प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना (पीएमकेएसएनवाय/ पीएम किसान): किसान आय समर्थन योजना-

भारत देश के वित्त मंत्री श्री पीयूष गोयल ने देश के किसानों को वित्तीय सहायता प्रदान करने के लिए प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना (पीएमकेएसएनवाय/ पीएम किसान) की घोषणा की है। भारत देश भर के सभी गरीब और सीमांत किसानों को हर साल ६००० रुपये की वित्तीय सहायता प्रदान की जाएंगी।

भारत देश के वित्त मंत्री ने १ फरवरी २०१९ को राष्ट्रीय विधान-सभा में अंतरिम बजट २०१९ को प्रस्तुत किया है। कर (टैक्स) छूट के साथ कई सामाजिक कल्याण योजनाओं और सब्सिडी की घोषणा वित्त मंत्री द्वारा की गई है। इस योजना के लिए ७५,००० करोड़ रुपये का बजट आवंटित किया गया है। इस योजना से भारत देश के १२ करोड़ गरीब किसानों को लाभ प्रदान किया जाएंगा।

योजना का प्राथमिक उद्देश्य भारत देश के किसानों को वित्तीय सहायता प्रदान करना है और बुवाई के मौसम के दौरान आवश्यक विभिन्न आदानों खरीदने के लिए उनकी मदत करना है। यह राशि सीधे किसान के बैंक खातों में तीन एकसामान किस्तों में हस्तांतरित की जाएगी।

                                                                     Pradhan Mantri Kisan Samman Nidhi Yojana (In English):

  • योजना:  प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना (पीएमकेएसएनवाय/ पीएम – किसान)
  • वैकल्पिक नाम: प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना / पीएम – किसान
  • लाभ:  देश के किसानो को ६,००० रुपये की वित्तीय सहायता हर साल प्रदान की जाएंगी
  • लाभार्थी: भारत देश के छोटे और सीमांत किसान
  • द्वारा शरू की: वित्त मंत्री श्री पीयूष गोयल
  • प्रारंभ तिथि: १ फरवरी २०१९

प्रधानमंत्री किसान योजना के लिए पात्रता मानदंड:

  • यह योजना केवल भारत देश के किसानों के लिए लागू है।
  • जिन किसानों के पास २ हेक्टर (५ एकड़) से भूमि कम है।

प्रधानमंत्री किसान योजना का लाभ:

  •  भारत देश के किसानों को हर साल ६,००० रुपये की वित्तीय सहायता प्रदान की जाएंगी।
  • वित्तीय सहायता की राशी सीधे लाभार्थी किसानों के बैंक खाते में हस्तांतरित की जाएंगी।
  • लाभार्थी किसानों के बैंक खाते २,००० रुपये की राशी ३ एकसमान किस्तों में भुगतान की जाएंगी।

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के माध्यम से ३१ मार्च २०१९ तक लाभार्थी किसान के डीबीटी खाते में पहली किस्त प्रदान की जाएंगी। यह योजना दिसंबर २०१९  से भारत देश भर लागू है। इस वित्तीय सहायता का उपयोग विभिन्न कृषि आदानों जैसे बीज, उर्वरक खरीदने के लिए और खेत में काम करने वाले मजदूरो की मजूरी का भुगतान करने के लिए किया जा सकता है।

भारत सरकार किसान क्रेडिट कार्ड ऋण पर २% की छूट भी प्रदान करेगी। देश के जो किसान अपना ऋण समय पर चुकाते है, उन किसानों को किसान क्रेडिट कार्ड  (केसीसी)  ऋणों पर ३% की छूट प्रदान की जाएगी।

यह योजना तेलंगाना की रायथु बंधु योजना, ओडिशा की कालिया योजना और झारखंड की कृषि आशीर्वाद योजना पर आधारित है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *