खुले में शौच मुक्त योजना (ओडीएफएस) गोवा: सरकार राज्य भर में ६०,०००  जैव-शौचालय स्थापित करेगी। पात्रता, आवश्यक दस्तावेज और आवेदन कैसे करें?

गोवा सरकार ने राज्य में एक नई योजना की घोषणा की है जिसे  खुले में शौच मुक्त योजना (ओडीएफएस) कहा जाता है। इस योजना का मुख्य उद्देश्य गोवा राज्य को खुले में शौच मुक्त राज्य बनाना है। यह योजना स्वच्छ भारत अभियान का हिस्सा है और इसे जल्द ही शुरू किया जाएगा। योजना के तहत राज्य के महत्वपूर्ण सार्वजनिक स्थानों पर ६०,००० जैव-शौचालयों का निर्माण किया जाएगा। इस योजना पर २८० करोड़ रुपये की लागत लगेंगी। इस योजना की घोषणा विधान सभा में राज्य के मुख्यमंत्री श्री मनोहर पर्रिकर द्वारा की गयी है। गोवा राज्य को खुले में शौच मुक्त बनाने के लिए, स्वच्छ भारत अभियान के तहत, राज्य में इन ६०,००० जैव-शौचालयों को स्थापित किया जाएगा। इस ६०,००० जैव-शौचालयों को खरीदने के निविदाएं १२ अगस्त २०१८ को राज्य द्वारा संचालित गोवा अपशिष्ट प्रबंधन निगम (जीडब्लूएमसी)  द्वारा जारी कीया जाएंगा।

दो से तीन महीनों में ६०,००० जैव-शौचालयों को लागू करने और खरीदने के लिए सरकार सात से आठ ठेकेदारों को नियुक्त करने की योजना बना रही है। प्रत्येक जैव शौचालय गुणवत्ता के आधार पर ३५,००० से ४०,००० रुपये के कीमत का रहेंगा। इस परियोजना की कुल लागत २८० करोड़ रुपये है। पंचायत विभाग (डीओपी) और ग्रामीण विकास एजेंसी (आरडीए)  योजना को लागू करने के लिए सहायता प्रदान करेग

                                                                        Open Defecation Free Schemes (ODFS) Goa (In English):

खुले में शौच मुक्त योजना (ओडीएफ) क्या है? गोवा सरकार ने राज्य भर में जैव-शौचालय स्थापित करके गोवा राज्य को खुले में शौच मुक्त बनाने की एक योजना है।

खुले में शौच मुक्त योजना (ओडीएफ) का उद्देश्य:

  •  राज्य को खुले में शौच मुक्त बनाया जाएंगा।
  • स्वच्छता के बारे में जागरूकता निर्माण की जाएंगी।
  • राज्य में स्वच्छता और सफाई को बढ़ावा दिया जाएंगा।
  • खुले में शौच के कारण फैलने वाले विभिन्न बीमारी को रोका जाएंगा।

खुले में शौच मुक्त योजना (ओडीएफ)  पात्रता / आवेदन कौन कर सकता है?

  • गोवा राज्य के स्थायी निवासी इस योजना के लिए पात्र है।
  • राज्य के शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों के परिवार इस योजना के लिए पात्र है।

खुले में शौच मुक्त योजना (ओडीएफ)  आवेदन पत्र और आवेदन कैसे करें?

इस योजना की अभी घोषना की गई है और अभी तक शुरू नहीं की गई है। इस योजना का आवेदन पत्र और आवेदन प्रक्रिया अभी उपलब्ध नहीं है।

खुले में शौच मुक्त योजना (ओडीएफ)  कार्यान्वयन और विशेषताएं:

  • गोवा सरकार ने राज्य में खुले में शौच मुक्त (ओडीएफ) नामक एक नई योजना शुरू की है।
  • राज्य में २८० करोड़ रुपये लागत के ६०,००० जैव शौचालयों स्थापित किये जाएंगे।
  • इन जैव शौचालयों को स्वच्छ भारत अभियान (एसबीए) योजना के तहत स्थापित किया जाएंगा।
  • गोवा पश्चिम प्रबंधन निगम (जीडब्ल्यूएमसी) १२ अगस्त तक जैव शौचालयों खरीदने के लिए निविदा जारी करेगा।
  • गोवा पश्चिम प्रबंधन निगम (जीडब्ल्यूएमसी) इस गुणवत्ता को लागू करने के लिए पंचायत विभाग (डीओपी) और ग्रामीण विकास एजेंसी (आरडीए) से सहायता लेंगा।
  • प्रत्येक जैव शौचालय गुणवत्ता के आधार पर ३५,००० से ४०,००० रुपये के कीमत का रहेंगा।
  • अपने घर में शौचालय स्थापित करने के लिए लाभार्थियों के पास ७०% के बीच जमीन होनी चाहिए।
  •  यदि शौचालय स्थापित करने के लिए भूमि मिलना मुश्किल है, तो सरकार सामुदायिक शौचालय बनाएगी।

अन्य महत्वपूर्ण योजनाएँ:

  •  गोवा में योजनओं और सब्सिडी की सूची
  • स्वास्थ्य क्षेत्र के लिए योजनाओं की सूची
  • विकास क्षेत्र के लिए योजनाओं की सूची

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *