पात्रता परीक्षा की गुण पत्रिका
  • बैंक पासबुक की प्रति
  • आयकर आकलन की प्रति
  • स्कैन की गई तस्वीर
  • प्रवेश प्रस्ताव पत्र

संयुक्त राज्य अमेरिका, ब्रिटेन, ऑस्ट्रेलिया, कनाडा, सिंगापुर, जर्मनी, न्यूजीलैंड, जापान, फ्रांस, और दक्षिण कोरिया आदि जैसे देशो के विश्वविद्यालय इस योजना का का हिस्सा है। इच्छुक छात्र इन देशों के अधिकांश मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालयों में आवेदन कर सकते है।

महात्मा ज्योतिबा फुले प्रवासी विद्या निधि योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करें?

  • आधिकारिक वेबसाइट पर जाने के लिए यहां क्लिक करें
  • आवेदनकर्ता खुदको  पंजीकृत करे।
  • आवेदन पत्र को पूरी तरह से भरे।
  • आवेदक तस्वीर के साथ सभी आवश्यक दस्तावेजों की स्कैन की हुई प्रतियाँ अपलोड करें।
  • आवेदन पूरा करने के लिए आगे के निर्देशनों का पालन करें

महात्मा ज्योतिबा फुले प्रवासी विद्या निधि की आवेदन की स्थिति जाँच करे:

  • आवेदक अपने आवेदन स्थिति की जांच और चयनित छात्रों की सूची को ईएपीएस की आधिकारिक वेबसाइट पर ऑनलाइन देख सकते है।
  • यहां क्लिक करें और आवेदन नंबर के साथ आवश्यक विवरण दर्ज करें और विवरण प्राप्त जानकारी बटन  पर क्लिक करें।

मुख्यमंत्री प्रवासी छात्रवृत्ति योजना / अल्पसंख्यकों के लिए प्रवासी अध्ययन योजना

तेलंगाना सरकार ने राज्य में अल्पसंख्यक छात्रों के लिए मुख्यमंत्री प्रवासी छात्रवृत्ति योजना / अल्पसंख्यक अध्ययन योजना शुरू की है। इस योजना के तहत अल्पसंख्यक वर्ग के छात्रों को विदेशी विश्वविद्यालयों में उच्च शिक्षा के लिए छात्रवृत्ति प्रदान की जाएगी। सरकार का मुख्य उद्देश्य अल्पसंख्यक वर्ग के गरीब छात्रों को समान अवसर प्रदान करना है, इस योजना से उन्हें गुणवत्तापूर्ण शिक्षा मिलेगी और उनके जीवन स्तर में सुधार होगा। हर साल ५०० चयनित छात्रों को अनुदान दिया जाएगा।

Chief Minister’s Overseas Scholarship Scheme (In English)

मुख्यमंत्री प्रवासी छात्रवृत्ति योजना / अल्पसंख्यक अध्ययन योजना

  • राज्य: तेलंगाना
  • लाभ: विदेश में उच्च शिक्षा के अध्ययन के लिए छात्रवृत्ति
  • लाभार्थी: अल्पसंख्यक वर्ग के छात्र
  • सरकारी वेबसाइट: www.telanganaepass.cgg.gov.in

लाभ:

  • अल्पसंख्यक वर्ग के छात्रों को ट्यूशन फीस, रहने का खर्च, वीज़ा का शुल्क आदि के लिए १०,००० रुपये राशी  का अनुदान प्रदान किया जाएंगा।
  • राष्ट्रीयकृत बैंकों से ५  लाख रुपये तक का ऋण प्रदान किया जाएंगा।

पात्रता:

  • यह योजना केवल तेलंगाना राज्य के स्थायी निवासियों के लिए ही लागू होती है
  • केवल अल्पसंख्यक छात्रों के यह योजना लागू है।
  • केवल स्नातकोत्तर और पीएच.डी. के पढाई के लिए यह योजना लागू  है।
  • आय सीमा: आवेदक की पारिवार की वार्षिक आय २ लाख रुपये से कम होना चाहिए।
  • आयु सीमा: आवेदक की आयु ३० साल के निचे होनी चहिए।
  • आवेदक पात्रता परीक्षाओं में कम से कम ६०% गुण होने चाहिए।
  • परिवार में का केवल एक बच्चा इस योजना का योजना का लाभ प्राप्त कर सकता है।
  • आवेदनकर्ता के पास वैध टीओईएफएल / आईईएलटीएस और जीआरई / जीएमएटी परीक्षा का स्कोर होना चाहिए।
  • संयुक्त राज्य अमेरिका, ब्रिटेन, ऑस्ट्रेलिया, कनाडा और सिंगापुर के विश्वविद्यालय इस योजना के तहत पात्र है।
  • इच्छुक छात्र इन देशों के अधिकांश मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालयों में आवेदन कर सकते है।

आवश्यक दस्तावेजों की सूची:

  • वैध पासपोर्ट की प्रति
  • जन्म प्रमाण पत्र
  • जाती का प्रमाणपत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • स्कैन की गई पासपोर्ट आकर की तस्वीर
  • आधार कार्ड
  • निवासी प्रमाणपत्र
  • ई पासपोर्ट पहचान पत्र का नंबर
  • पात्रता परीक्षा की गुणपत्रिका
  • वैध टीओईएफएल / आईईएलटीएस और जीआरई / जीएमएटी परीक्षा का स्कोर कार्ड
  • विदेशी विद्यालय प्रवेश का प्रस्ताव पत्र
  • नवीनतम कर निर्धारण की प्रति
  • बैंक पासबुक की प्रति

मुख्यमंत्री प्रवासी छात्रवृत्ति योजना / अल्पसंख्यकों के लिए प्रवासी अध्ययन योजना के लिए आवेदन और स्थिति की जाच कैसे करें?

  • प्रवासी छात्रवृत्ति योजना के पंजीकरण करने के लिए यहा क्लिक करे।
  • आवेदन पत्र को पूरी तरह से भरे।
  • तस्वीर के साथ सभी आवश्यक दस्तावेजों की स्कैन की हुई प्रतियाँ अपलोड करें।
  • आवेदन पत्र को जमा करें। आवेदन पत्र संदर्भ नंबर पर ध्यान दें। यह नंबर आपके आवेदन पत्र  की आगे की प्रक्रिया के लिए यह आवश्यक है।
  • अपने छात्रवृत्ति आवेदन की स्थिति की जांच करने के लिए यहां क्लिक करें।
  • स्थिति प्राप्त करने के लिए आवेदन पत्र नंबर और अन्य विवरण दर्ज करें।

डिग्री और मास्टर डिग्री पाठ्यक्रमों के लिए संयुक्त मेरिट छात्रवृत्ति:

उच्चतर माध्यमिक परीक्षा में छात्रों द्वारा प्राप्त अंकों के अनुसार छात्रवृत्ति पुरस्कार के लिए पात्र छात्रों का चयन करने के लिए असम सरकार (मानव संसाधन और विकास मंत्रालय) द्वारा डिग्री और मास्टर डिग्री पाठ्यक्रमों के लिए संयुक्त मेरिट छात्रवृत्ति शुरू की गई है। उस छात्रवृत्ति योजना का मुख्य उद्देश्य असम राज्य के मेधावी छात्रों को उच्चतर माध्यमिक परीक्षा के बाद उनकी शिक्षा जारी रखने के लिए वित्तीय सहायता प्रदान करना है। छात्रों को डिग्री और मास्टर डिग्री पाठ्यक्रमों को आगे बढ़ाने के लिए छात्रवृत्ति योजना शुरू की गई है। छात्रवृत्ति केवल अच्छे शैक्षिक अभिलेख वाले छात्रों को प्रदान की जाएगी और जिन्होंने न्यूनतम ६०% अंक प्राप्त किए है और वह छात्र असम राज्य के निवासी है, ताकि वह छात्र अपने सपनों को पूरा कर सकें। छात्रों को इस छात्रवृत्ति का लाभ उठाने के लिए एक अच्छा शैक्षिक अभिलेख और नियमित उपस्थिति प्रदान करनी होंगी।

                              Combined Merit Scholarship For Degree & Master Degree Courses (In English)

डिग्री और मास्टर डिग्री पाठ्यक्रमों के लिए संयुक्त मेरिट छात्रवृत्ति के लाभ:

  • डिग्री और मास्टर डिग्री पाठ्यक्रमों के लिए संयुक्त मेरिट छात्रवृत्ति छात्रों को वित्तीय सहायता के रूप में लाभ प्रदान करती है। वित्तीय सहायता और अन्य लाभों की संरचना नीचे उल्लिखित है।
  • डिग्री कोर्स के लिए छात्रवृत्ति राशि: १५० रुपये प्रति माह प्रदान की जाएंगी।
  •  मास्टर डिग्री कोर्स के लिए छात्रवृत्ति: २५० प्रति माह प्रदान की जाएंगी।
  • डिग्री कोर्स के लिए २०० रुपये और पोस्ट ग्रेजुएट कोर्स के लिए १०० रुपये छात्रवृत्ति है।

डिग्री और मास्टर डिग्री पाठ्यक्रमों के लिए संयुक्त छात्रवृत्ति लागू करने के लिए आवश्यक पात्रता और शर्तें:

  •  उम्मीदवार असम राज्य का स्थायी निवासी होना चाहिए।
  • छात्रवृत्ति पुरस्कार का आवेदन करने वाले छात्रों को किसी भी राष्ट्रीयकृत बैंक में खाता खोलना होगा।
  • उम्मीदवार छात्रवृत्ति के लिए पात्र है जिनके पास अच्छे शैक्षिक अभिलेख है और जिन्होंने पिछली पात्रता परीक्षाओं (एचएस/ टीडीसी) में न्यूनतम ६०% अंक प्राप्त किए है। केवल उन छात्रों के लिए है जिनके पास अच्छे  शैक्षिक अभिलेख है और जिन्होंने पात्रता परीक्षा में न्यूनतम ६०% अंक प्राप्त किए है।

डिग्री और मास्टर डिग्री पाठ्यक्रमों के लिए संयुक्त मेरिट छात्रवृत्ति आवेदन करने के लिए आवश्यक दस्तावेज:

  • आधार कार्ड
  • छात्र के पास एचएसएलसी परीक्षा से डीएचई तक मार्क शीट होना चाहिए।
  • छात्र के सभी स्कूल शिक्षा प्रमाणपत्र और कॉलेज प्रमाणपत्र या मार्कशीट होनी चाहिए।
  • १० वीं, १२ वीं, एच.एस.एल.सी., एच.एस., टी.डी.सी. की मार्कशीट होनी चाहिए।
  • आवेदक का अधिवास प्रमाण पत्र होना चाहिए।
  • छात्र का जन्म प्रमाण पत्र होना चाहिए।
  • आवेदक के माता-पिता का आय प्रमाण पत्र होना चाहिए।
  • छात्र का जाति प्रमाण पत्र होना चाहिए।
  • उम्मीदवारों के पते का प्रमाण जैसे की निवास प्राधिकरण का प्रमाण पत्र होना चाहिए।
  • कॉलेज का प्रमाण पत्र जिसमें उम्मीदवार दिखाई दे रहा है।
  • आवेदक के पास बैंक विवरण, आयएफएससी  कोड, एमआयसीआर कोड, खाता नंबर, खाता धारक का नाम, शाखा का नाम, बैंक का नाम होना चाहिए।
  • आवेदक की २ पासपोर्ट आकर की तस्वीर होनी चाहिए।

आवेदन की प्रक्रिया:

  • असम उच्चतर माध्यमिक शिक्षा परिषद, असम  छात्र के घोषणा परिणाम के बाद छात्र आवेदन पत्र को आधिकारिक वेबसाइट http://www.dheassam.gov.in या अगले http://dheassam.gov.in/circulars-1/Advertisement%20for%20Combined%20Merit%20Scholarship.pdf  से ऑनलाइन डाउनलोड कर सकते है और उम्मीदवार छात्रवृत्ति से संबंधित किसी भी नए विज्ञापन के लिए  http://www.dheassam.gov.in/circulars_1.asp लिंक पर खोज सकते है।
  • डाउनलोड करने के बाद दिनांक और मुहर के साथ संस्था प्रमुख के हस्ताक्षर के साथ आवेदन को ठीक तरह से भरें। फिर उम्मीदवारों को एचएसएलसी से सभी प्रमाणपत्र और मार्कशीट के साथ  उच्चतर शिक्षा निदेशक, असम, काहिलीपारा, गुवाहाटी के लिए परीक्षा – ७८१०१९ पर रजिस्ट्रार / विभागाध्यक्ष और विश्वविद्यालय के संबंधित पर्यवेक्षक / मार्गदर्शिका पर आवेदन करना होंगा।

संपर्क विवरण:

  • आवेदक आवेदन पत्र को पूरी तरह से भरे और दस्तावेजों के साथ उल्लेखित पते पर भेज सकते  है:
  • उच्च शिक्षा निदेशालय काहिलीपारा, गुवाहाटी ७८१०१९ ई-मेल: dhe-asm@nic.in

संदर्भ और विवरण:

  • दस्तावेज़ के बारे में अधिक जानकारी और अन्य मदत के लिए कृपया निचे दिए गए वेबसाइट को देखे: http://www.dheassam.gov.in/scholarship.asp 
  • http://dheassam.gov.in/circulars-1/Advertisement%20for%20Combined%20Merit%20Scholarship.pdf

 

 

मुख्यमंत्री अर्बन लीडर फ़ेलोशिप प्रोग्राम (सीएमयुएलएफ) दिल्ली: cmulf.dtu.ac.in रजिस्ट्रेशन, ऑनलाइन फॉर्म, आवेदन की प्रक्रिया और लॉगिन

दिल्ली सरकार ने राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में कुछ महत्वपूर्ण मुद्दों में भाग लेने और हल करने के लिए युवाओं की मदत लेने के लिए  मुख्यमंत्री अर्बन लीडर फ़ेलोशिप प्रोग्राम (सीएमयूएलएफ) की शुरुआत की है। युवा नवप्रवर्तनक और सामाजिक नेता कार्यक्रम में भाग ले सकते है और सरकार की चुनौतियों में से कुछ चुनौतियों पर काम कर सकते है ।लाभार्थी को प्रति माह १.२५ लाख रुपये की फेलोशिप  प्रदान की जाएंगी।

                                                  Chief Minister’s Urban Leaders Fellowship Programme  (In English)

 

मुख्यमंत्री अर्बन लीडर फैलोशिप  प्रोग्राम (सीएमयूएलएफ):

  • दिल्ली सरकार द्वारा युवाओं के लिए एक फैलोशिप कार्यक्रम है।
  •  भारत देश के सामाजिक युवा इस योजना में  भाग ले सकते है।
  • देश के युवाओं को दिल्ली सरकार और सार्वजनिक सेवा के साथ काम करने का अवसर मिलेगा।
  • शहरी भारत  का सामना करने वाली प्रमुख समस्याओं और चुनौतियों का समाधान करने का प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा।

 मुख्यमंत्री अर्बन लीडर फैलोशिप  प्रोग्राम (सीएमयूएलएफ) की मुख्य विशेषताएं:

  • फैलोशिप विभिन्न विभागों के मंत्रियों और वरिष्ठ सामाजिक अधिकारियों के साथ काम करने का मौका मिलेंगा।

कार्य की प्रकृति:

  • उन्हें शिक्षा, स्वास्थ्य, जल प्रबंधन, पर्यावरण, कला और संस्कृति, परिवहन आदि से संबंधित चुनौतियां दी जाएंगी।
  •  उन्हें मुद्दों का विश्लेषण करने और अभिनव समाधानों के साथ आने की आवश्यकता है।
  • विभिन्न नीतियों, पहल और परियोजनाओं के निर्माण के साथ सरकार मदत करेंगी।

पद:

  • अध्येताओं (२० पद)
  • सहायता अध्येताओं (१० पद)

मानधन:

  • अध्येताओं के उम्मीदवार को १.२५ प्रति माह रुपये प्रदान किये जाएंगे।
  • सहायक पदों के उम्मीदवार को ७५,००० प्रति माह रुपये प्रदान किये जाएंगे।

अवधि :

  • कार्यक्रम का कार्यकाल २  साल का है।

दिल्ली सरकार दिल्ली की विभिन्न समस्याओं का समाधान करने में अभिनव रही है। आम आदमी नेतृत्व में सरकार को कई पहलुओं के लिए पहचाना गया है, जैसे स्कूलों में खुशी पाठ्यक्रम, सरकारी स्कूलों में परिवर्तन, मोहाला क्लीनिक में उच्च गुणवत्ता वाली प्राथमिक स्वास्थ्य देखभाल, भारत देश में सबसे कम दरो पर २४ x ७  बिजली और सरकार के घरेलू वितरण सेवाएं प्रदान करती है। सरकार लोकप्रिय शब्द “परिवर्तन करना” दील्ली शासन क्रान्ति  के  लिए अपनी नीतियों का प्रचार कर रही है।

मुख्यमंत्री अर्बन लीडर फैलोशिप  प्रोग्राम (सीएमयूएलएफ) के लिए पात्रता और कौन आवेदन कर सकता है:

  • कोई भी भारतीय नागरिक इस योजना के लिए आवेदन कर सकता है।
  • आयु: आवेदक की उम्र २१ से ३५ वर्ष के आयु वर्ग के बीच होनी चाहिए।

अध्येताओं:

  • उम्मीदवार को पीएच.डी. का अनुभव एक वर्ष होना चाहिए।
  • उम्मीदवार को न्यूनतम ६० % अंकों के साथ स्नातकोत्तर और न्यूनतम ३ साल का अनुभव होना चाहिए।
  • स्नातक न्यूनतम ६० % अंकों के साथ स्नातक और न्यूनतम ५ साल का अनुभव होना चाहिए।

सहायता अध्येताओं:

  • उम्मीदवार को कम से कम ६०% अंक के साथ स्नातकोत्तर और न्यूनतम ५ साल का अनुभव होना चाहिए।
  • उम्मीदवार को कम से कम ६०% अंक के साथ स्नातक और न्यूनतम १ साल का अनुभव होना चाहिए।

सीएमयूएलएफ की महत्वपूर्ण तिथियां:

  • आवेदन की समय सीमा / आवेदन की अंतिम तिथि: ४ नवंबर २०१८
  •  पहली शॉर्टलिस्ट की घोषणा: १५ नवंबर २०१८
  • अंतिम साक्षात्कार: २६ और २७ नवंबर २०१८
  • अंतिम सूची की घोषणा: १५ नवंबर २०१८
  • चयनित उम्मीदवारों के लिए अंतिम तारीख प्रस्ताव को स्वीकार करने के लिए: ०७  दिसंबर २०१८
  • फैलोशिप कार्यक्रम कब शुरू होता है: ७ जनवरी २०१९

 मुख्यमंत्री अर्बन लीडर फैलोशिप  प्रोग्राम (सीएमयूएलएफ): पंजीकरण, आवेदन पत्र, ऑनलाइन आवेदन और लॉगिन कैसे करे:

  • मुख्यमंत्री अर्बन लीडर फैलोशिप  प्रोग्राम (सीएमयूएलएफ) के लिए पंजीकरण करने के लिए यहां क्लिक करें।
  • अपना नाम, ईमेल आईडी, पासवर्ड, कैप्चा के लिए आवेदन करने के लिए पोस्ट करें और सबमिट बटन पर क्लिक करें।
  •  सफल पंजीकरण पर लॉगिन करने के लिए यहां क्लिक करें।
  •  लॉगिन पर सीएमयूएलएफ साथी और सहायता साथी के लिए आवेदन पत्र का चयन करें।
  • आवेदन पत्र भरें सभी जरूरी विवरण प्रदान करें और यदि आवश्यक हो तो दस्तावेज अपलोड करें और जमा करें।

 

 

 

आशिर्वाद छात्रवृत्ति योजना (एएससी) / punjabscholarships.gov.in: आवेदन पत्र, पात्रता, आवेदन की प्रक्रिया और आवश्यक दस्तावेज

आशिर्वाद छात्रवृत्ति योजना (एएससी) एससी / एसटी / ओबीसी और अल्पसंख्यक छात्रों के कल्याण के लिए पंजाब सरकार द्वारा पूर्व-मैट्रिक और पोस्ट-मैट्रिक छात्रवृत्ति प्रदान करने के लिए योजना है। असल में आशिर्वाद (punjabscholarships.gov.in) नाम का पोर्टल पंजाब सरकार द्वारा शुरू की है जहां छात्र आशिर्वाद योजना के तहत दोनों छात्रवृत्ति के लिए आवेदन पत्र भर सकते है। राज्य का पिछड़ा समुदाय का कोई भी छात्र पैसे की कमी के कारण अशिक्षित नहीं रहना चाहिए यह इस योजना का मुख्य उद्देश है। यह योजना गरीब छात्र को पेशेवर या गैर पेशेवर शैक्षणिक क्षेत्र में अपनी पढ़ाई जारी रखने के लिए वित्तीय सहायता प्रदान करती है।  छात्रों को छात्रवृत्ति योजनाओंकी जानकारी देना, छात्रवृत्तियों के लिए आवेदन करना और छात्रोकी समस्याओंका समाधान करना इस वेबसाइट का उद्देश्य है।

Ashirwad Scholarship Scheme (In English)

 आशिर्वाद छात्रवृत्ति योजना के लाभ:

  • उच्चा शिक्षा के लिए अनुदान: यह योजना दसवीं के बाद के शिक्षा के लिए छात्रों को वित्तीय सहायता देता है।
  • छात्रों को पात्र होने के लिए कुछ शर्तें: छात्रवृत्ति के बारे में सबसे अच्छी बात यह है कि यह केवल पिछड़े समुदाय के छात्र के लिए परिवार की वार्षिक आय की केवल एक शर्त है और प्रतिशत के आधार पर कोई चयन नहीं है।
  • परेशानी मुक्त प्रक्रिया: पंजाब सरकार द्वारा इस योजना की प्रक्रिया पूरी तरह से ऑनलाइन है और छात्रवृत्ति पंजीकरण  और आवेदन ऑनलाइन ही कर सकते है।

आशिर्वाद छात्रवृत्ति योजना के लिए पात्रता:

  • अभिभावक/संरक्षक की वार्षिक आय १ लाख रुपये से अधिक नहीं होनी चाहिए।
  • योजना के लिए आवेदन करने के समय उम्मीदवार उम्र १७ साल से कम नहीं होनी चाहिए।
  • लाभार्थी छात्र पंजाब राज्य का छात्र होना चाहिए।
  • छात्र एससी / एसटी / ओबीसी जाती से होना चाहिए।
  • वह पंजाब में सरकारी या निजी स्कूल / बोर्ड / संस्थान या विश्वविद्यालय से होना चाहिए।

आशिर्वाद छात्रवृत्ति योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज़:

  • उम्मीदवार के माता-पिता / अभिभावक का आय प्रमाण पत्र
  • जाति का प्रमाण पत्र
  • आवासीय सबूत (बिजली बिल, जल कनेक्शन बिल, गैस कनेक्शन बिल, राशन कार्ड, मतदाता पहचान पत्र, आधार कार्ड, पैन कार्ड या ड्राइविंग लाइसेंस)
  • १० वी और १२ वी कक्षा  की गुण पत्रिका
  • संस्थान का शुल्क विवरण जिसमें छात्र वर्तमान में अध्ययन करने का इरादा रखता है
  • बैंक पासबुक (बैंक का नाम, शाखा का नाम, खाता धारक का नाम, आईएफएससी और एमआईसीआर कोड)
  • अभिभावक /माता-पिता से एक हलफनामा प्रमाण पत्र (यदि आवश्यक हो तो व्यक्तिगत रूप से आवेदन भरने के समय सूचित किया जाएगा)
  • संस्थानों की संबद्धता से संबंधित प्रमाण पत्र
  • छात्र की २ पासपोर्ट आकार की तस्वीरें (अधिक प्रतियां रखने से बेहतर)

आशिर्वाद छात्रवृत्ति योजना के लिए आवेदन पत्र:

  • आशिर्वाद छात्रवृत्ति योजना के लिए आवेदन पत्र (आधिकारिक लिंक: punjabscholarships.gov.in) की आधिकारिक वेबसाइट पर उपलब्ध है, छात्र वहां लॉगिन कर सकते है और आवेदन प्रक्रिया पूरी कर सकते है।

आशिर्वाद छात्रवृत्ति योजना के लिए आवेदन की प्रक्रिया:

  • इस योजना के पोर्टल के लिंक punjabscholarships.gov.in पर क्लिक करे।
  • मुख्य पृष्ठ से छात्र कोने का चयन करें।
  • अब लिंक पर क्लिक करके छात्रवृत्ति के मोड का चयन करें।
  • उपयोगकर्ता-आईडी और पासवर्ड के साथ लॉगिन करें जो छात्र ने  खाता बनाने के समय उपयोग किया गया था।
  • आवेदन पत्र में सभी विवरण भरें।
  • सभी दस्तावेज अपलोड करें।
  • इसे जमा करें और पुष्टि के लिए आवेदन पत्र का प्रिंटआउट निकाले।   

अधिक जानकारी के लिए संपर्क: 

  • सामाजिक न्याय और सशक्तिकरण विभाग
  • स्कूल या कॉलेज में छात्र संपर्क कर सकते है

संदर्भ और विवरण:

  • इस योजना के बारे में अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे
  • पंजाब छात्रवृत्ति आधिकारिक वेबसाइट:  punjabscholarships.gov.in

scholarships.gov.in – राष्ट्रीय छात्रवृत्ति पोर्टल (एनएसपी) एंड्रॉइड/मोबाइल ऐप: डाउनलोड करें और ऑनलाइन छात्रवृत्ति अप्लाई करे

केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने भारत देश के अल्पसंख्यक समुदाय के छात्रों के लिए राष्ट्रीय छात्रवृत्ति पोर्टल (एनएसपी) मोबाइल ऐप शुरू किया है। राष्ट्रीय छात्रवृत्ति पोर्टल (एनएसपी) मोबाइल ऐप विभिन्न सरकारी छात्रवृत्ति के बारे में विवरण प्रदान करता है और छात्र सामाजिक कल्याण योजनाओं और छात्रवृत्ति के लिए आवेदन कर सकते है। भारत सरकार ने पहले ही राष्ट्रीय छात्रवृत्ति पोर्टल (एनएसपी) वेबसाइट scholarships.gov.in लांच की है। मोबाइल ऐप के साथ छात्रों को परेशानी मुक्त छात्रवृत्ति प्रणाली प्रदान की जाएगी। एनएसपी एंड्रॉइड/मोबाइल ऐप से सभी छात्र सरकारी छात्रवृत्ति के लाभ के लिए आवेदन कर सकते है और साथ ही विभिन्न जानकारिया प्राप्त करने के लिए पोर्टल और ऐप का उपयोग कर सकते है। छात्रवृत्ति राशि सीधे प्रत्यक्ष लाभ हस्तांतरण / डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर (डीबीटी) प्रणाली  का उपयोग करके छात्रों के बैंक खातों में सीधे स्थानांतरित की जाएंगी।

National Scholarship Portal mobile app (In English)

राष्ट्रीय छात्रवृत्ति पोर्टल (एनएसपी) मोबाइल एप्लीकेशन: गूगल प्ले स्टोर से एनएसपी एप्लीकेशन डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें

राष्ट्रीय छात्रवृत्ति पोर्टल (एनएसपी) मोबाइल ऐप सेवाएं:

  • एनएसपी मोबाइल एप से छात्र विभिन्न छात्रवृतीयोके लिए पात्रता देख सकते है।
  • एनएसपी मोबाइल एप के माध्यम से  छात्रवृत्ति और योजनाओं की जानकारी प्रदान करता है।
  • छात्र विभिन्न छात्रवृत्ति के लिए ऑनलाइन / पंजीकरण  कर सकता है।
  • सभी आवश्यक दस्तावेज अपलोड कर सकते है।
  • छात्र आवेदन की स्थिति और छात्रवृत्ति राशि हस्तांतरण कर सकते है।
  • छात्र आवेदन स्थिति एसएमएस अलर्ट द्वारा प्राप्त कर सकते है।

राष्ट्रीय छात्रवृत्ति पोर्टल मोबाइल ऐप डाउनलोड और पंजीकरण कैसे करें?

  • गूगल प्ले स्टोर से सीधे राष्ट्रीय छात्रवृत्ति पोर्टल मोबाइल एंड्रॉइड ऐप डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें।
  • राष्ट्रीय छात्रवृत्ति आधिकारिक पोर्टल scholarships.gov.in पर जाएं और ऐप डाउनलोड करने के लिए वेबसाइट के ऊपरी दाएं कोने पर गूगल प्ले आइकन पर क्लिक करें।

  • ऐप इंस्टॉल करे और ऐप को खोलें, यहाँ नीचे सभी छात्रवृत्तियां दिखाई जाएगी।
  • यदि आप पहले से ही scholarships.gov.in के साथ पंजीकृत नहीं हैं, तो “Fresh Registration” पर क्लिक करें अन्यथा “Login” पर क्लिक करें, आप ऐप में लॉगिन करने के लिए अपने यूजरनाम और पासवर्ड का उपयोग करें।
  • लॉगिन करने के बाद उपयोगकर्ता सभी योजनाओं को देखने और उनके लिए आवेदन कर सकते है।

राष्ट्रीय छात्रवृत्ति पोर्टल (एनएसपी) मोबाइल ऐप की मुख्य विशेषताएं:

  • केंद्र और राज्य सरकारों, मंत्रालयों और विभागों द्वारा शुरू की गई सभी कल्याणकारी योजनाओं और छात्रवृत्ति के लिए एक ऐप है।
  • इस योजना के माध्यम  सभी छात्रों को समय-समय पर छात्रवृत्ति के बारे में जानकारी प्रदान की जाएगी।
  • छात्र को इस ऐप के माध्यम से नकली छात्रवृत्ति आवेदन वेबसाइट से बचाया जाएगा।
  • इस ऐप के तहत छात्रों को विविध सुविधा प्रदान की जाएगी।
  • इस ऐप के तहत जरूरतमंद छात्रों को छात्रवृत्ति प्रदान की जाएगी।
  • ऐप और वेबसाइट दूरस्थ क्षेत्रों, गांवों, पहाड़ी क्षेत्रों, उत्तर-पूर्व क्षेत्र के छात्रों के लिए करता है।
  • सरकारी छात्रवृत्ति योजनाओं के साथ लगभग ३ करोड़ छात्र को अभी तक लाभान्वित किया है।
  • इस योजना के तहत १,६३  करोड़ लड़कियों को  छात्रवृत्ति का लाभ मिला रहा है।
  • मुस्लिम लड़कियों की ड्रॉप आउट दर ७०% से ३५-४० % तक कम हुई है।