महात्मा ज्योतिबा फुले प्रवासी विद्या निधि योजना

तेलंगाना सरकार ने राज्य के बीसी और ईबीसी छात्रों के लिए महात्मा ज्योतिबा फुले प्रवासी विद्या निधि योजना शुरू की है। इस योजना के माध्यम से राज्य के पिछड़े एवं अतिपिछड़े छात्रों को विदेश में अध्ययन के लिए वित्तीय सहायता प्रदान की जाएंगी। राज्य के पिछड़े समुदाय के सभी छात्र इस योजना के तहत पात्र है। इस योजना का प्राथमिक उद्देश्य बीसी और ईबीसी छात्रों को शिक्षा के समान अवसर प्रदान करना है। सरकार चयनित लाभार्थियों को ट्यूशन फीस, एक तरफा इकोनॉमी क्लास एयर टिकट, और वीज़ा शुल्क के लिए अनुदान प्रदान करती है।

Mahatama Jyothiba Phule Overseas Vidhya Nidhi(In English)

 महात्मा ज्योतिबा फुले प्रवासी विद्या निधि योजना

  • राज्य: तेलंगाना
  • लाभ: उच्च शिक्षा के लिए वित्तीय सहायता
  • लाभार्थी: पिछड़े वर्ग के छात्र
  • आधिकारिक वेबसाइट: www.telanganaepass.gov.in

लाभ:

  • छात्रों को २० लाख रुपये तक का अनुदान दिया जाएंगा।
  • अनुदान में ट्यूशन फीस, इकोनॉमी क्लास एयर-टिकट और वीज़ा शुल्क शामिल रहेंगा।

पात्रता:

  • केवल तेलंगाना राज्य के स्थायी निवासी छात्र इस योजना के लिए पात्र है।
  • छात्रों के परिवार की वार्षिक आय ५ लाख रुपये से अधिक नहीं होनी चाहिए।
  • राज्य के केवल बीसी और ईबीसी छात्रों के लिए यह योजना लागू है।
  • आवेदनकर्ता के पास वैध टीओईएफएल / आईईएलटीएस और जीआरई / जीएमएटी परीक्षा का स्कोर होना चाहिए।
  • टीओईएफएल: ८०
  • आईईएलटीएस: ६.५
  • जीआरई: २८०
  • जीएमएटी: ५५०
  • आयु सीमा: आवेदन की वर्ष १ जुलाई को कम से कम ३० साल की आयु के लिए।
  • छात्र के पास विदेशी विश्वविद्यालय का प्रवेश प्रस्ताव पत्र होना चाहिए।

आवश्यक दस्तावेजों की सूची:

  • परिवार का आय प्रमाण पत्र
  • जाति प्रमाण पत्र
  • आधार कार्ड
  • जन्म प्रमाण पत्र
  • निवासी  प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट की प्रति
  • सभी पात्रता परीक्षा की गुण पत्रिका
  • बैंक पासबुक की प्रति
  • आयकर आकलन की प्रति
  • स्कैन की गई तस्वीर
  • प्रवेश प्रस्ताव पत्र

संयुक्त राज्य अमेरिका, ब्रिटेन, ऑस्ट्रेलिया, कनाडा, सिंगापुर, जर्मनी, न्यूजीलैंड, जापान, फ्रांस, और दक्षिण कोरिया आदि जैसे देशो के विश्वविद्यालय इस योजना का का हिस्सा है। इच्छुक छात्र इन देशों के अधिकांश मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालयों में आवेदन कर सकते है।

महात्मा ज्योतिबा फुले प्रवासी विद्या निधि योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करें?

  • आधिकारिक वेबसाइट पर जाने के लिए यहां क्लिक करें
  • आवेदनकर्ता खुदको  पंजीकृत करे।
  • आवेदन पत्र को पूरी तरह से भरे।
  • आवेदक तस्वीर के साथ सभी आवश्यक दस्तावेजों की स्कैन की हुई प्रतियाँ अपलोड करें।
  • आवेदन पूरा करने के लिए आगे के निर्देशनों का पालन करें

महात्मा ज्योतिबा फुले प्रवासी विद्या निधि की आवेदन की स्थिति जाँच करे:

  • आवेदक अपने आवेदन स्थिति की जांच और चयनित छात्रों की सूची को ईएपीएस की आधिकारिक वेबसाइट पर ऑनलाइन देख सकते है।
  • यहां क्लिक करें और आवेदन नंबर के साथ आवश्यक विवरण दर्ज करें और विवरण प्राप्त जानकारी बटन  पर क्लिक करें।

डॉ अम्बेडकर केंद्रीय क्षेत्र योजना अन्य पिछडा वर्ग के लिए विदेशों में अध्ययन के लिए शैक्षणिक ऋण पर ब्याज सब्सिडी:

भारत देश के अन्य पिछडे वर्ग (ओबीसी) के छात्रों और युवा के  लिए विदेशों में अध्ययन के लिए शैक्षणिक ऋण पर ब्याज सब्सिडी के लिए केंद्र सरकार (सामाजिक न्याय और सशक्तिकरण मंत्रालय) द्वारा डॉ अम्बेडकर केंद्रीय क्षेत्र योजना शुरू की है। अन्य पिछडा वर्ग (ओबीसी) छात्रों के लिए सामाजिक न्याय और सशक्तिकरण विभाग शैक्षणिक ऋण पर ब्याज सब्सिडी प्रदान करती है।इस योजना के माध्यम से अन्य पिछड़े वर्ग (ओबीसी) छात्रों की शैक्षणिक प्रगति को बढ़ावा दिया जाएंगा। इस योजना का मुख्य उद्देश्य समाज के कमजोर वर्गों के मेधावी छात्रों को शैक्षणिक ऋण पर ब्याज सब्सिडी प्रदान की जाएंगी ताकि उन छात्रों को विदेशों में उच्च शिक्षा के लिए बेहतर अवसर प्रदान हो सके और अपनी रोजगार क्षमता को बढ़ा सकें।

Dr. Ambedkar Central Sector Scheme Of Interest Subsidy On Educational Loan For Overseas Stidies For OBC (In English)

अन्य पिछडा वर्ग (ओबोसी) के लिए विदेशों में अध्ययन के लिए शैक्षणिक ऋण पर ब्याज सब्सिडी:

  • इस योजना के तहत स्नातकोत्तर उपाधि (मास्टर्स डिग्री) और पीएचडी स्तर पाठ्यक्रम के लिए शिक्षा ऋण पर ब्याज सब्सिडी प्रदान की जाएगी।
  • ब्याज सब्सिडी का दर:
  •   ५०% महिला उम्मीदवार को ब्याज पर सब्सिडी दी जाएगी।
  • इस योजना के तहत, अधिस्थगन की अवधि के लिए आईबीए (इंडियन बैंक एसोसिएशन) से शिक्षा ऋण का लाभ लेने वाले छात्रों द्वारा देय ब्याज (यानी पाठ्यक्रम अवधि, प्लस एक साल या नौकरी पाने के कुछ महीने बाद, जो भी पहले हो) आईबीए की शिक्षा ऋण योजना के तहत निर्धारित किया जाएगा और भारत सरकार द्वारा उठाया जाएगा।
  • उम्मीदवार अधिस्थगन अवधि से प्रमुख किस्तों और ब्याज का वहन करना होंगा।
  • अधिस्थगन की अवधि खत्म हो जाने के बाद, बकाया ऋण राशि पर ब्याज छात्र द्वारा भुगतान किया जाएंगा, मौजूदा शैक्षणिक ऋण योजना के अनुसार समय-समय पर संशोधित किया जाएंगा।

अन्य पिछडा वर्ग (ओबीसी) छात्र के लिए विदेशी अध्ययन के लिए शैक्षिक ऋण पर ब्याज सब्सिडी के लिए आवश्यक पात्रता और शर्तें:

  • छात्र को इंडियन बैंक एसोसिएशन (आईबीए) की शिक्षा ऋण योजना के तहत अनुसूचित बैंक से ऋण प्राप्त करना होंगा।
  • नियोजित उम्मीदवार या उसके माता-पिता / बेरोजगार उम्मीदवार के मामले में अभिभावक की सभी स्तोत्र की वार्षिक आय ३ लाख रुपये से कम  होनी चाहिए।
  • छात्र ऋण के कार्यकाल के दौरान भारतीय नागरिकता छोड़ देता है, तो इस योजना के तहत लाभ प्राप्त करने वाले छात्रों को ब्याज पर सब्सिडी नहीं दी जाएगी।
  • छात्र अन्य पिछडा वर्ग (ओबीसी) श्रेणी से संबंधित होना चाहिए।
  • छात्रों को स्नातकोत्तर उपाधि (मास्टर्स डिग्री), एम.फिल या अनुमोदित पाठ्यक्रमों में अनुमोदित पाठ्यक्रमों में सुरक्षित प्रवेश होना चाहिए। पीएच.डी. विदेशों में स्तर उदा। अधिक जानकारी के लिए कला / मानविकी / सामाजिक विज्ञान कृपया यहां जाएं: http://www.nbcfdc.gov.in/res/pdf/Guidelines%20Dr.%20Ambedkar%20Interest%20Subsidy%20OBC.pdf   

ओबीसी छात्र के लिए विदेशी अध्ययन के लिए शैक्षिक ऋण पर ब्याज सब्सिडी लागू करने के लिए आवेदन प्रक्रिया और आवश्यक दस्तावेज:

  • अन्य पिछडा वर्ग (ओबीसी) जाति का प्रमाण पत्र।
  • आय प्रमाण पत्र / आईटीआर / फॉर्म नंबर १६ / नियोजित उम्मीदवार या उसके माता-पिता / अभिभावक की वार्षिक आय ३ लाख रुपये से कम होनी चाहिए।
  • छात्र विदेश में उच्च शिक्षा का प्राप्त कर रहा है,उसका प्रवेश प्रमाण पत्र का सबूत होना चाहिए जैसे कि उदा: आई-२०।
  • आधार कार्ड।
  • पहचान प्रमाण पत्र जैसे की पासपोर्ट।
  • पता प्रमाण पत्र जैसे की बिजली का बिल।
  • बैंक विवरण, खाता धारक का नाम, खाता क्रमांक, आईएफएससी कोड, एमआईसीआर कोड।

आवेदन की प्रक्रिया:

  • यह योजना विदेशों में उच्च शिक्षा अध्ययन के लिए लागू है। ब्याज सब्सिडी भारतीय बैंक एसोसिएशन (आईबीए) की मौजूदा शैक्षिक ऋण योजना से जुड़ी होगी और स्नातकोत्तर उपाधि (मास्टर्स डिग्री), एम.फिल और पीएचडी पाठ्यक्रम के लिए नामांकित छात्रों तक सीमित होगी।
  • छात्र को नामित बैंक में जाना पडेगा,नामित बैंक एनबीसीएफडीसी के परामर्श से पात्र छात्रों को ब्याज सब्सिडी की प्रसंस्करण और मंजूरी के लिए विस्तृत प्रक्रिया प्रदान की जाएंगी।

किससे संपर्क करें और कहां से संपर्क करें:

  • छात्र को नामित बैंक से संपर्क करना चाहिए जहां से उसने शिक्षा ऋण के लिए आवेदन किया है,पात्रता की जांच करनी चाहिए और उचित दस्तावेजों के साथ आवेदन करना चाहिए।
  • छात्र जिला कलेक्टर से संपर्क करें या जिला संबंधित एससीए के प्रबंधक / अधिकारी (राज्य चैनलिंग एजेंसियां) से संपर्क करें।
  • राज्य चैनलिंग एजेंसियों का पता और संपर्क राज्यों के कृपया निम्नलिखित लिंक पर जाएं:   http://nbcfdc.gov.in/nbcfdc-scas.php

संदर्भ और विवरण:

मुख्यमंत्री अर्बन लीडर फ़ेलोशिप प्रोग्राम (सीएमयुएलएफ) दिल्ली: cmulf.dtu.ac.in रजिस्ट्रेशन, ऑनलाइन फॉर्म, आवेदन की प्रक्रिया और लॉगिन

दिल्ली सरकार ने राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में कुछ महत्वपूर्ण मुद्दों में भाग लेने और हल करने के लिए युवाओं की मदत लेने के लिए  मुख्यमंत्री अर्बन लीडर फ़ेलोशिप प्रोग्राम (सीएमयूएलएफ) की शुरुआत की है। युवा नवप्रवर्तनक और सामाजिक नेता कार्यक्रम में भाग ले सकते है और सरकार की चुनौतियों में से कुछ चुनौतियों पर काम कर सकते है ।लाभार्थी को प्रति माह १.२५ लाख रुपये की फेलोशिप  प्रदान की जाएंगी।

                                                  Chief Minister’s Urban Leaders Fellowship Programme  (In English)

 

मुख्यमंत्री अर्बन लीडर फैलोशिप  प्रोग्राम (सीएमयूएलएफ):

  • दिल्ली सरकार द्वारा युवाओं के लिए एक फैलोशिप कार्यक्रम है।
  •  भारत देश के सामाजिक युवा इस योजना में  भाग ले सकते है।
  • देश के युवाओं को दिल्ली सरकार और सार्वजनिक सेवा के साथ काम करने का अवसर मिलेगा।
  • शहरी भारत  का सामना करने वाली प्रमुख समस्याओं और चुनौतियों का समाधान करने का प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा।

 मुख्यमंत्री अर्बन लीडर फैलोशिप  प्रोग्राम (सीएमयूएलएफ) की मुख्य विशेषताएं:

  • फैलोशिप विभिन्न विभागों के मंत्रियों और वरिष्ठ सामाजिक अधिकारियों के साथ काम करने का मौका मिलेंगा।

कार्य की प्रकृति:

  • उन्हें शिक्षा, स्वास्थ्य, जल प्रबंधन, पर्यावरण, कला और संस्कृति, परिवहन आदि से संबंधित चुनौतियां दी जाएंगी।
  •  उन्हें मुद्दों का विश्लेषण करने और अभिनव समाधानों के साथ आने की आवश्यकता है।
  • विभिन्न नीतियों, पहल और परियोजनाओं के निर्माण के साथ सरकार मदत करेंगी।

पद:

  • अध्येताओं (२० पद)
  • सहायता अध्येताओं (१० पद)

मानधन:

  • अध्येताओं के उम्मीदवार को १.२५ प्रति माह रुपये प्रदान किये जाएंगे।
  • सहायक पदों के उम्मीदवार को ७५,००० प्रति माह रुपये प्रदान किये जाएंगे।

अवधि :

  • कार्यक्रम का कार्यकाल २  साल का है।

दिल्ली सरकार दिल्ली की विभिन्न समस्याओं का समाधान करने में अभिनव रही है। आम आदमी नेतृत्व में सरकार को कई पहलुओं के लिए पहचाना गया है, जैसे स्कूलों में खुशी पाठ्यक्रम, सरकारी स्कूलों में परिवर्तन, मोहाला क्लीनिक में उच्च गुणवत्ता वाली प्राथमिक स्वास्थ्य देखभाल, भारत देश में सबसे कम दरो पर २४ x ७  बिजली और सरकार के घरेलू वितरण सेवाएं प्रदान करती है। सरकार लोकप्रिय शब्द “परिवर्तन करना” दील्ली शासन क्रान्ति  के  लिए अपनी नीतियों का प्रचार कर रही है।

मुख्यमंत्री अर्बन लीडर फैलोशिप  प्रोग्राम (सीएमयूएलएफ) के लिए पात्रता और कौन आवेदन कर सकता है:

  • कोई भी भारतीय नागरिक इस योजना के लिए आवेदन कर सकता है।
  • आयु: आवेदक की उम्र २१ से ३५ वर्ष के आयु वर्ग के बीच होनी चाहिए।

अध्येताओं:

  • उम्मीदवार को पीएच.डी. का अनुभव एक वर्ष होना चाहिए।
  • उम्मीदवार को न्यूनतम ६० % अंकों के साथ स्नातकोत्तर और न्यूनतम ३ साल का अनुभव होना चाहिए।
  • स्नातक न्यूनतम ६० % अंकों के साथ स्नातक और न्यूनतम ५ साल का अनुभव होना चाहिए।

सहायता अध्येताओं:

  • उम्मीदवार को कम से कम ६०% अंक के साथ स्नातकोत्तर और न्यूनतम ५ साल का अनुभव होना चाहिए।
  • उम्मीदवार को कम से कम ६०% अंक के साथ स्नातक और न्यूनतम १ साल का अनुभव होना चाहिए।

सीएमयूएलएफ की महत्वपूर्ण तिथियां:

  • आवेदन की समय सीमा / आवेदन की अंतिम तिथि: ४ नवंबर २०१८
  •  पहली शॉर्टलिस्ट की घोषणा: १५ नवंबर २०१८
  • अंतिम साक्षात्कार: २६ और २७ नवंबर २०१८
  • अंतिम सूची की घोषणा: १५ नवंबर २०१८
  • चयनित उम्मीदवारों के लिए अंतिम तारीख प्रस्ताव को स्वीकार करने के लिए: ०७  दिसंबर २०१८
  • फैलोशिप कार्यक्रम कब शुरू होता है: ७ जनवरी २०१९

 मुख्यमंत्री अर्बन लीडर फैलोशिप  प्रोग्राम (सीएमयूएलएफ): पंजीकरण, आवेदन पत्र, ऑनलाइन आवेदन और लॉगिन कैसे करे:

  • मुख्यमंत्री अर्बन लीडर फैलोशिप  प्रोग्राम (सीएमयूएलएफ) के लिए पंजीकरण करने के लिए यहां क्लिक करें।
  • अपना नाम, ईमेल आईडी, पासवर्ड, कैप्चा के लिए आवेदन करने के लिए पोस्ट करें और सबमिट बटन पर क्लिक करें।
  •  सफल पंजीकरण पर लॉगिन करने के लिए यहां क्लिक करें।
  •  लॉगिन पर सीएमयूएलएफ साथी और सहायता साथी के लिए आवेदन पत्र का चयन करें।
  • आवेदन पत्र भरें सभी जरूरी विवरण प्रदान करें और यदि आवश्यक हो तो दस्तावेज अपलोड करें और जमा करें।

 

 

 

scholarships.gov.in – राष्ट्रीय छात्रवृत्ति पोर्टल (एनएसपी) एंड्रॉइड/मोबाइल ऐप: डाउनलोड करें और ऑनलाइन छात्रवृत्ति अप्लाई करे

केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने भारत देश के अल्पसंख्यक समुदाय के छात्रों के लिए राष्ट्रीय छात्रवृत्ति पोर्टल (एनएसपी) मोबाइल ऐप शुरू किया है। राष्ट्रीय छात्रवृत्ति पोर्टल (एनएसपी) मोबाइल ऐप विभिन्न सरकारी छात्रवृत्ति के बारे में विवरण प्रदान करता है और छात्र सामाजिक कल्याण योजनाओं और छात्रवृत्ति के लिए आवेदन कर सकते है। भारत सरकार ने पहले ही राष्ट्रीय छात्रवृत्ति पोर्टल (एनएसपी) वेबसाइट scholarships.gov.in लांच की है। मोबाइल ऐप के साथ छात्रों को परेशानी मुक्त छात्रवृत्ति प्रणाली प्रदान की जाएगी। एनएसपी एंड्रॉइड/मोबाइल ऐप से सभी छात्र सरकारी छात्रवृत्ति के लाभ के लिए आवेदन कर सकते है और साथ ही विभिन्न जानकारिया प्राप्त करने के लिए पोर्टल और ऐप का उपयोग कर सकते है। छात्रवृत्ति राशि सीधे प्रत्यक्ष लाभ हस्तांतरण / डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर (डीबीटी) प्रणाली  का उपयोग करके छात्रों के बैंक खातों में सीधे स्थानांतरित की जाएंगी।

National Scholarship Portal mobile app (In English)

राष्ट्रीय छात्रवृत्ति पोर्टल (एनएसपी) मोबाइल एप्लीकेशन: गूगल प्ले स्टोर से एनएसपी एप्लीकेशन डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें

राष्ट्रीय छात्रवृत्ति पोर्टल (एनएसपी) मोबाइल ऐप सेवाएं:

  • एनएसपी मोबाइल एप से छात्र विभिन्न छात्रवृतीयोके लिए पात्रता देख सकते है।
  • एनएसपी मोबाइल एप के माध्यम से  छात्रवृत्ति और योजनाओं की जानकारी प्रदान करता है।
  • छात्र विभिन्न छात्रवृत्ति के लिए ऑनलाइन / पंजीकरण  कर सकता है।
  • सभी आवश्यक दस्तावेज अपलोड कर सकते है।
  • छात्र आवेदन की स्थिति और छात्रवृत्ति राशि हस्तांतरण कर सकते है।
  • छात्र आवेदन स्थिति एसएमएस अलर्ट द्वारा प्राप्त कर सकते है।

राष्ट्रीय छात्रवृत्ति पोर्टल मोबाइल ऐप डाउनलोड और पंजीकरण कैसे करें?

  • गूगल प्ले स्टोर से सीधे राष्ट्रीय छात्रवृत्ति पोर्टल मोबाइल एंड्रॉइड ऐप डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें।
  • राष्ट्रीय छात्रवृत्ति आधिकारिक पोर्टल scholarships.gov.in पर जाएं और ऐप डाउनलोड करने के लिए वेबसाइट के ऊपरी दाएं कोने पर गूगल प्ले आइकन पर क्लिक करें।

  • ऐप इंस्टॉल करे और ऐप को खोलें, यहाँ नीचे सभी छात्रवृत्तियां दिखाई जाएगी।
  • यदि आप पहले से ही scholarships.gov.in के साथ पंजीकृत नहीं हैं, तो “Fresh Registration” पर क्लिक करें अन्यथा “Login” पर क्लिक करें, आप ऐप में लॉगिन करने के लिए अपने यूजरनाम और पासवर्ड का उपयोग करें।
  • लॉगिन करने के बाद उपयोगकर्ता सभी योजनाओं को देखने और उनके लिए आवेदन कर सकते है।

राष्ट्रीय छात्रवृत्ति पोर्टल (एनएसपी) मोबाइल ऐप की मुख्य विशेषताएं:

  • केंद्र और राज्य सरकारों, मंत्रालयों और विभागों द्वारा शुरू की गई सभी कल्याणकारी योजनाओं और छात्रवृत्ति के लिए एक ऐप है।
  • इस योजना के माध्यम  सभी छात्रों को समय-समय पर छात्रवृत्ति के बारे में जानकारी प्रदान की जाएगी।
  • छात्र को इस ऐप के माध्यम से नकली छात्रवृत्ति आवेदन वेबसाइट से बचाया जाएगा।
  • इस ऐप के तहत छात्रों को विविध सुविधा प्रदान की जाएगी।
  • इस ऐप के तहत जरूरतमंद छात्रों को छात्रवृत्ति प्रदान की जाएगी।
  • ऐप और वेबसाइट दूरस्थ क्षेत्रों, गांवों, पहाड़ी क्षेत्रों, उत्तर-पूर्व क्षेत्र के छात्रों के लिए करता है।
  • सरकारी छात्रवृत्ति योजनाओं के साथ लगभग ३ करोड़ छात्र को अभी तक लाभान्वित किया है।
  • इस योजना के तहत १,६३  करोड़ लड़कियों को  छात्रवृत्ति का लाभ मिला रहा है।
  • मुस्लिम लड़कियों की ड्रॉप आउट दर ७०% से ३५-४० % तक कम हुई है।