वंचित छात्रों के लिए नि:शुल्क कोचिंग योजना, राजस्थान

५ जून, २०२१ को राजस्थान सरकार ने ‘मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना’ को लागू करने की घोषणा की, जिसके तहत वंचित छात्रों को प्रतियोगी प्रवेश परीक्षाओं के लिए मुफ्त कोचिंग की सुविधा प्रदान की जाएगी। इस सुविधा का शुभारंभ सीएमओ राजस्थान अशोक गहलोत ने किया। इसे लागू किया जाएगा और कक्षा १० और १२ में प्राप्त अंकों के आधार पर छात्रों को मुफ्त कोचिंग प्रदान की जाएगी। इस योजना के तहत १ साल के लिए कोचिंग दी जाएगी। इस पहल का उद्देश्य राज्य में वंचित वर्गों के बच्चों को और अधिक सीखने और नई ऊंचाइयों को प्राप्त करने के लिए प्रेरित करना है।

अवलोकन:

योजना का नाम: मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना
योजना के तहत: राजस्थान सरकार
द्वारा लॉन्च किया गया: मुख्यमंत्री अशोक गहलोत
नोडल एजेंसी: सामाजिक न्याय और अधिकारिता विभाग
लाभ: यूपीएससी, आरपीएससी, सीएलएटी, आदि जैसे विभिन्न प्रतियोगी और प्रवेश परीक्षाओं के लिए मुफ्त कोचिंग।
उद्देश्य: वंचित छात्रों को प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए तैयार करने और उच्च अध्ययन करने में मदद करने के लिए उन्हें मुफ्त कोचिंग प्रदान करना।

उद्देश्य और लाभ-

  • योजना का मुख्य उद्देश्य राज्य में वंचित छात्रों को मुफ्त कोचिंग प्रदान करना है जो यूपीएससी, आरपीएससी, सीएलएटी, आरईईटी, कांस्टेबल परीक्षा, उप निरीक्षक परीक्षा आदि परीक्षाओं की तैयारी करना चाहते हैं।
  • यह योजना वंचित छात्रों को प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए तैयार करने के लिए उच्च शिक्षा प्राप्त करने में सक्षम बनाएगी।
  • यह छात्रों को वित्तीय बाधाओं और कठिनाइयों के बावजूद अध्ययन करने में सहायता प्रदान करेगा।
  • यह पहल छात्रों को उच्च अध्ययन करने और परीक्षा में सफलता प्राप्त करने के लिए प्रोत्साहित करेगी।
  • इसका उद्देश्य राज्य में ही आवश्यक कोचिंग प्रदान करना है ताकि किसी भी छात्र को कोचिंग के लिए किसी अन्य राज्य में जाने की आवश्यकता न हो।
  • अपने गृह नगरों के बाहर कोचिंग संस्थानों में पढ़ने वाले छात्रों को रु. ४०,००० सालाना, आवास और भोजन के लिए।
  • यह राज्य भर में कई छात्रों को भौतिक और आभासी मोड के माध्यम से गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्राप्त करने में मदद करेगा।

पात्रता:

  • वेतन मैट्रिक्स- ११ प्राप्त करने वाले सरकारी कर्मचारियों के बच्चे।
  • ऐसे परिवारों के बच्चे जिनकी वार्षिक आय रुपये ८ लाख से कम है।

योजना के तहत शामिल परीक्षा:

  • संघ लोक सेवा आयोग
  • आरपीएससी
  • रसो
  • राजस्थान शिक्षक पात्रता परीक्षा (रीट)
  • कांस्टेबल परीक्षा
  • सब-इंस्पेक्टर परीक्षा
  • इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा
  • चिकित्सा प्रवेश परीक्षा
  • कॉमन लॉ एडमिशन टेस्ट
  • ग्रेड पे-२४००/पे मैट्रिक्स लेवल-५ सेवा परीक्षा
  • ३६०० ग्रेड पे/पे मैट्रिक्स लेवल-१० सेवा परीक्षा-१०

प्रक्रिया:

  • छात्रों का चयन जिलेवार किया जाएगा।
  • योजना के तहत हर जिले को एक कोट दिया जाएगा।
  • तद्नुसार पात्र एवं चयनित छात्रों की सूची संबंधित प्राधिकारियों द्वारा जिलेवार तैयार की जाएगी और इस प्रकार लाभार्थियों को योजना का लाभ प्रदान किया जाएगा।

प्रमुख बिंदु:

  • राजस्थान सरकार ने मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना कोचिंग सुविधा नाम से एक नई योजना शुरू की, जिसके तहत यूपीएससी, आरपीएससी, सीएलएटी, आरईईटी, कांस्टेबल परीक्षा, उप निरीक्षक परीक्षा, आदि जैसी प्रतियोगी और प्रवेश परीक्षाओं को क्रैक करने के उद्देश्य से वंचित छात्रों को मुफ्त कोचिंग प्रदान की जाएगी।
  • इस योजना के क्रियान्वयन की घोषणा मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने ५ जून २०२१ को की थी।
  • सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग योजना के लिए नोडल एजेंसी है।
  • यह वंचित छात्रों को अध्ययन के समान अवसर प्राप्त करने में मदद करने के लिए शुरू किया गया है।
  • यह सुविधा पात्र छात्रों को १ वर्ष की अवधि के लिए प्रदान की जाएगी।
  • वेतन मैट्रिक्स-११ प्राप्त करने वाले सरकारी कर्मचारियों के बच्चे और उन परिवारों के बच्चे जिनकी वार्षिक आय रुपये से कम है। योजना के तहत ८ लाख पात्र हैं।
  • छात्रों को कक्षा १० और १२ में यथा लागू अंकों के आधार पर नि:शुल्क कोचिंग प्रदान की जाएगी।
  • योजना का लक्ष्य ५०% लड़कियों को लाभार्थी के रूप में रखना है।
  • अपने गृह नगरों के बाहर कोचिंग संस्थानों में पढ़ने वाले छात्रों को रु. ४०,००० सालाना, आवास और भोजन के लिए।
  • इस पहल के तहत मुफ्त कोचिंग प्रदान करने के लिए विभिन्न स्कूलों और कॉलेजों के बुनियादी ढांचे का उपयोग किया जाएगा।
  • यह वंचित छात्रों को वित्तीय कठिनाइयों के बावजूद उच्च शिक्षा के लिए अध्ययन करने में सक्षम बनाएगा।
  • कोई भी वंचित छात्र वित्तीय बाधाओं के कारण सफल होने के अपने सपने से बाहर नहीं निकलेगा।
  • यह योजना इस प्रकार छात्रों को प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए कोचिंग प्राप्त करने और अपने करियर में नई ऊंचाइयों को प्राप्त करने में सक्षम बनाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *