मेधा प्रोस्ताहन योजना हिमाचल प्रदेश: १ लाख रुपये की वित्तीय सहायता मेधावी छात्रों को कोचिंग के लिए   

हिमाचल प्रदेश सरकार ने राज्य में १२ वीं कक्षा और कॉलेज के मेधावी छात्रों के लिए मेधा प्रोस्ताहन योजना शुरू की है। कोचिंग के लिए उन्हें १ लाख रुपये की वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी और विभिन्न प्रतिस्पर्धी परीक्षाओं की तैयारी के लिए छात्रों को प्रोत्साहित किया जाएंगा।हिमाचल प्रदेश राज्य में छात्रों को प्रतिस्पर्धी परीक्षाओं में जाने के लिए और उन्हें समर्थन देने के लिए छात्रवृत्ति प्रदान की जाएगी। कमजोर पृष्ठभूमि के गरीब छात्रों के लिए यह योजना सहायक होने की उम्मीद है। मेधा प्रोत्सहन योजना की मदद से छात्र यूपीएससी, एसएससी, एनईईटी, आईआईटी-जेईई, एम्स, सीएलएटी, एएफएमसी परीक्षाओं जैसे प्रतिस्पर्धी परीक्षाओं की तैयारी कर सकेंगे। छात्रों को इस योजना के तहत विशेषज्ञों से कोचिंग प्रदान की जाएंगी।

                                                                       Medha Protsahan Yojana Himachal Pradesh (In English)

हिमाचल प्रदेश सरकार ने साल २०१८ के बजट में इस योजना के लिए ५ लाख रुपये आवंटित किये है।इस योजना से उन लोगों के लिए रोजगार पैदा करने की भी उम्मीद है जो शिक्षकों की नौकरियों की तलाश में है और अपने संबंधित क्षेत्रों में विशेषज्ञ है।

हिमाचल प्रदेश मेधा प्रोस्ताहन योजना: हिमाचल प्रदेश राज्य में मेधावी छात्रों के लिए छात्रवृत्ति योजना है और उन्हें कोचिंग के लिए १ लाख रुपये की वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी।

मेधा प्रोस्ताहन योजना का उद्देश्य:

  • विद्यार्थियों को प्रोत्साहित करने और सशक्त बनाने के लिए यह योजना राज्य में शुरू की है।
  • राज्य के छात्रों को उच्च अध्ययन के लिए वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी।
  • यह सुनिश्चित करने के लिए कि किसी को वित्तीय संकट की वजह से छात्रों को शिक्षा बिच में से छोड़नी ना पड़े।

 मेधा प्रोस्ताहन योजना के लिए पात्रता :

  • यह योजना हिमाचल प्रदेश के निवासियों के लिए लागू है।
  • केवल १२ वीं कक्षा और कॉलेज के मेधावी छात्र इस योजना के लिए पात्र  है।
  •  केवल गरीब छात्रों के लिए यह योजना उपयुक्त है जिनकी पारिवारिक  वार्षिक आय २.५ लाख से अधिक नहीं होनी चाहिए।

मेधा प्रोस्ताहन योजना का लाभ:

  • राज्य के छात्रों को कोचिंग के लिए  १ लाख रुपये की वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी।
  •  राज्य के छात्रों को  सर्वश्रेष्ठ कोचिंग सेंटर में से  विशेषज्ञों से नि:शुल्क  कोचिंग प्रदान किया जाएगा।

     छात्र राज्य में कोचिंग प्राप्त कर सकते है और राज्य के बाहर से भी कोचिंग प्राप्त कर सकते  है।हिमाचल प्रदेश राज्य के         मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने इस योजना की घोषणा की।

मेधा प्रोस्ताहन योजना का आवेदन कैसे करें:

मेधा  प्रोस्ताहन योजना के लिए आवेदन पत्र संबंधित स्कूलों और कॉलेजों में उपलब्ध होंगे। स्कूल और कॉलेज प्राधिकरण योजना के विवरण और योजना के लिए आवेदन की सूची के साथ योजना का विवरण प्रदान करेंगे।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *