पहल योजना (प्रत्यक्ष हस्तांतरित लाभ) / डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर फॉर एलपीजी (डि बी टी एल): एलपीजी उपभोक्ता के लिए प्रत्यक्ष लाभ | आवेदन पत्र और कैसे करे आवेदन

पहल योजना (प्रत्यक्ष हस्तांतरित लाभ) / डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर फॉर एलपीजी (डि बी टी एल) केंद्र सरकार के पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्रालय द्वारा शुरू की गई है। पहल योजना पहले चरण मे देश के ५४ जिलों मे १५ नवम्बर २०१४ को शुरू की है और दुसरे चरण मे देश के ६२२ जिलों मे १ जानेवारी २०1५ को शुरू की गई है। इस योजना के तहेत लाभार्थी की सबसिडी उनके बैंक खाते मे जमा की जाएगी। पहले एलपीजी सबसिडी के लिए आधार कार्ड नंबर अनिवार्य था पर अब ऐसा नही है। लाभार्थी का बैंक खाता आधार कार्ड नंबर से जुडा नही होने पर भी लाभार्थी को एलपीजी सबसिडी प्रदान की जाएगी यह इस योजना का मुख्य उद्देश है। इस योजना के तहत देश भर मे रसोई गैस की सबसिडी मे सुधार किया जाएगा।

पहल योजना का लाभ:

  • रसोई गैस उपभोक्ता के लिए  प्रत्यक्ष लाभ योजना है। देश भर मे रसोई गैस की सबसिडी मे सुधार करना इस योजना का मुख्य उद्देश है। इस योजना के अनुसार एलपीजी  उपभोक्ता को बाजार मूल्य पर सिलेंडर प्रदान किया जाएगा।
  • एलपीजी उपयोगकर्ता को प्रत्येक सिलेंडर पर आसपास ४० से ५०% तक सबसिडी प्रदान की जाएगी।
  • सब्सिडी सीधे उपभोक्ताके बैंक अकाउंट में जमा की जाएगी।

पहल योजना के लिए पात्रता:

  • देश के सभी लोग  इस योजना के लिए पात्र है, चाहे लाभार्थी के पास  आधार कार्ड नही हो
  • लाभार्थी को प्रत्यक्ष नकद सबसिडी हस्तांतरण के लिए बैंक खाता होना चाहिए
  • लाभार्थी को इस योजना मे शामिल होने के लिए बैंक खाते की आवश्कता है

पहल योजना लाभ प्राप्त करने के लिए आवश्यक दस्तावेज:

  • आधार कार्ड: उपभोगता अपना आधार नंबर बैंक खाते से लिंक करके सबसिडी प्राप्त कर सकता है  
  • आधार कार्ड के बिना: उपभोगता के पास आधार कार्ड नही होने पर वह रसोई गैस कनेक्शन आईडी बैंक खाते से लिंक करके सबसिडी प्राप्त कर सकता है.  
  • निवास प्रमाण पत्र जैसे की बिजली का बिल
  • बैंक खाता क्रमांक, बैंक विवरण, शाखा का नाम,आयएफएससी कोड,एमआयसीआर कोड

पहल योजना के लिए किसे संपर्क करे? लाभार्थी एलपीजी गैस वितरक को संपर्क कर सकते है।

पहल योजना हेल्पलाइन / टोल फ्री नंबर
१८०० २३३३ ५५५
(योजना की जानकारी और शिकायत इस नंबर पर कर सकते है)

ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन यहाँ उपलब्ध है:

संदर्भ और विवरण:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *