पंजाब सरकार के कर्मचारी और पेंशनभोगी स्वास्थ्य बीमा योजना (पीजीईपीएचआईएस)

पंजाब सरकार के कर्मचारी और पेंशनभोगी स्वास्थ्य बीमा योजना पंजाब सरकार (स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय) द्वारा अनिवार्य सेवा के आधार पर सरकारी सेवारत कर्मचारी और पेंशनभोगी के लिए शुरू की गई है। इस योजना का मुख्य उद्देश्य अंतरंग चिकित्सा बीमारी को कवर करने के लिए नगदीरहित स्वास्थ्य बीमा प्रदान करना है। स्वास्थ्य बीमा योजना नि:शुल्क चिकित्सा के साथ चिकित्सा उपचार के दौरान किये गये सभी खर्चों का भुगतान करेगी। इस योजना के तहत पंजाब राज्य के सभी कर्मचारी जैसे कि पंजाब सरकार के सभी कर्मचारी, जिसमें भारत देश के सभी सेवा अधिकारी, सेवारत,नये भर्ती हुए, सेवानिवृत्त और सेवानिवृत्त अधिकारी शामिल है।

                 Punjab Government Employees And Helath Insurance Scheme (PGEPHIS) (In English)

टोल-फ्री नंबर: १०४

कैशलेस टोल-फ्री नंबर: १८००-२३३-५५५७

पंजाब सरकार के कर्मचारी  और पेंशनभोगी के स्वास्थ्य बीमा योजना के लाभ:

  • पंजाब सरकार के कर्मचारी और पेंशभोगी स्वास्थ्य बीमा योजना, कैशलेस बीमा और नि:शुल्क चिकित्सा उपचार के रूप में लाभ प्रदान करती है। कुछ लाभ नीचे दिये गये है।
  • बीमा योजना किसी भी बीमारी, रोग, चोट के कारण होने वाले चिकित्सा उपचार के दौरान किये गये सभी खर्चों का भुगतान करेगी और नि:शुल्क चिकित्सा उपचार प्रदान किया जाएंगा।
  • पहले से मौजूद  बीमारियों पर लाभ: इस योजना के तहत सभी बीमारियों को एक दिन से कवर किया जाएगा।
  • पाहिले और बाद में अस्पताल में भर्ती: लाभार्थी को चिकित्सा उपचार के दौरान ७ दिन के पाहिले और ३० दिनों के बाद के तक के सेवा प्रदान की जाएंगी।
  • मातृत्व लाभ इसका मतलब है कि प्रसूति या सिजेरियन सेक्शन सहित बच्चे के जन्म से उत्पन्न होने वाले अस्पताल / नर्सिंग होम में लिया गया उपचार जिसमें गर्भपात या गर्भपात दुर्घटना या अन्य चिकित्सीय आपात स्थितियों से प्रेरित है।
  • यह लाभ केवल पहले दो जीवित बच्चों तक ही सीमित रहेगा, जो किसी भी प्रतीक्षा अवधि के बिना बीमा के तहत पहले दिन से कवर किए गए अवलंबित पति / पत्नी कर्मचारी के संबंध में है।

पंजाब सरकार के कर्मचारी और  पेंशनभोगी को स्वास्थ्य बीमा योजना लागू करने के लिए आवश्यक पात्रता और शर्तें:

  • उम्मीदवार पंजाब राज्य का निवास होना चाहिए।
  • योजना के तहत पंजाब राज्य के सभी कर्मचारी जैसे कि पंजाब सरकार के सभी कर्मचारी, जिसमें भारत के सभी सेवा अधिकारी, सेवारत, नए भर्ती हुए, सेवानिवृत्त और सेवानिवृत्त अधिकारी शामिल है।
  • यह योजना पंजाब चिकित्सक परिचारक नियम [सीएस (एमए) नियम, १९४०] के तहत एक परिवार और आश्रितों को कवर करेगी। नवजात शिशु को वर्तमान पॉलिसी की समाप्ति तक पहले दिन से बीमित माना जाएगा।

 पंजाब सरकार के कर्मचारी और  पेंशनभोगी स्वास्थ्य बीमा योजना को लागू करने के लिए आवश्यक आवेदन प्रक्रिया और दस्तावेज:

  • मूल निवासी प्रमाण पत्र
  • आधार कार्ड
  • पहचान प्रमाण जैसे की मतदाता प्रमाण पत्र
  • निवास प्रमाण पत्र
  • उस व्यक्ति के सरकारी कर्मचारी या पेंशनभोगी होने के दस्तावेज
  • आय प्रमाण पत्र या आवेदन पत्र नंबर १६

आवेदन की प्रक्रिया:

  • उम्मीदवार आधिकारिक वेबसाइट http://www.mdindiaonline.com/pes/pesmain.aspx पर जा सकते है और अस्पताल की खोज टैब और अन्य टैब के लिए भी खोज कर सकते है, जिसमें एक आवेदक को विस्तृत मदत मिल सकती है।
  • आवेदन पत्र: उम्मीदवार उल्लेखित लिंक से डाउनलोड कर सकते है:   http://www.mdindiaonline.com/pes/PESDownloads.aspx

किससे संपर्क करें और कहां संपर्क करें:

  • उम्मीदवार एमडीआयएनडीआयए  हेल्थ केयर सर्विसेज प्राइवेट लिमिटेड  से संपर्क कर सकते है:
  • उम्मीदवार ईमेल कर सकते है: authorization_pgephis@mdindia.com

 संदर्भ और विवरण:

 

Lateral Entry in Civil Services IAS officer without UPSC exams

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना:

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना केन्द्र  सरकार आवास और शहरी गरीबी उपशमन मंत्रालय द्वारा शुरू  है। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी साल २०१५ मे इस योजना का शुभारंभ किया है। प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना देश भर के गरीबों और पिछडे वर्ग के लोगों को कार्यशाला देती है।इस योजना का मुख्य उद्देश गरीबी समाप्त करना है।देश से गरीबी समाप्त करने के लिए इस योजना के तहत गरीबों को कार्यशाला दी जाएगी और उन्हे कौशल की सहायता से धन कमाना सिखाया जाएगा।इस तरह से वे सक्षम होकर अपनी कौशल की सहायता से धन अर्जन कर पायेंगे। देश का कोई भि नागरिक इस योजना का फायदा उठा सकता है। हालाँकि इस योजना मे सरकार के विभिन्न विभागों के अफसर सांसद और विधायक शामिल रहेंगे।भारत सरकार देश के गरीब नागरिकों के कल्याण के लिए कई बेहतर काम कर रही है। प्रधानमंत्री मोदी ने ५०० और १००० रुपये के नोट बंद किये. सरकार के इस फेसले से देश के लोगों को कई समास्याओं का सामना करना पड़ा और सबसे अधिक समास्या कालाधन रखने वाले कई लोगों को हुवा।नए अधिनियम के अंतर्गत जो व्यक्ति अपना काला धन बैंक मे जमा करना चाहता है,उन्हे अपने अकाउंट टैक्स का ३०% और उस पर ३३% आधिक सर्चचार्ज लगाया जाएगा।यह सर्चचार्ज प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के अंतर्गत लगाया जाएगा।

                                                                                        Prdhanmantri Garib Kalyan Yojana (In English)

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना का लाभ :

  • प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना समाज या राष्ट्र से गरीबी को खत्म करके गरीब लोगों को  लाभ प्रदान करती है।
  • यह योजना को गरीबों के विकास के लिए तैयार की गयी  है और इसके अंतर्गत सरकार गरीबों को तथा आम लोगों को विभिन्न  कार्यशाला मुक्त मे देंगी।
  • इस योजना के अंतर्गत सरकार सांसदों को कार्यशाला मे शामिल होने का प्रावधान है, ताकि वे गरीबों की समास्याओं को करीब से समज सकें और उसे समाप्त करने का प्रयन्त करे।
  • देश का कोई भी नागरिक इस योजना का फायदा उठा सकता है. हालाँकि इस योजना मे सरकार के विभिन्न विभागों के अफसर सांसद और विधायक शामिल रहेंगे।

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना को लागू करने के लिए पात्रता:

सभी भारतीय नागरिक इस योजना के लिए पात्र है और हर कोई इस योजना के तहत कार्यशाला मे शामिल हो सकता है और योजना का लाभ उठा सकता है । 

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना लागू करने के लिए आवश्यक दस्तावेज:

  •  आधार कार्ड
  •  पहचान पत्र
  •  स्थायी निवास प्रमाण पत्र

आवेदन की प्रक्रिया:

  •  ग्राम स्थर का आवेदक उम्मीदवार नजदीकी ग्रामपंचायत मे संपर्क कर सकते है।
  •  शहरी स्थर का आवेदक उम्मीदवार नजदीकी नगर पालिका कार्यालय मे संपर्क कर  सकते है।   

संपर्क विवरण:

  •  ग्रामपंचायत
  • नगर पालिका
  • जिल्हा परिषद

संदर्भ और विवरण:

दस्तावेजों और अन्य मदद के लिए कृपया आधिकारिक वेबसाइट पर जाएँ:  

  • http://niti.gov.in 

 

  

प्रधानमंत्री वय वंदन योजना (पी एम वि वाय ए): वरिष्ठ नागरिको के लिए कर मुक्त पेंशन योजना – पात्रता, फायदे, आवेदन पत्र और आवेदन की प्रक्रिया

भारत सरकार ने वरिष्ठ नागरिकों के पेंशन पर सम्मानजनक रिटर्न प्रदान करने के लिए प्रधानमंत्री वाया वंदना योजना (पी एम वि वाय ए) का शुभारंभ किया है. प्रधानमंत्री वाया वंदना योजना के लिए वरिष्ठ नागरिकों की उम्र ६० साल या उससे ज्यादा होना चाहिए. इस योजना का नामांकन ३ मई २०१८ तक उपलब्ध रहेगा उसके बाद नामांकन नही होंगा कारन की यह एक वर्ष योजना है. प्रधानमंत्री वाया वंदना योजना वरिष्ठ नागरिकों के लिए ८% प्रति वर्ष रिटर्न प्रदान करेगी उसके लिए १० वर्ष तक मासिक भुगतान करना पड़ेगा. प्रधानमंत्री वाया वंदना योजना के तहत भारतीय जीवन बीमा निगम (एलआईसी) योजना को लागू करने के लिए अधिकृत है.भारत के वित्तीय मंत्री श्री अरुण जेटली ने मई २०१७ मे योजना शुरु की है और प्रधानमंत्री वाया वंदना योजना के तहत भारतीय जीवन बीमा निगम (एलआईसी) ने अब तक ५८,१५२ दाखिले लिए गए और लाभार्थी को भुगतान के रुप मे २७०५ करोड़ रुपये प्रदान किए.

प्रधानमंत्री वाया वंदना योजना (पी एम वि वाय ए) की मुख्य विशेताएं:

  • एक पेंशन योजना जो ४ मई २०१७ को शुरू की गयी
  • वरिष्ठ नागरिकों के लिए केवल ३ मई २०१८ तक नामांकन प्रक्रिया उपलब्ध रहेगी
  • अधिकृत रुप से केवल एलआईसी इस योजना को बेच सकती है और एलआईसी के तहत ऑफलाइन या ऑनलाइन खरीदा जा सकता है
  • योजना के तहत साल मे एक बार प्रीमियम भुगतान करना होगा और कोई मासिक प्रीमियम भुगतान करने की आवश्कता नही है
  • योजना का कार्यकाल १० साल है और योजना खरीदने के अगले साल से मासिक पेंशन अगले १० वर्ष तक दी जाएगी
  • मासिक पेंशन भुगतान ८% की व्याज पर किया जाता है
  • वार्षिक पेंशन प्रीमियम १२,००० रुपये है जो मासिक,हर ३ महिने और हर ६ महिने के रुप में प्राप्त किया जा सकता है
  • न्यूनतम पेंशन योजना १,४४,५७८ रुपये की होगी
  • आधिकतम प्रीमियम ६०,००० रुपये प्रति साल पेंशन योजना के तहत अनुमति दी है और लाभार्थी को ७,२२,८९२ रुपये भुगतान राशि के रुप मे प्राप्त होंगे
  • प्रधानमंत्री वय वंदना योजना (पी एम वि वाय ए) के परिपक्वता पर अगर पेंशनभोगी जिंदा है तो उसको पेंशन क़िस्त के साथ पेंशन कीमत मिल जाएगी अन्यथा नामांकित व्यक्ति को पेंशन कीमत मिल जाएगी
  • योजना कर मुक्त है और जीएसटी योजना पर लागू नही है
  • पेंशनभोगी या उसकी पत्नी बीमार होने पर अपनी पेंशन जमा राशि वापस ले सकते है और उस मामले मे लाभार्थी को जमा राशि के ९८% राशि प्राप्त होगी

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना (पी एम वि वाय ए) खरीदने के लिए और अधिक विवरण जानने के लिए एल.आय.सी. अधिकृत वेबसाइट पर जाएँ, या तो अपने एलआईसी एजेंट से बात करे