राष्ट्रीय बाल स्वच्छता मिशन: देश में स्वछता के लिए जागरूकता अभियान

July 13, 2018 | By hngiadmin | Filed in: स्कुल, अंडमान व नोकोबार द्वीप समूह, भारत सरकार, योजनाएं, आंध्र प्रदेश, छात्र, खबरें, अरुणाचल प्रदेश, शिक्षा, असम, बिहार, मणिपुर सरकार, छत्तीसगढ़, चंडीगढ़, दादरा और नगर हवेली, दमन और दीव, राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली, गोवा, गुजरात, हरयाणा, हिमाचल प्रदेश, जम्मू कश्मीर, झारखंड, कर्नाटक, केरल, लक्षद्वीप, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, मणिपुर, मेघालय, मिजोरम, नगालैंड, ओडिशा, पुडुचेरी, राजस्थान, सिक्किम, तमिलनाडु, तेलंगाना, त्रिपुरा, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, पश्चिम बंगाल, पंजाब.

राष्ट्रीय बाल स्वच्छता मिशन भारत सरकार की महिला एवं बाल विकास मंत्री श्रीमती मेनका गांधी द्वारा दिल्ली में शुरू किया गया है। राष्ट्रीय बाल स्वच्छता मिशन भारत के प्रथम प्रधानमंत्री श्री जवाहर लाल नेहरू की १२५ वी जयंती पर शुरू किया गया है। यह मिशन प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी द्वारा २ ऑक्टोबर २०१४ को शुरू किये गए स्वच्छ भारत अभियान के राष्ट्रव्यापी स्वच्छता पहल का एक हिस्सा है। इस मिशन का मुख्य उद्देश स्वच्छ अंगनवाडी,स्वच्छ परिवेश जैसे खेल का मैदान,स्वय की स्वच्छता(व्यक्तिगत स्वच्छता / बाल स्वाथ्य) स्वच्छ भोजन,स्वच्छ पेयजल और स्वच्छ शौचालय  के लिए है।

इस मिशन के तहेत लक्ष्य यह है की स्कूल जाने वाले बच्चों को स्वच्छ और स्वथ्य वातावरण प्रदान किया जा सके। स्कूल शिक्षा,शहरी विकास पेय जल एवं स्वच्छता और सुचना एवं प्रचार जैसे विभागों की मदत के साथ महिला एवं बाल विकास द्वारा राष्ट्रीय बाल स्वच्छता मिशन को लागू किया गया है। इस योजना के तहत स्कूल जाने वाले बच्चो के प्रति घर,स्कूल और सार्वजनिक स्थानों पर साफ सफाई रखने के लिए जागरूकता का निर्माण किया जा सकता है। कविता,कहानी,छोटे खेल और बच्चों के साथ बातचीत जैसे अनौपचारिक तरीको के मदत के साथ बच्चों के बीच जागरूकता फैलाई जा सकती है। इन सभी तरीको के मदत से बच्चों मे स्वच्छता की आदते लागू होना चाहिए यह राष्ट्रीय बाल स्वच्छता मिशन का मुख्य उद्देश है। महिला एवं बाल विकास मंत्रालय ने बाल स्वच्छता मिशन पर एक किताब का भी विमोचन किया, जोकि जन सहयोग एवं बाल विकास के राष्ट्रीय संस्थान द्वरा तैयार की गई है।

राष्ट्रीय बाल स्वच्छता मिशन का लाभ:

  • स्वच्छ  आंगनवाडी का लाभ प्राप्त करने के लिए
  • स्वच्छ परिवेश जैसे की खेल का मैदान
  • स्कूल मे स्वच्छ भोजन प्राप्त करने के लिए
  • स्वच्छ पिने के पानी का लाभ प्राप्त करने के लिए
  • स्वच्छ शौचालय का लाभ प्राप्त करने के लिए

राष्ट्रीय बाल स्वच्छता मिशन का उद्देश:

  • स्वच्छ आंगनवाडी
  • स्वच्छ परिवेश जैसे की खेल का मैदान
  • स्वच्छ स्व (व्यक्तिगत स्वच्छता / बाल स्वाथ्य)
  • स्वच्छ खाद्य
  • स्वच्छ पिने का पानी
  • स्वच्छ शौचालय

राष्ट्रीय बाल स्वच्छता मिशन के लिए योग्यता:

  • योजना भारत सरकार के सभी सरकारी स्कूलों के लिए पात्र है
  • भारत देश की सभी आंगनवाडी इस योजना के लिए पात्र है
  • राष्ट्रीय बाल स्वच्छता मिशन सभी राज्य,जिला और ग्रामपंचायत के लिए पात्र है

 राष्ट्रीय बाल स्वच्छता मिशन का कार्यन्वयन:

  • विभिन्न राज्य के महिला एव बाल विकास विभागों मे इस मिशन को लागू किया गया है
  • देश के राज्य,जिलों और ग्रामपंचायत मे इस मिशन को लागू किया गया है
  • राष्ट्रीय बाल स्वच्छता मिशन  सूचना और प्रचार  पेयजल एवं स्वच्छता जैसे विभिन्न विभाग के मदत से कार्यान्वित  किया जाता है

Tags: , , , ,

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *