ख़ुशी योजना ओडिशा:

ओडिशा सरकार ने ओडिशा राज्य के छात्राओं के लिए ख़ुशी योजना  (नि:शुल्क सैनिटरी नैपकिन / पैड वितरण योजना) शुरू की है। इस योजना का मुख्य उद्देश्य राज्य में किशोर लड़की छात्रों के बीच मासिक धर्म स्वच्छता के बारे में जागरूकता निर्माण करना और सुधार करना है। सरकार ने इस योजना के पांच साल के कामकाज लिए ४४६ करोड़ रुपये का बजट आवंटित किया है। ओडिशा राज्य के सरकारी और गैर-सरकारी स्कूलों में ६ वी और ७ वी कक्षा में पढ़ने वाली १७.२५ लाख लड़कियां इस योजना की लाभार्थी है।

इस योजना का प्राथमिक उद्देश्य महिलाओं के स्वास्थ्य से संबंधित मुद्दों के बारे में जागरूकता बढ़ाना है और साथ ही लड़कियों की स्कूल की शिक्षा बिच में छोड़ने के दर को कम करना है।

                                                                                                               Khushi Scheme Odisha (In English):

  • ख़ुशी योजना
  • वैकाल्पिक नाम: ख़ुशी योजना / नि:शुल्क सैनिटरी नैपकिन / पैड वितरण योजना
  • राज्य: ओडिशा
  • लाभ: स्कूल की छात्राओं को हर महीने नि:शुल्क सैनिटरी पैड प्रदान किये जाएंगे।
  • लाभार्थी: ओडिशा राज्य की स्कूल की लडकिया
  • बजट: ४४६ करोड़ रुपये

पात्रता मापदंड:

  • यह योजना केवल ओडिशा राज्य में लागू है।
  • यह योजना केवल ६ वीं और ७ वीं कक्षा की छात्राओं के लिए लागू है।
  • केवल सरकारी, गैर-सरकारी सहायता प्राप्त विद्यालय, केंद्रीय विद्यालय और जवाहरलाल नवोदय विद्यालय के छात्राओं को इस योजना के तहत शामिल किया जाएंगा।

इस योजना को हाल ही में ओडिशा राज्य के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक की अध्यक्षता में मंत्रिमंडल की बैठक में मंजूरी दी गई है। नि: शुल्क सैनिटरी पैड वितरण योजना स्कूल और जन शिक्षा, अनुसूचित जनजाति और अनुसूचित जाति विकास और अल्पसंख्यक और पिछड़े वर्ग, और सामाजिक सुरक्षा और विकलांग विभागों के सशक्तिकरण द्वारा कार्यान्वित की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *