बीजू पक्का घर योजना (बीपीजीवाई): ओडिशा में चक्रवात तितली हिट परिवारों के लिए आवास योजना

ओडिशा सरकार ने राज्य में १३  हजार चक्रवात तितली हिट परिवारों के लिए बीजू  पक्का घर योजना (बीपीजीवाई) की घोषणा की है। राज्य में चक्रवात में जिन लोगो के घर नष्ट हो गए,ऊन सभी लोगो को इस योजना के तहत वित्तीय सहायता प्रदान की जाएंगी। इस योजना का मुख्य उद्देश्य १३ हजार चक्रवात से प्रभावित परिवारों का समर्थन करना और उन्हें सामान्य जीवन में वापस लाने में मदत करना है। ओडिशा राज्य के मुख्यमंत्री श्री नवीन पटनायक ने उच्चस्तरीय बैठक के बाद इस योजना की घोषणा की है।

                                                                                                Biju Pucca Ghar Yojana (BPGY)  (in English)

 इस योजना के तहत ओडिशा राज्य में घरों के निर्माण के लिए लगभग १७६ करोड़ रुपये की आवश्यकता है। मुख्यमंत्री ने संबंधित विभागों को कार्य करने के आदेश जारी किये है और जितनी जल्दी हो सके उतने जल्दी राज्य में घरों का निर्माण शुरू करने का निर्देश दिया है। मुख्यमंत्री निर्धारित समय में घरो का निर्माण कार्य को पूरा करने के लिए प्रतिबद्ध है।

इस योजना के माध्यम से स्थानीय अर्थव्यवस्था को बढ़ावा दिया जाएंगा और एसएचजी का समर्थन करने के लिए निर्माण सामग्री स्थानीय व्यापारियों और स्वयं सहायता समूहों (एसएचजी) के रूप में तैयार की जाएगी। स्वयं सहायता समूहों (एसएचजी) के रूप में अतिरिक्त वित्तीय सहायता प्रदान की जाएंगी।

बिजू पक्का घर योजना (बीपीजीवाई) क्या है?

ओडिशा राज्य के १३  हजार चक्रवात तितली प्रभावित परिवारों के लिए एक आवास सहायता योजना है।

बीजू पक्का घर योजना (बीपीजीवाई) का उद्देश्य:

  • तितली प्रभावित परिवारों को सहायता प्रदान की जाएंगी।
  • लाभार्थी को वित्तीय सहायता प्रदान की जाएंगी।

बीजू पक्का घर योजना (बीपीजीवाई) का लाभ:

  • ओडिशा राज्य में १३ हजार तितली हिट प्रभावित परिवारों को मकान प्रदान किया जाएंगा।
  • चक्रवात और बाढ़ से प्रभावित परिवारों के लिए १ लाख रुपये की वित्तीय सहायता प्रदान की जाएंगी।
  • चक्रवात से  प्रभावित परिवारों को आजीविका के लिए समर्थन किया जाएंगा।

बिजू पक्का घर योजना के आवेदन करने के लिए पात्रता:

  • ओडिशा राज्य में केवल चक्रवात तितली-हिट प्रभावित परिवारों के लिए यह योजना लागू है।

सरकार संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम (यूएनडीपी) से सहायता लेने की योजना बना रही है।निर्माण सामग्री की तैयारी के लिए राजमिस्त्री और स्वयं सहायता समूहों (एसएचजी) को प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा। ओडिशा राज्य के गंजम और गजपति जिले चक्रवात से सबसे ज्यादा प्रभावित हुए है।कार्य आदेश नवंबर २०१८ के अंत तक पंचायती राज विभाग द्वारा जारी किया जाएंगा और यह कार्य दिसंबर २०१८ में शुरू होगा। घरों का निर्माण अगले ६ महीनों में पूरा हो जाएगा। प्रभावित जिलों के कलेक्टरों को लाभार्थियों की सूची की पहचान करने और उन्हें घरों के निर्माण के लिए अनुदान जारी करने का निर्देश दिया जाता है।

अन्य महत्वपूर्ण योजनाएं:

  •  ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक द्वारा योजनाओं की सूची
  • ओडिशा राज्य में योजनाओं और सब्सिडी की सूची

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *