महाराष्ट्र में किसानों के लिए मिट्टी और जल परीक्षण योजना:

February 26, 2019 | By Yashpal Raut | Filed in: कृषि, योजनाएं, खबरें, किसान, महाराष्ट्र सरकार, महाराष्ट्र.

महाराष्ट्र राज्य सरकार ने राज्य के किसानों के लिए मिट्टी और जल परीक्षण योजना शुरू की गई है। इस योजना के तहत महाराष्ट्र राज्य का कृषि विभाग किसानों के मिट्टी और पानी का परीक्षण करता है। यह प्रयोगशाला मिट्टी या पानी का परीक्षण करके खनिजों और अन्य पदार्थों की मात्रा जानने में मदत करता है। महाराष्ट्र राज्य के किसानों के लिए पुणे, सांगली, परभणी, औरंगाबाद, यवतमाल, ठाणे, अहमदनगर, सोलापुर, लातूर, अमरावती, जलगाँव आदि शहरों में मिट्टी और जल परीक्षण प्रयोगशाला उपलब्ध है। यह योजना किसानों के खेत की मिट्टी और पानी की वास्तविक स्थिति को जानने में मदत करती है। एक बार जब किसान को मिट्टी और पानी के परीक्षण के बारे में रिपोर्ट मिल जाती है, तो किसान कृषि स्थिति के अनुसार मिट्टी में उर्वरक की मदत से बदलाव कर सकता है। राज्य के किसानों से खेत की मिट्टी के परीक्षण के लिए प्रयोगशाला प्रति नमूना न्यूनतम १५ रुपये का शुल्क ले सकती है। इस योजना के तहत प्रयोगशाला भारी खनिजों जैसे मैंगनीज, लोहा, और तांबा आदि की पानी में जांच करने के लिए २० रुपये प्रति नमूना का शुल्क ले सकती है। महाराष्ट्र राज्य के सभी जिलों में पानी की जांच की सुविधा उपलब्ध है। पानी के परीक्षण के लिए प्रयोगशाला न्यूनतम १०० रुपये प्रति नमूना का शुल्क ले सकती है। इस विशेष योजना के तहत कृषि प्रयोगशाला मिट्टी में तेरह महत्वपूर्ण पदार्थों से अधिक के परीक्षण के लिए २५० रुपये प्रति नमूना का शुल्क ले सकती है। राज्य के किसान मिट्टी परीक्षण का कई बार लाभ प्राप्त कर सकता है। एक बार कोई भी किसान मिट्टी या पानी के परीक्षण के लिए आवेदन कर सकता है, कृषि प्रयोगशाला उर्वरकों के बारे में किसानों को सुझाव और दिशानिर्देश सहित ३० दिनों में नमूनों की रिपोर्ट दे सकती है।

                                             Soil & Water Testing Scheme For Farmers In Maharashtra (In English):

महाराष्ट्र में किसानों के लिए मिट्टी और जल परीक्षण योजना के लाभ:

  • राज्य के किसान मिट्टी परीक्षण का कई बार लाभ प्राप्त कर सकता है।
  • राज्य के किसान प्रयोगशाला रिपोर्ट का उपयोग करके खेती का उत्पादन बढ़ा सकता है।
  • किसानों को मिट्टी या पानी परीक्षण के आवेदन करने के लिए कोई परीक्षण या वित्तीय सीमा नहीं है।

महाराष्ट्र में किसानों के लिए मिट्टी और जल परीक्षण योजना के लिए पात्रता:

  • सभी किसान पात्र है।
  • महाराष्ट्र राज्य के सभी किसान इस योजना के लिए पात्र है।

किसानों के लिए मिट्टी और जल परीक्षण का कार्यान्वयन:

  • मिट्टी और जल परीक्षण योजना महाराष्ट्र राज्य के कृषि विभाग द्वारा कार्यान्वित की जाती है।
  • जिले में योजना जिला मिट्टी और जल परीक्षण प्रयोगशाला अधिकारी, तालुका कृषि अधिकारी और उप-विभागीय कृषि अधिकारी द्वारा कार्यान्वित की जा रही है।

आवेदन की प्रक्रिया:

  • किसान महाराष्ट्र राज्य के कृषि विभाग से संपर्क कर सकते है।
  • किसान जिला, तालुका के कृषि अधिकारियों से संपर्क कर सकते है।

संदर्भ और विवरण:

 


Tags: , , , , ,

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *