कन्या सुमंगला योजना (केएसवाय) उत्तर प्रदेश: बालिकाओं के लिए वित्तीय सहायता योजना

February 14, 2019 | By Yashpal Raut | Filed in: अविवाहित, योजनाएं, शिशु, छात्र, खबरें, शिक्षा, लड़की, शासन और सेवाएं, उत्तर प्रदेश सरकार, उत्तर प्रदेश.

उत्तर प्रदेश सरकार ने राज्य के लड़कियों के लिए कन्या सुमंगला योजना (केएसवाय) की घोषणा की है। इस योजना के तहत लड़कियों को उनकी शिक्षा पूरी करने के लिए और शादी करने के लिए वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी। उत्तर प्रदेश बजट २०१९-२० में इस योजना की घोषणा की गई है। इस योजना का प्राथमिक उद्देश्य लड़कियों को सशक्त बनाना है और उन्हें वित्तीय सुरक्षा प्रदान करना है।

सरकार द्वारा पूर्व-निर्धारित राशी लड़कियों के बैंक खाते में जमा की जाएंगी। लडकियों को यह राशि जन्म के समय, टीकाकरण के समय , १ वीं, ६ वीं, १० वीं कक्षा, स्नातक में प्रवेश के समय और शादी के समय लड़कियों के बैंक खाते में जमा की जाएंगी। जब लडकिया स्नातक स्तर की पढाई पूरी करेंगे और शादी करेंगी तब उन्हें एक सुंदर राशि उपलब्ध होगी। सरकार का उद्देश्य बालिकाओं की सुरक्षा प्रदान करना है और उन्हें अच्छी शिक्षा और स्वास्थ्य प्रदान किया जा सके।

                                                                   Kanya Sumangala Yojana (KSY) Uttar Pradesh (In English):

  • योजना: कन्या सुमंगला योजना (केएसवाई)
  • राज्य: उत्तर प्रदेश
  • लाभ: वित्तीय सहायता
  • लाभार्थी: लडकियाँ

यह योजना मध्य प्रदेश राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा शुरू की गई है।  यह योजना भाजपा की योजना पर आधारित है जिसे लाड़ली लक्ष्मी योजना कहा जाता है। योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व वाली उत्तर प्रदेश सरकार ने इस योजना के लिए १,२०० करोड़ रुपये का बजट आवंटित किया है।

पात्रता मानदंड: यह योजना केवल उत्तर प्रदेश राज्य के लड़कियों के लिए लागू है। अन्य विवरण जैसे कि पारिवारिक आय मानदंड, आयु सीमा आदि की घोषणा सरकार द्वारा की जानी बाकी है।

लाभ: सरकार निम्नलिखित अंतराल पर लड़कियों के बैंक खाते में निश्चित राशि जमा करेगी। उन्हें अपनी शिक्षा पूरी करने और शादी करने के बाद एकमुश्त राशि प्रदान की जाएगी।

  • पहली किस्त: लड़की के जन्म के समय
  • दूसरी  किस्त: टीकाकरण के समय
  • तीसरी किस्त: १ ली कक्षा में प्रवेश लेते समय
  • चौथी क़िस्त: ६ वी कक्षा की पढाई के के दौरान
  • पाचवी क़िस्त: ९ वी कक्षा की पढाई के के दौरान
  • छटवी किस्त: स्नातक स्तर की पढाई के के दौरान
  • सातवी क़िस्त: शादी के समय

उत्तर प्रदेश  कन्या सुमंगला योजना (केएसवाय) आवेदन पत्र और आवेदन कैसे करें?

यह योजना १ अप्रैल २०१९ से लागू की जाएगी। सरकार से योजना के कार्यान्वयन की शुरुआत में आवेदन पत्र का वितरण शुरू करने की उम्मीद है। आवश्यक दस्तावेजों की सूची और आवेदन प्रक्रिया भी अभी तक उपलब्ध नहीं है।

 


Tags: , , , , , , , , , , , ,

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *