तेलंगाना राज्य में मिशन भागीरथ:

प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने तेलंगाना राज्य में मिशन भागीरथ को सभी को सुरक्षित पेयजल प्रदान करने के उद्देश्य से  योजना की घोषणा किया है। यह योजना तेलंगाना के मेडक जिले में गजवेल कोमातिबांडा गांव में राज्य सरकार द्वारा पेश की गई है। मिशन भागीरथ एक जल ग्रिड परियोजना है जिसका उद्देश्य तेलंगाना में स्थानों को दूर करने के लिए सभी को सुरक्षित पेयजल प्रदान करना है।इसका उद्देश्य ग्रामीण परिवारों में प्रति व्यक्ति  १०० लीटर स्वच्छ पेयजल और शहरी परिवारों में प्रति व्यक्ति १५० लीटर स्वच्छ पेयजल प्रदान करना है। इस योजना के तहत  २५०० से अधिक ग्रामीण आवास और ६७ शहरी आवास शामिल किए जाएंगे। कृष्णा और गोदावरी नदी के साथ, निजाम सागर, श्रीराम सागर, कमूरम भीम, जुराला बांध और पारेलू रिजर्वोइयर के पानी का भी इस परियोजनाओं में उपयोग किया जाएगा। मुख्य पाइपलाइन पूरे राज्य में ५००० किमी से अधिक फैल जाएगी।
मुख्य पाइपलाइन कई सबलाइन से जुडी होंगी। निवास के लिए पानी उपलब्ध कराने के लिए राज्य के विभिन्न स्थानों पर कुल ५००० किलोमीटर के किनारे फैले होंगे। पेयजल के लिए एक स्थायी समाधान प्रदान करने के अलावा, इसका लक्ष्य ४५००० से अधिक जल टैंकों को फिर से जीवंत करना है।

                                                                                               Mission Bhagirath In Telangana (In English)

  • कुल लागत : ४२,००० करोड़ रुपये
  • योजना पूरा होने का साल :  साल २०१८

तेलंगाना में मिशन भागीरथ के लाभ:

  • गांवों में स्वच्छ पेयजल का लाभ प्रदान किया जाएगा।
  • ग्रामीण परिवारों में प्रति व्यक्ति को १०० लीटर स्वच्छ पेयजल और शहरी परिवारों में प्रति व्यक्ति को १५० लीटर स्वच्छ पेयजल का लाभ मिलेंगा।

तेलंगाना राज्य में मिशन भागीरथ का उद्देश्य:

तेलंगाना जल ग्रिड का उद्देश्य ग्रामीण परिवारों के प्रति व्यक्ति को १०० लीटर स्वच्छ पेयजल और शहरी परिवारों के प्रति व्यक्ति १५० लीटर स्वच्छ पेयजल प्रदान करना है। इस परियोजना का उद्देश्य लगभग २५००० ग्रामीण आवास और ६७ शहरी आवासों को पानी प्रदान करना है।

तेलंगाना राज्य में मिशन भागीरथ की विशेषताएं:

  • मिशन भागीरथ २०१६ में तेलंगाना में प्रधान मंत्री मोदी द्वारा शुरू की गई एक योजना है। इस योजना के तहत, राज्य भर के लोगों को सुरक्षित पेयजल का लाभ  मिलेगा।
  • ग्रामीण इलाकों में हर घर को पेयजल मुहैया कराने के लिए पूरे राज्य में १.२६ किलोमीटर की पाइपलाइन की जाएगी साथ ही प्रत्येक घर को  प्रति व्यक्ति को १०० लीटर पानी मुहैया कराया जाएगा और शहरी क्षेत्रों  में प्रति व्यक्ति १५० लीटर पानी प्रदान किया जाएगा।
  • २५,००० ग्रामीण आवास और ६७ शहरी आवास इस योजना के तहत शामिल किए जाएंगे। कृष्णा और गोदावरी नदी के साथ, निजाम सागर, श्रीराम सागर, कमूरम भीम, जुराला बांध और पारेलू रिजर्वोइयर का पानी भी इस परियोजनाओं में उपयोग किया जाएगा। मुख्य पाइपलाइन पूरे राज्य में ५००० किमी से अधिक फैल जाएगी। मुख्य पाइपलाइन कई  सबलाइन जुडी होंगी।
  • गांवों और ग्रामीण इलाकों में घरों को पानी उपलब्ध कराने के लिए गांवों में कुल ७५००० किलोमीटर की पाइपलाइन रखी जाएगी, जिसमें गांवों में पानी उपलब्ध कराने के लिए राज्य के विभिन्न स्थानों पर ५००० किलोमीटर के अंतराल फैले होंगे। ये पाइपलाइन द्वितीयक टैंक से जुड़ी होंगी।

संदर्भ और विवरण:

मिशन भागीरथ के बारे में अधिक जानकारी के लिए तेलंगाना में आधिकारिक  वेबसाइट पर संपर्क करे:

  • http://www.telangana.gov.in/news/2014/12/15/water-grid

संबंधित योजनाए:

  • नरेन्द्र मोदी की योजनाएं की सूची
  • तेलंगाना राज्य में योजनाएं की सूची
  • ग्रामीण क्षेत्रों में पानी की योजनाएं की सूची

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *