मृदा स्वास्थ्य कार्ड योजना/सॉइल हेल्थ कार्ड (एस एच सी): पात्रता, आवश्यक दस्तावेज़, आवेदन पत्र और आवेदन की प्रक्रिया

भारत सरकार ने भारतीय किसानों के लिए फरवरी २०१५ मे  मृदा स्वास्थ्य कार्ड योजना/सॉइल हेल्थ कार्ड (एस एच सी) स्वास्थ्य कार्ड योजना शुरु की है। इस योजना के तहत सरकार किसानों के लिए मृदा स्वास्थ्य कार्ड प्रदान करेंगी, जिससे किसान को मिट्टी की गुणवत्ता का अध्ययन करके एक अच्छी फसल प्राप्त करने मे सहायता मिल सके। फसल के लिए सबसे ज्यादा जरुरी होती है मिट्टी, यदि मिट्टी की गुणवत्ता सही नही होंगी तो फसल भी सही से नही होंगी। इसलिए भारत सरकार ने किसानों के लिए यह कार्ड जारी किया है। इस योजना के अनुसार सरकार ३ साल के अंदर पुरे भारत मे लग भग १४ करोड़ किसानों के लिए यह कार्ड जारी करने का उद्देश है।

इस योजना के तहेत किसानों को  मृदा स्वास्थ्य कार्ड दिया जाएगा, जिसमे किसानों के जमीन की मिट्टी किस प्रकार की है उसकी जानकारी दी जाएगी। उन्हे एक सूची दी जाएगी जिसमे उनके जमीन मे किस प्रकार की फसल लग सकती है जिससे उन्हे अधिकतम लाभ हो सके। मृदा स्वास्थ्य कार्ड एक रिपोर्ट कार्ड है जो मिट्टी के गुण के बारे मे महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान करेगा जैसे मिट्टी के प्रकार के बारे मे पोषक तत्व सामग्री,आवश्यक खात,फसल के लिए उपयुक्त तापमान।

मृदा स्वास्थ्य कार्ड किसानों के लिए बहोत फायदेमंद है। भारत मे बहुत अशिक्षित किसान है, जो यह नही जानते की अधिकतम उपज प्राप्त करने के लिए किस तरही फसलो को विकसित करना चाहिए। मूल रुप से मिट्टी के गुण और उसके प्रकार को नही जानते है। इसके लिए भारत सरकार ने मृदा स्वास्थ्य कार्ड योजना शुरु की है।

मृदा स्वास्थ्य कार्ड योजना का लाभ:

  • मृदा स्वास्थ्य कार्ड  मिट्टी की आम्लता, लवणता और पोषक तत्व सामुग्री की किसानों को जानकारी प्रदान करती है
  • योजना के तहेत मृदा परीक्षण किया जाएगा और मिट्टी विश्लेषण दिया जाएगा
  • ३ साल मे एक बार  मृदा स्वास्थ्य कार्ड रिपोर्ट दी जायगी और इस रिपोर्ट मे उनकी जमीन की मिट्टी की पुरी जानकारी दी जायगी
  • योजना के माध्यम से किसानों के फसल मे वृद्धी होगी   
  • मिट्टी की गुणवत्ता मे  सुधार करने के लिए किसानों को विशेषज्ञो द्वारा निर्देशित किया जाएगा  
  • भारत सरकार का इस योजना के तहेत लगभग १४ करोड़ किसानों को इसमे शामिल करने का उद्देश है.

मृदा स्वास्थ्य कार्ड योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए पात्रता:

  • देश भर के  सभी किसान मृदा  स्वास्थ्य कार्ड योजना के लिए पात्र है

मृदा स्वास्थ्य कार्ड योजना का पंजीकरण करने के लिए आवश्यक दस्तावेज:  

  • पहचान का प्रमाण पत्र जैसे  आधार कार्ड
  • निवासी प्रमाण पत्र जैसे बिजली का बिल
  • खेत का ७/१२

मृदा स्वास्थ्य कार्ड योजना का लाभ पाने के लिए संपर्क करे:

  • किसान नजदीकी कृषि कार्यालय मे संपर्क कर सकते है
  • किसान को योजना के नामांकन के लिए अधिकारिक पोर्टल पर ऑनलाइन पंजीकरण करने की जरुरत है

ऑनलाइन पंजीकरण फॉर्म यहाँ उपलब्ध है: soilhealth.dac.gov.in

मृदा स्वास्थ्य कार्ड योजना/सॉइल हेल्थ कार्ड (एस एच सी) स्वास्थ्य कार्ड योजना हैल्प लाईन/टोल फ़्री नंबर

1800 180 1551 /  helpdesk-soil@gov.in

संदर्भ और विवरण:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *