स्वास्थ्य प्रोफ़ाइल योजना, तेलंगाना

तेलंगाना सरकार अपनी महत्वाकांक्षी ‘स्वास्थ्य प्रोफ़ाइल योजना‘ शुरू करने वाली है। १९ अगस्त, २०२१ को नगर प्रशासन और शहरी विकास मंत्री के टी रामाराव ने इस योजना के लिए राज्य मंत्रिमंडल की मंजूरी की घोषणा की। इस योजना के तहत राज्य के सभी नागरिकों के स्वास्थ्य प्रोफाइल का डाटा बेस रखा जाएगा। यह रिकॉर्ड राज्य में सभी के स्वास्थ्य की जांच करने में मदद करेगा। यह सही समय पर सावधानियों और उपचारों को सक्षम करेगा। राज्य सरकार मौसमी बीमारियों, स्वास्थ्य बीमारियों आदि की दरों पर नजर रखेगी। वर्तमान में इस योजना को तेलंगाना राज्य के मुलुगु और राजन्ना सिरसिला जिलों में एक पायलट परियोजना के रूप में शुरू करने की योजना है।

योजना अवलोकन:

योजना का नाम स्वास्थ्य प्रोफ़ाइल योजना
योजना के तहत तेलंगाना सरकार
द्वारा अनुमोदित तेलंगाना राज्य मंत्रिमंडल
घोषणा द्वारा नगर प्रशासन और शहरी विकास मंत्री के टी रामा राव
घोषणा की तिथि १९ अगस्त, २०२१
योजना प्रकार स्वास्थ्य योजना
प्रमुख उद्देश्य राज्य में सभी के स्वास्थ्य की जांच करना जिससे उनकी स्वास्थ्य देखभाल और कल्याण सुनिश्चित हो सके।

उद्देश्य और लाभ:

  • इस योजना का मुख्य उद्देश्य राज्य में सभी के अच्छे स्वास्थ्य का रखरखाव सुनिश्चित करना है।
  • इस योजना के तहत नागरिकों के स्वास्थ्य रिकॉर्ड का एक डेटाबेस रखा जाएगा।
  • यह सही समय पर सावधानियों और उपचारों को सक्षम करेगा।
  • मौसमी बीमारियों, मधुमेह, हाई या लो बीपी जैसी स्वास्थ्य संबंधी बीमारियों पर नजर रखी जाएगी।
  • इस योजना के माध्यम से दर्ज किए गए डेटा राज्य सरकार को निवासियों के लिए नई प्रासंगिक योजनाओं की योजना बनाने में मदद करेंगे।
  • यह योजना निवासियों के जीवन और स्वास्थ्य के संतुलन को बनाए रखने में मदद करेगी।

प्रमुख बिंदु:

  • स्वास्थ्य प्रोफ़ाइल योजना तेलंगाना सरकार की एक महत्वाकांक्षी स्वास्थ्य योजना है जो जल्द ही राज्य में शुरू होने वाली है।
  • राज्य कैबिनेट ने जून महीने में इस योजना को मंजूरी दी थी।
  • नगर प्रशासन और शहरी विकास मंत्री के टी रामाराव ने १९ अगस्त, २०२१ को योजना के विवरण की घोषणा की।
  • इस योजना के तहत राज्य के सभी नागरिकों के स्वास्थ्य प्रोफाइल का डाटा बेस तैयार किया जाएगा।
  • यह रिकॉर्ड राज्य में सभी के स्वास्थ्य की जांच करने में मदद करेगा।
  • विभिन्न आवश्यक रोकथाम, उपचार आदि प्रदान किए जा सकते हैं।
  • राज्य सरकार इस योजना के तहत एकत्रित आंकड़ों के आधार पर लोगों को लाभान्वित करने के लिए प्रासंगिक योजनाएँ बना सकती है।
  • इस योजना को वर्तमान में तेलंगाना राज्य के मुलुगु और राजन्ना सिरसिला जिलों में पायलट आधार पर शुरू करने की योजना है।
  • इन जिलों में योजना के क्रियान्वयन की अवधि के दौरान स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी सभी निवासियों का विवरण एकत्र करने के लिए घर-घर जाकर सर्वेक्षण करेंगे।
  • सर्वेक्षण के दौरान जब भी आवश्यकता होगी रक्त और मूत्र के नमूने भी एकत्र किए जाएंगे।
  • अतिरिक्त सहायता की स्थिति में राज्य सरकार निदान केन्द्रों तथा प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों को सेवाएं प्रदान करने के लिये उपलब्ध कराएगी।
  • एकत्र किए गए डेटा को बनाए रखा जाएगा और आवश्यकतानुसार आवश्यक कदम उठाए जाएंगे।
  • जल्द ही इसे सभी नागरिकों को शामिल करते हुए पूरे राज्य में विस्तारित करने की योजना है।
  • यह योजना राज्य के सभी निवासियों के कल्याण को सुनिश्चित करते हुए स्वास्थ्य देखभाल पारिस्थितिकी तंत्र को मजबूत करने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है।

बेरोजगारी भत्ता योजना तेलंगाना:

तेलंगाना सरकार ने २२ फरवरी २०१९  को राज्य विधानसभा में अपने बजट २०१९-२० की घोषणा की है। तेलंगाना सरकार ने बेरोजगार युवाओं के लिए एक बेरोजगारी भत्ता योजना का प्रस्ताव दिया है। राज्य के बेरोजगार युवाओं को ३,०१६ रुपये प्रति माह का बिरोजगारी भत्ता प्रदान किया जाएगा। वित्त मंत्रालय का कार्यभाल संभालने वाले तेलंगाना राज्य के मुख्यमंत्री ने बजट को पेश किया है। यह एक वोट-ऑन-अकाउंट बजट है।

राज्य के बेरोजगार युवाओं के लिए वित्तीय सहायता उन्हें खुद को बनाए रखने में मदत करेगी जबकि वे नौकरिया की तलाश भी कर सकेंगे।

                                                                   Unemployment Allowance Scheme Telangana (In English):

 बेरोजगारी भत्ता योजना तेलंगाना

  • राज्य: तेलंगाना
  • लाभ: बेरोजगारी भत्ता
  • लाभार्थी: बेरोजगार युवा

 लाभ:

  • तेलंगाना राज्य के बेरोजगार युवाओं को बिरोजगारी भत्ता प्रदान किया जाएगा।
  •  राज्य के बेरोजगार युवाओं को ३,०१६ रुपये प्रति माह का बिरोजगारी भत्ता प्रदान किया जाएगा।

पात्रता मापदंड:

  • यह योजना केवल बेरोजगार युवाओं के लिए लागू है।
  • यह योजना केवल तेलंगाना राज्य के स्थायी निवासियों के लिए लागू है।

नोट: आयु सीमा, परिवार की आय सूची और अन्य मानदंड की घोषणा की जानी बाकी है। सरकार ने सिर्फ इस योजना की घोषणा की है। योजना के औपचारिक रूप से शुरू होने के बाद तेलंगाना बेरोजगारी भत्ता योजना के लिए आवेदन पत्र और आवेदन प्रक्रिया उपलब्ध होगी।

तेलंगाना सरकार ने बेरोजगारी भत्ते के लिए १,८१० करोड़ रुपये का बजट आवंटित किया है। राज्य के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने बजट पेश किया है। उन्होंने कई सामाजिक कल्याण योजनाओं की घोषणा की है और विभिन्न अन्य योजनाओं के बजट में वृद्धि की है। उन्होंने रायथु बंधु योजना के साथ किसानों को दी जाने वाली वित्तीय सहायता में वृद्धि का प्रस्ताव दिया है। बजट में कृषि ऋण माफी की भी घोषणा की गई है। प्रस्तावित कृषि ऋण माफी योजना के तहत राज्य के किसानों ने ११  दिसंबर २०१८ से पहले लिए गये १ लाख रुपये तक के फसल ऋण माफ कर दिया गया है। राज्य में किसान के कर्ज माफी के लिए ६,००० करोड़ रुपये का बजट आवंटित किया गया है।

 

तेलंगाना खेत ऋण माफी:

तेलंगाना सरकार ने अपना बजट २०१९-२० पेश किया है। तेलंगाना राज्य के मुख्यमंत्री जिनके पास वित्त विभाग का कारभार है, उन्होंने इस बजट को पेश किया है। राज्य के मुख्यमंत्री ने इस योजना के तहत राज्य के जिन किसानों ने ११ दिसंबर २०१८ के पहले १ लाख रुपये तक का फसल ऋण लिया है,उन सभी किसानों का खेत ऋण माफ कर दिया जाएगा। इस योजना के लिए ६,००० करोड़ रुपये का बजट आवंटित किया गया है। तेलंगाना बजट २०१९-२० एक वोट-ऑन-अकाउंट बजट है और २२  फरवरी २०१९ को राज्य विधान सभा में इस बजट को प्रस्तुत किया गया है।

चुनाव २०१८  में तेलंगाना राज्य के किसानों का कृषि ऋण माफ़ करना तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) का चुनावी वादा था। सरकार के पास पहले से ही राज्य में किसानों के लिए कई कल्याणकारी योजनाएं है। इस योजना जैसी एक योजना है जिसे रायथु बंधु योजना कहा जाता है। राज्य के किसानों को प्रति वर्ष ८,००० रुपये  प्रति एकड़ की वित्तीय सहायता प्रदान की जाएंगी। सरकार ने योजना के तहत वित्तीय सहायता में वृद्धि का भी प्रस्ताव दिया है। राज्य के किसानों को वर्तमान में ४,००० रुपये प्रति एकड़ बुवाई के मौसम में प्रदान किये जाएंगे। सरकार ने ५,००० रुपये प्रति एकड़ हर मौसम यानी (खरीफ और रब्बी) मौसम मिलके हर साल १०,००० रुपये प्रति एकड़ की वित्तीय सहायता प्रदान करने का प्रस्ताव दिया है।

                                                                                                  Telangana Farm Loan Waiver (In English):

  •  खेत ऋण माफी योजना
  • राज्य: तेलंगाना
  • लाभ: राज्य के जिन किसानों के ११  दिसंबर २०१८ से पहले १ लाख रुपये तक का फसल ऋण लिया है, वह फसल ऋण माफ़ हो जाएंगा।
  • लाभार्थी: तेलंगाना राज्य के किसान
  • बजट: ६,००० करोड़ रुपये

तेलंगाना खेत ऋण माफी योजना पात्रता मानदंड:

  • यह योजना केवल तेलंगाना राज्य के निवासियों के लिए लागू है।
  • केवल किसानों द्वारा लिए गये कृषि ऋण के लिए यह योजना लागू है।
  • फसल ऋण माफ़ी केवल ११  दिसंबर २०१८ से पहले लिये गये फसल के लिए लागू होती है।

तेलंगाना राज्य के मुख्यमंत्री ने बेरोजगारी भत्ते की भी घोषणा की है। राज्य के बेरोजगार युवाओं को ३,०१६ रुपये प्रति माह प्रदान किया जाएंगा। आसरा पेंशन भी १,००० रुपये प्रति माह से बढ़ाकर २०१६ रुपये प्रति माह कर दी है। आसरा पेंशन वृद्ध, विधवाओं, एकल महिलाओं, बीड़ी श्रमिकों, फाइलेरिया से पीड़ित लोगों, हथकरघा श्रमिकों और ताड़ी-टापरों को प्रदान की जाती है।

तेलंगाना राज्य में मिशन भागीरथ:

प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने तेलंगाना राज्य में मिशन भागीरथ को सभी को सुरक्षित पेयजल प्रदान करने के उद्देश्य से  योजना की घोषणा किया है। यह योजना तेलंगाना के मेडक जिले में गजवेल कोमातिबांडा गांव में राज्य सरकार द्वारा पेश की गई है। मिशन भागीरथ एक जल ग्रिड परियोजना है जिसका उद्देश्य तेलंगाना में स्थानों को दूर करने के लिए सभी को सुरक्षित पेयजल प्रदान करना है।इसका उद्देश्य ग्रामीण परिवारों में प्रति व्यक्ति  १०० लीटर स्वच्छ पेयजल और शहरी परिवारों में प्रति व्यक्ति १५० लीटर स्वच्छ पेयजल प्रदान करना है। इस योजना के तहत  २५०० से अधिक ग्रामीण आवास और ६७ शहरी आवास शामिल किए जाएंगे। कृष्णा और गोदावरी नदी के साथ, निजाम सागर, श्रीराम सागर, कमूरम भीम, जुराला बांध और पारेलू रिजर्वोइयर के पानी का भी इस परियोजनाओं में उपयोग किया जाएगा। मुख्य पाइपलाइन पूरे राज्य में ५००० किमी से अधिक फैल जाएगी।
मुख्य पाइपलाइन कई सबलाइन से जुडी होंगी। निवास के लिए पानी उपलब्ध कराने के लिए राज्य के विभिन्न स्थानों पर कुल ५००० किलोमीटर के किनारे फैले होंगे। पेयजल के लिए एक स्थायी समाधान प्रदान करने के अलावा, इसका लक्ष्य ४५००० से अधिक जल टैंकों को फिर से जीवंत करना है।

                                                                                               Mission Bhagirath In Telangana (In English)

  • कुल लागत : ४२,००० करोड़ रुपये
  • योजना पूरा होने का साल :  साल २०१८

तेलंगाना में मिशन भागीरथ के लाभ:

  • गांवों में स्वच्छ पेयजल का लाभ प्रदान किया जाएगा।
  • ग्रामीण परिवारों में प्रति व्यक्ति को १०० लीटर स्वच्छ पेयजल और शहरी परिवारों में प्रति व्यक्ति को १५० लीटर स्वच्छ पेयजल का लाभ मिलेंगा।

तेलंगाना राज्य में मिशन भागीरथ का उद्देश्य:

तेलंगाना जल ग्रिड का उद्देश्य ग्रामीण परिवारों के प्रति व्यक्ति को १०० लीटर स्वच्छ पेयजल और शहरी परिवारों के प्रति व्यक्ति १५० लीटर स्वच्छ पेयजल प्रदान करना है। इस परियोजना का उद्देश्य लगभग २५००० ग्रामीण आवास और ६७ शहरी आवासों को पानी प्रदान करना है।

तेलंगाना राज्य में मिशन भागीरथ की विशेषताएं:

  • मिशन भागीरथ २०१६ में तेलंगाना में प्रधान मंत्री मोदी द्वारा शुरू की गई एक योजना है। इस योजना के तहत, राज्य भर के लोगों को सुरक्षित पेयजल का लाभ  मिलेगा।
  • ग्रामीण इलाकों में हर घर को पेयजल मुहैया कराने के लिए पूरे राज्य में १.२६ किलोमीटर की पाइपलाइन की जाएगी साथ ही प्रत्येक घर को  प्रति व्यक्ति को १०० लीटर पानी मुहैया कराया जाएगा और शहरी क्षेत्रों  में प्रति व्यक्ति १५० लीटर पानी प्रदान किया जाएगा।
  • २५,००० ग्रामीण आवास और ६७ शहरी आवास इस योजना के तहत शामिल किए जाएंगे। कृष्णा और गोदावरी नदी के साथ, निजाम सागर, श्रीराम सागर, कमूरम भीम, जुराला बांध और पारेलू रिजर्वोइयर का पानी भी इस परियोजनाओं में उपयोग किया जाएगा। मुख्य पाइपलाइन पूरे राज्य में ५००० किमी से अधिक फैल जाएगी। मुख्य पाइपलाइन कई  सबलाइन जुडी होंगी।
  • गांवों और ग्रामीण इलाकों में घरों को पानी उपलब्ध कराने के लिए गांवों में कुल ७५००० किलोमीटर की पाइपलाइन रखी जाएगी, जिसमें गांवों में पानी उपलब्ध कराने के लिए राज्य के विभिन्न स्थानों पर ५००० किलोमीटर के अंतराल फैले होंगे। ये पाइपलाइन द्वितीयक टैंक से जुड़ी होंगी।

संदर्भ और विवरण:

मिशन भागीरथ के बारे में अधिक जानकारी के लिए तेलंगाना में आधिकारिक  वेबसाइट पर संपर्क करे:

  • http://www.telangana.gov.in/news/2014/12/15/water-grid

संबंधित योजनाए:

  • नरेन्द्र मोदी की योजनाएं की सूची
  • तेलंगाना राज्य में योजनाएं की सूची
  • ग्रामीण क्षेत्रों में पानी की योजनाएं की सूची

 

प्रधान मंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना (पीएमजेजेबीवाई):

प्रधान मंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना (पीएमजेजेबीवाई) वित्त मंत्री श्री अरुण जेटली द्वारा घोषित की गयी योजना है और प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी की पहल है जिसके तहत किसी भी राष्ट्रीयकृत बैंक के खाताधारक इस प्रधान मंत्री जीवन बीमा योजना के लिए नामांकन कर सकते है।किस्त की राशि ३३० रुपये  प्रति वर्ष योजना के  जुड़े खाते से स्वचालित रूप से कटौती की जाएगी। यह योजना प्रधानमंत्री जन धन योजना के तहत खोले गए खातों से जुड़ी होगी।

                                                                                Pradhan Mantri Jivan Jyoti Bima Yojana (In English)

प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना का लाभ:

  • २,००,००० रुपये का बीमा: यदि लाभार्थी की दुर्घटना या प्राकृतिक मौत होने पर लाभार्थी  के नामांकित व्यक्ति के खाते  में २,००,००० रुपये प्रदान किये जाएंगे।
    .
  • न्यूनतम किस्त राशि: योजना की किस्त की राशि केवल ३३० रुपये प्रति वर्ष है।योजना के लिए शून्य शेष राशि के साथ पंजीकरण कर सकते है। प्रधान मंत्री जन धन योजना (शून्य शेष राशि खाता) के तहत खोला गया खाता इस योजना से जुड़ा हुआ है।

प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना के लिए पात्रता:

  • लाभार्थी के पास किसी भी राष्ट्रीयकृत बैंक में खाता होना चाहिए।
  • लाभार्थी की आयु १८ से ५० साल होनी चाहिए।

प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज:

  • आधार कार्ड।

प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना के लाभ प्राप्त करने के लिए किससे संपर्क करना और कहां से संपर्क करना:

  • जो इस योजना के लिए पंजीकरण करना चाहता है, वह किसी भी राष्ट्रीयकृत बैंक से संपर्क कर सकता है।
  • भारतीय डाक घर जहां विवरण उपलब्ध है।

योजना के लिए नामांकन के लिए ऑनलाइन आवेदन पत्र डाउनलोड करें:
 

  •  भारतीय डाक :  http://www.indiapost.gov.in/pdf/Jansuraksha%20Scheme/Final%20PMJJY%20Form.pdf
  • भारतीय स्टेट बैंक :
    http://www.sbilife.co.in/sbilife/images/file/documents/PMJJBY_claim_form_and_dischar
    ge_vouc
  • ऐक्सिस बैंक :  http://axis.bank.com/download/PMJJBY-Scheme-English.pdf
  • एचडीएफसी बैंक :  http://www.hdfc.com/htdocs/common//pdf/Claim-Process-and-forms-for-
    PMJJBY.pdf
  • पंजाब नेशनल बैंक :  https://www.pnbindia.in/new/Upload/En/PMJJBY_yojana.pdf
  • बैंक ऑफ महाराष्ट्र :  https://www.bankofmaharashtra.in/downdocs/Prdhan-Mantri-Jeevn-Joyti-Bima-Yojana

अन्य योजनाए:

  • प्रधान मंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना
Lateral Entry in Civil Services IAS officer without UPSC exams

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना:

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना केन्द्र  सरकार आवास और शहरी गरीबी उपशमन मंत्रालय द्वारा शुरू  है। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी साल २०१५ मे इस योजना का शुभारंभ किया है। प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना देश भर के गरीबों और पिछडे वर्ग के लोगों को कार्यशाला देती है।इस योजना का मुख्य उद्देश गरीबी समाप्त करना है।देश से गरीबी समाप्त करने के लिए इस योजना के तहत गरीबों को कार्यशाला दी जाएगी और उन्हे कौशल की सहायता से धन कमाना सिखाया जाएगा।इस तरह से वे सक्षम होकर अपनी कौशल की सहायता से धन अर्जन कर पायेंगे। देश का कोई भि नागरिक इस योजना का फायदा उठा सकता है। हालाँकि इस योजना मे सरकार के विभिन्न विभागों के अफसर सांसद और विधायक शामिल रहेंगे।भारत सरकार देश के गरीब नागरिकों के कल्याण के लिए कई बेहतर काम कर रही है। प्रधानमंत्री मोदी ने ५०० और १००० रुपये के नोट बंद किये. सरकार के इस फेसले से देश के लोगों को कई समास्याओं का सामना करना पड़ा और सबसे अधिक समास्या कालाधन रखने वाले कई लोगों को हुवा।नए अधिनियम के अंतर्गत जो व्यक्ति अपना काला धन बैंक मे जमा करना चाहता है,उन्हे अपने अकाउंट टैक्स का ३०% और उस पर ३३% आधिक सर्चचार्ज लगाया जाएगा।यह सर्चचार्ज प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के अंतर्गत लगाया जाएगा।

                                                                                        Prdhanmantri Garib Kalyan Yojana (In English)

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना का लाभ :

  • प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना समाज या राष्ट्र से गरीबी को खत्म करके गरीब लोगों को  लाभ प्रदान करती है।
  • यह योजना को गरीबों के विकास के लिए तैयार की गयी  है और इसके अंतर्गत सरकार गरीबों को तथा आम लोगों को विभिन्न  कार्यशाला मुक्त मे देंगी।
  • इस योजना के अंतर्गत सरकार सांसदों को कार्यशाला मे शामिल होने का प्रावधान है, ताकि वे गरीबों की समास्याओं को करीब से समज सकें और उसे समाप्त करने का प्रयन्त करे।
  • देश का कोई भी नागरिक इस योजना का फायदा उठा सकता है. हालाँकि इस योजना मे सरकार के विभिन्न विभागों के अफसर सांसद और विधायक शामिल रहेंगे।

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना को लागू करने के लिए पात्रता:

सभी भारतीय नागरिक इस योजना के लिए पात्र है और हर कोई इस योजना के तहत कार्यशाला मे शामिल हो सकता है और योजना का लाभ उठा सकता है । 

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना लागू करने के लिए आवश्यक दस्तावेज:

  •  आधार कार्ड
  •  पहचान पत्र
  •  स्थायी निवास प्रमाण पत्र

आवेदन की प्रक्रिया:

  •  ग्राम स्थर का आवेदक उम्मीदवार नजदीकी ग्रामपंचायत मे संपर्क कर सकते है।
  •  शहरी स्थर का आवेदक उम्मीदवार नजदीकी नगर पालिका कार्यालय मे संपर्क कर  सकते है।   

संपर्क विवरण:

  •  ग्रामपंचायत
  • नगर पालिका
  • जिल्हा परिषद

संदर्भ और विवरण:

दस्तावेजों और अन्य मदद के लिए कृपया आधिकारिक वेबसाइट पर जाएँ:  

  • http://niti.gov.in 

 

  

प्रधान मंत्री कौशल विकास योजना (पीएमकेवीवाई):

प्रधान मंत्री कौशल विकास योजना प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र सरकार (कौशल विकास और उद्यमिता मंत्रालय) द्वारा शुरू की गई योजना है। प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना को पीएमकेवीवाई के रूप में भी जाना जाता है। इस  योजना के माध्यम यह सुनिश्चित करना है कि देश के युवाओं को सर्वश्रेष्ठ तकनीकी प्रशिक्षण प्राप्त होगा ताकि वे देश के समग्र उत्पादन में वृद्धि कर सकें और बदले में भारत देश में बेहतर रोजगार वाला जीवन लाभार्थी को प्रदान कर सके। इस योजना का उद्देश्य अनुमोदित प्रशिक्षण कार्यक्रमों के सफल समापन के लिए मौद्रिक पुरस्कार प्रदान करके युवाओं के लिए कौशल विकास को प्रोत्साहित करना है।

                                                                                      Prdhanmantri Kaushal Vikas Yojana (In English)

टोल-फ्री नंबर: ०८८०००-५५५५५

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना का लाभ:

  • इस योजना के तहत देश के सभी युवाओं को सर्वश्रेष्ठ तकनीकी शिक्षा और कौशल प्रदान कियाजाएगा जो लाभार्थी को भारत और विदेशों में बेहतर रोजगार प्राप्त करने में मदद होंगी।
  • अधिकृत संस्थानों द्वारा कौशल प्रशिक्षण से गुजरने वाले उम्मीदवारों को औसत ८००० (आठ हजार रुपये) प्रति उम्मीदवार मौद्रिक इनाम प्रदान किया जाएगा।
  • उम्मीदवार को प्रधानमंत्री कौशल योजना के माध्यम से अच्छी गुणवत्ता, बेहतर वेतन वाली नौकरियों और स्वयंरोजगार के अवसरों के लिए युवाओं की आकांक्षाओं को पूरा करने में मदद मिलेंगी।
  • इस योजना के तहत मौद्रिक इनाम प्रशिक्षुओं को प्रदान किया जाएगा जिन्हें सफलतापूर्वक प्रशिक्षित मूल्यांकन किया गया है और संबद्ध प्रशिक्षण प्रदाताओं द्वारा संचालित कौशल पाठ्यक्रमों में प्रमाणित किया जाएगा।
  • इस योजना के लाभों के बारे में अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए कृपया इस लिंक पर जाएं:
    (http://www.skilldevelopment.gov.in/assets/images/PMKVY%20Scheme%20booklet.pdf)

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना के लाभ प्राप्त करने के लिए पात्रता:

  • सभी युवा जो भारतीय निवासी  है  वह इस योजना के लिए पात्र है
  • जो लाभार्थी कौशल विकास प्रशिक्षण कार्यक्रम में नामांकित है और एक योग्य क्षेत्र में काम करना चाहते है वह इस योजना के लिए पात्र है
  • जो लाभार्थी योजना शुरू होने के एक वर्ष की अवधि के लिए प्रमाणित है
  • एक शर्त पर इनाम धन प्राप्त हो रहा है जो अपने पूरे जीवनकाल के दौरान पहली और एकमात्र समय के लिए

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना लागू करने के लिए आवश्यक दस्तावेज:

  • अद्वितीय पहचान प्रमाण पत्र जैसे की आधार कार्ड
  • बैंक खाता
  • निवास प्रमाण पत्र
  • स्कूल और कॉलेज के प्रमाण पत्र और मार्कशीट्स (वैकल्पिक)

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना में आवेदन करने के लिए एक प्रशिक्षण केंद्र में पंजीकृत होने की प्रक्रिया:

  • इस योजना में नामांकन प्राप्त करने से पहले किसी को प्रशिक्षण केंद्र ढूंढना होंगा और योजना में शामिल होना होंगा। कोई भी आधिकारिक वेबसाइट पर आपके क्षेत्र के पास एक पंजीकृत प्रशिक्षण केंद्र ढूंढ सकते है :(http://www.pmkvyofficial.org)
  • प्रशिक्षण केंद्र की पसंद के बाद  उम्मीदवार को पोर्टल में सभी आवश्यक जानकारी प्रदान करनी होगी। प्रशिक्षण भागीदार उम्मीदवार की जानकारी उनके डेटाबेस पर प्राप्त करेगा और कौशल विकास प्रशिक्षण की व्यवस्था करेगा। प्रशिक्षण केंद्र में सफल प्रशिक्षण के बाद, प्रशिक्षण भागीदार द्वारा प्रमाणीकरण किया जाएगा। प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना (पीएमकेवीवाई) में उल्लिखित मानदंडों के अनुसार प्रमाणित व्यक्ति को (मुख्य रूप से मौद्रिक पुरस्कार) दिया जाएगा। लाभार्थी को पैसा एनएसडीसी (राष्ट्रीय कौशल विकास निगम) द्वारा दिया जाएगा।

ऑनलाइन पंजीकरण आवेदन पत्र यहां उपलब्ध है:

  • http://www.pmkvyofficial.org

संदर्भ और विवरण:

  •  http://www.pmkvyofficial.org
  • http://www.skilldevelopment.gov.in/assets/images/PMKVY%20Scheme%20bo oklet.pdf
  • लाभार्थी टोल फ्री नंबर ०८८०००-५५५५५ पर संपर्क कर सकते है.
  • लाभार्थी ईमेल के माध्यम से संपर्क कर सकते है: pmkvy@nsdcindia.org

संबंधित योजनाए:

  • प्रधान मंत्री कौशल विकास योजना
  • युवाओं के लिए प्रधानमंत्री योजना

तेलंगाना मतदाता पहचान पत्र ऑनलाइन डाउनलोड करें: नाम से खोजें, ईपीआईसी नंबर, घर नंबर, ceotelangana.nic.in से मतदाता पर्ची प्रिंट करें

तेलंगाना राज्य विधानसभा चुनाव २०१८ की घोषणा की गई है और मतदान ७ दिसंबर २०१८ को आयोजित किया है।मुख्य निर्वाचन अधिकारी (सीईओ) ने तेलंगाना राज्य की  मतदाताओं की सूची अपडेट की है और  विधानसभा चुनाव २०१८  की नवीनतम मतदाता सूची प्रकाशित की है।अब तेलंगाना राज्य का नागरिक मतदान पहचान पत्र सीईओ तेलंगाना  ceotelangana.nic.in की आधिकारिक वेबसाइट से ऑनलाइन डाउनलोड कर सकता है। मतदाता अब वेबसाइट की मदत से मतदाता नाम, ईपीआईसी नंबर, घर नंबर,सभा निर्वाचन क्षेत्र,  के तहत विधानसभा चुनाव २०१८ में अपने मतदान पहचान पत्र की खोज कर सकता है।मतदाता अपने मतदान केंद्र को भी ढूंढ सकते है / बूथ ऑनलाइन और मुद्रित मतदान पर्ची जो वोट डालने के लिए आवश्यक है।

                                                                            Telangana Voter ID card download online (In English)

तेलंगाना मतदान पहचान पत्र ऑनलाइन ceotelangana.nic.in  डाउनलोड करें:

  • सीईओ तेलंगाना आधिकारिक वेबसाइट ceotelangana.nic.in पर जाने के लिए यहां क्लिक करें।
  • अपना नाम मेनू में खोजें और फिर सभा निर्वाचन क्षेत्र उप-मेनू पर क्लिक करें या यहां क्लिक करें।
  • आप अपने नाम, घर नंबर,पहचान पत्र नंबर आदि से मतदान यादी में अपना नाम खोज सकते है।जिला और विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र का नाम का चयन करें, फिर अपना नाम, पहचान पत्र (ईपीआईसी नंबर) या घर का नंबर दर्ज करें, कैप्चा दर्ज करें और खोज बटन पर क्लिक करें।
  • आपके नाम से मेल खाने वाले मतदाताओं की सूची दिखायी जाएगी, मैन्युअल रूप से अपना नाम ढूंढें और फिर प्रिंट लिंक पर क्लिक करें।
  • आपका पहचान पत्र खुल जाएगा जो मतदाता पर्ची के रूप में कार्य करता है साथ ही मतदान  पहचान पत्र डाउनलोड / मतदाता पर्ची मुद्रित करता है।

मतदान करने के लिए मतदाता पर्ची की आवश्यकता होती है और पर्ची वोट देने का अधिकार प्रदान करती है।राज्य के  वो लोग जिनके पास मतदान पहचान पत्र नहीं है उन्हें मतदान पहचान पत्र के लिए ऑनलाइन आवेदन करने की आवश्यकता होती है।

राज्य के वे सभी नागरिक जो तेलंगाना चुनावी रोल २०१८ में अपना नाम नहीं ढूंढ सकते है और आवेदन पत्र भर सकते है।तेलंगाना मतदाता सूची में अपना नाम शामिल करने के लिए मतदाता पहचान पत्र आवेदन की स्थिति की जांच करने के लिए यहां क्लिक करें आवेदन पहचान पत्र, घर नंबर,आवेदन पत्र- ६, आवेदन पत्र-७ , आवेदन पत्र- ८ या आवेदन पत्र -८ ए की सहायता से मतदाता पहचान पत्र आवेदन स्थिति ऑनलाइन जांच की जा सकती है।कोनसी भी संख्या दर्ज करें और खोज बटन पर क्लिक करें। आपके मतदान पहचान पत्र आवेदन की स्थिति दिखाई जाएगी।

एसएमएस के साथ मतदाता सूची में अपना नाम सत्यापित करें: आप एसएमएस का उपयोग कर तेलंगाना चुनावी रोल २०१८ में अपना नाम खोज / सत्यापित कर सकते हैं। मतदाता सूची में अपना नाम देखने के लिए निम्नलिखित संदेश / एसएमएस ९२२३१६६१६६ या ५१९६९ नंबर पर भेजें।

टीएस <स्पेस> वोट <स्पेस> मतदाता नंबर

उदाहरण: टीएस वोट एबीसी १२३४५६७

आपको एसएमएस संदेश के माध्यम से विवरण प्राप्त होगा।

तेलंगाना चुनाव २०१८:

 

तेलंगाना मतदाता सूची २०१८ (ceotelangana.nic.in): फोटो के साथ सीईओ तेलंगाना मतदाता सूची डाउनलोड

भारत देश के निर्वाचन आयोग ने तेलंगाना राज्य विधानसभा चुनाव २०१८ की घोषणा की है। चुनावके लिए मतदान ७ दिसंबर को आयोजित किया जाएगा और चुनाव २०१८  की गणना / परिणाम  ११ दिसंबर २०१८ को घोषित किए जाएंगे। सीईओ तेलंगाना ने नवीनतम राज्य तेलंगाना मतदाता २०१८ की सूची अपनी आधिकारिक वेबसाइट  ceotelangana.nic.in पर प्रकाशित की है।

Telangana Voter List 2018 (In English)

सीईओ तेलंगाना मतदाता सूची / चुनावी रोल:

फोटो, निर्वाचन क्षेत्रवार, जिलावार, मतदान केंद्र / बूथ-वार के साथ नवीनतम सीईओ तेलंगाना चुनावी रोल मुख्य निर्वाचन अधिकारी तेलंगाना की आधिकारिक वेबसाइट ceotelangana.nic.in से पीडीएफ प्रारूप में डाउनलोड की जा सकता है। मतदाता मतदाता सूची में अपना नाम पा सकते है। अपने मतदान पहचान पत्र और मतदान पर्ची डाउनलोड कर सकते है, जिसे तेलंगाना विधानसभा चुनाव २०१८ में अपना वोट देने के लिए आवश्यकता पड़ेगी।

चुनाव आयोग ने सभी योग्य मतदाताओं से मतदान पहचान पत्र के लिए आवेदन करने या किसी भी गलतियों के मामले में मतदान पहचान पत्र  को अपडेट करने का अनुरोध किया है। मतदाता अब मतदान पहचान पत्र आवेदन और अपडेट के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते है। एसएमएस सत्यापन के साथ मतदान पहचान पत्र ऑनलाइन डाउनलोड कर सकते है। सीईओ तेलंगाना ने विधानसभा चुनाव २०१८  के लिए नवीनतम तेलंगाना मतदाता सूची / चुनावी रोल को अपडेट किया है। जो लोग  मतदान पहचान पत्र  के लिए आवेदन कर चुके है वे अब अपने  मतदान पहचान पत्र की स्थिति की जांच कर सकते है।

तेलंगाना विधानसभा चुनाव  २०१८ की तिथियां:

  • राजपत्र अधिसूचना जारी करने की तिथि : १२  नवंबर  २०१८
  • उम्मीदवार/ नामांकन २०१८ भरने की अंतिम तिथि (चुनाव आवेदन पत्र जमा करना) : १९  नवंबर  २०१८
  • नामांकन  जांच की तिथि : २० नवंबर २०१८
  • नामांकन वापस लेने की अंतिम तिथि : २२ नवंबर २०१८
  • विधान सभा  मतदान की तिथि : ७ दिसंबर २०१८
  • गिनती / मतदान परिणाम घोषणाओं की तिथि : ११ दिसंबर २०१८

सीईओ तेलंगाना मतदाता सूची / चुनावी रोल २०१८  डाउनलोड करें:

सीईओ तेलंगाना मतदाता सूची २०१८ उनकी आधिकारिक वेबसाइट ceotelangana.nic.in पर उपलब्ध की है और पीडीएफ प्रारूपों में फोटो के साथ डाउनलोड की जा सकती है। तेलंगाना चुनावी रोल / ई-रोल सभा निर्वाचन क्षेत्रवार, जिलावार, मतदान केंद्रवार उपलब्ध है।

  • सीईओ तेलंगाना ceotelangana.nic.in की आधिकारिक वेबसाइट पर जाने के लिए यहां क्लिक करें।
  • PDF Electoral Rolls मेनू पर स्क्रॉल करें और फिर उप-मेन्यू Assembly Constituency पर क्लिक करें या तेलंगाना मतदाता सूची २०१८  डाउनलोड पर जाने के लिए यहां क्लिक करें।

  • जिला और विधानसभा क्षेत्र का चयन करें और फिर Get polling Stations बटन पर क्लिक करें।
  • सभी मतदान केंद्रों की सूची उनके स्थानों के साथ दिखायी जाएगी, View बटन पर क्लिक करें, पीडीएफ प्रारूप में मतदाता सूची देखने के लिए कैप्चा दर्ज करें।

  • मतदाता सूची में अपना नाम ढूंढने के लिए मैन्युअल खोज करें। आप अपने नाम, पिता का नाम, घर संख्या आदि के साथ अपना खोज सकते है।

तेलंगाना विधानसभा चुनाव  २०१८:

स्वयं प्रभा योजना:शैक्षणिक सामग्री डीटीएच के माध्यम से:

भारत सरकार ने मानव संसाधन विकास मंत्रालय के सहयोग से नई योजना सुरु की है। जिसका नाम स्वयं प्रभा योजना है।स्वयं प्रभा योजना मैं ३२ डायरेक्ट-टू-होम (डीटीएच) टेलीविजन चैनल दिखाये जाते है। सभी शिक्षकों, छात्रों और देश भर में नागरिकों के लिए उच्च गुणवत्ता वाले शैक्षणिक सामग्री उपलब्ध कराने के लिए भारत सरकार ने ये सुविधा सुरु की है। इन चैनल द्वारा स्कूल और विश्वविद्यालय के छात्रों के लिए कार्यक्रमों का प्रसारण किया जाएगा। सरकार की ये पहल ग्रामीण इलाकों के छात्रों की मदद करने के लिए है। इस चैनल द्वारा आईआईटी सहित शीर्ष पायदान संस्थानों से कक्षा व्याख्यान का एक सीधा प्रसारण होगा।चैनल ४ घंटे पाठ के साथ हर दिन मे अलग-अलग विषयों को एक दिन मे ६ बार दोहराया जायेगा।कला, विज्ञान, वाणिज्य, कला प्रदर्शन, सामाजिक विज्ञान और मानविकी के विषयों, इंजीनियरिंग, प्रौद्योगिकी, कानून, चिकित्सा, कृषि आदि के रूप में पाठ्यक्रम आधारित पाठ्यक्रम दिखाए जायेगे। प्रारंभ में कार्यक्रम अंग्रेजी भाषा मैं दिखाए जायेगे। लेकिन कुछ समय के बाद सरकार क्षेत्रीय भाषाओं में कार्यक्रमों का शुभारंभ किया जाएगा।पहले चरण मे आईआईटी बॉम्बे, आईआईटी मद्रास, आईआईटी कानपुर, आईआईटी गुवाहाटी, आईआईटी दिल्ली,जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय ,ईग्नू,आईआईएम बैंगलोर,आईआईएम कलकत्ता विश्वविद्यालय मे योजना शुरू की जाएगी।

पाठ्यक्रम आधारित शिक्षा चैनल इस प्रकार है :

  • कला
  • विज्ञान
  • व्यापार
  • कला प्रदर्शन
  • सामाजिक विज्ञान
  • मानविकी विषयों
  • अभियांत्रिकी
  • प्रौद्योगिकी
  • कानून
  • दवा
  • कृषि

स्वयं प्रभा योजना की विशेषताएं:

१. कला, विज्ञान, वाणिज्य, कला प्रदर्शन, सामाजिक विज्ञान और मानविकी के विषयों, इंजीनियरिंग, प्रौद्योगिकी, कानून,      चिकित्सा, कृषि आदि के रूप में पाठ्यक्रम आधारित पाठ्यक्रम दिखाए जायेगे।

२. योजना के तहत स्कूल शिक्षा,स्नातक, स्नातकोत्तर, इंजीनियरिंग,स्कूली बच्चों,व्यवसायिक पाठ्यक्रम और शिक्षकों के  प्रशिक्षण को शामिल किया जाएगा।

३. प्रारंभ में कार्यक्रम अंग्रेजी भाषा मैं दिखाए जायेगे। लेकिन कुछ समय के बाद सरकार क्षेत्रीय भाषाओं में कार्यक्रमों का  शुभारंभ किया जाएगा‌‌‍।

 

छात्र स्वयं प्रभा योजना का लाभ कैसे प्राप्त कर सकते है:

 

१. मंत्रालय ने विषय विशेषज्ञों की नियुक्ति की है। इन विशेषज्ञों के द्वारा संचालित चित्र,विडियो और चित्र सहित अध्ययन  सामग्री का चयन किया जायेगा।

२. सामग्री देखने के ब बाद छात्रों को अंतरिक्ष अनुप्रयोग और भूसूचना विज्ञान भास्कराचार्य संस्थान का  टोल फ्री हेल्पलाइन  नंबर के माध्यम से छात्र अपने सवाल का जवाब प्राप्त कर सकता है।

३. मंत्रालय द्वारा विषय विशेष विशेषज्ञों की नियुक्ति की जाएगी ताकि अच्छी गुणवत्ता की सामुग्री प्रदान की जाए और  विशेषज्ञों को घंटे के हिसाब से पैसे दिए जाएगे।  

४. यह विषय विशेषज्ञों छात्र को सामुग्री और छात्र के सवाल के जवाब प्रदान करेगा।

संदर्भ और विवरण:

१. अधिक जानकारी के लिए  वेबसाइट पर संपर्क करे https://swayam.gov.in/Home

२. स्वयं एप्लीकेशन  डाउनलोड करने के लिए यहां जाएं: https://play.google.com/store/apps/details?id=in.gov.swayam.app