अटल सौर कृषि पंप (एएसकेपी) योजना: सौर पंप वितरण योजना महाराष्ट्र

महाराष्ट्र राज्य सरकार ने किसानों के लिए अटल सौर कृषि पंप (एएसकेपी) योजना की घोषणा की है। इस योजना के तहत राज्य सरकार किसानों को सौर ऊर्जा कृषि पंप के लिए  ९५% तक की सब्सिडी प्रदान करेंगी। अटल सौर कृषि पंप (एएसकेपी) योजना के माध्यम से सौर ऊर्जा के उपयोग को बढ़ावा देने के लिए केंद्र सरकार की योजना है। कमजोर वित्तीय स्थिति के कारण किसानों द्वारा कृषि बिजली के बिलों का भुगतान न करने की वजह से महाराष्ट्र राज्य को वित्तीय नुकसान सहन करना पड़ रहा है, इस नुकसान को योजना के माध्यम से कम किया जाएंगाऔर यही महाराष्ट्र सरकार का मुख्य उद्देश्य है। महाराष्ट्र राज्य में कृषि बिजली बकाया राशि अब ३२,००० करोड़ रुपए है, इसलिए सरकार किसानों को सौर बिजली का उपयोग करके नुकसान को कम करना चाहती है।

Atal Solar Krushi Pump Yojana (In English)

अटल सौर कृषि पंप (एएसकेपी) योजना क्या है? भारत सरकार की एक योजना जिससे कृषि क्षेत्र में सौर जल पंपों के उपयोग को बढ़ावा देने के लिए सब्सिडी प्रदान करना।

अटल सौर कृषि पंप (एएसकेपी) योजना  का उद्देश्य:

  • इस योजना के तहत सौर ऊर्जा के उपयोग करने को बढ़ावा दिया जाएगा।
  • इस योजना के तहत प्रदूषण को कम किया जाएगा।
  • किसानोंको कृषि के लिए बिजली प्रदान करना और यह सुन्निशित करना है की किसानो को बिजली के आभाव से नुकसान न झेलना पड़े।

अटल सौर कृषि पंप (एएसकेपी) योजना के लिए पात्रता:

  • देश में सभी किसान इस योजना के लिए पात्र है।
  • केवल महाराष्ट्र राज्य के किसान महाराष्ट्र अटल सौर कृषि पंप (एएसकेपी) योजना के लिए पात्र है।

अटल सौर कृषि पंप (एएसकेपी) योजना  का लाभ:

  • महाराष्ट्र एएसकेपी के लिए सिर्फ राज्य के किसान ही पात्र है।
  • छोटे और सीमांत किसान (जिनके पास ५ एकड़ से काम जमीन है): इन्हे तीन अश्व-शक्ति (हॉर्स पावर) वाले सौर कृषि पंप सेट दिए जायेंगे जिसके लिए उन्हें सिर्फ ५ प्रतिशत यानि के १२,००० रुपये ही अदा करने पड़ेंगे।
  • बड़े किसान (जिनके पास ५ एकड़ से ज्यादा जमीन है): इन्हे ५ अश्व-शक्ति (हॉर्स पावर) वाले सौर कृषि पंप सेट दिए जायेंगे जिसके लिए उन्हें सिर्फ ३०,००० रुपये ही अदा करने पड़ेंगे। ऐसे कृषि पम्पों की कीमत ३ लाख तक है।

अटल सौर कृषि पंप (एएसकेपी) योजना की विशेषताएं और कार्यान्वयन:

  • महाराष्ट्र राज्य में एक सौर पंप वितरण योजना।
  • महाराष्ट्र सरकार इस योजना के माध्यम से किसानों को ७,००० सौर कृषि पंप वितरित किये जाएंगे।
  • इस योजना के लिए कुल रुप से २३९.९२ करोड़ रुपये का बजट आवंटित किया गया है।
  • महाराष्ट्र सरकार के तहत राज्य में सौर योजना को लागू किया जाएंगा।
  • १ लाख सौर कृषि पंप पूरे महाराष्ट्र राज्य में स्थापित किये जाएंगे।
  • सरकार को एक सौर कृषि पंप का ३ लाख रुपये खर्च है।
  • सौर कृषि पंप का उपयोग करके किसान दिन के दौरान भूमि की सिंचाई करने में सक्षम रहेंगा।
  • ७,००० सौर कृषि पंप में से १३.५ % अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के लिए ९ % आरक्षित रहेंगे।
  • जो लोग बिजली कनेक्शन के लिए प्रतीक्षा कर रहे है, वह सौर कनेक्शन का विकल्प चुन सकते है।
  • केंद्र सरकार कुल लागत के ५०.१९ करोड़ रुपये देगी और राज्य राज्य सरकार ११.९९ करोड़ देगी।
  • १०.५४ करोड़ रुपये का लाभार्थियों द्वारा भुगतान किया जायेगा और बाकी २३९.९२ करोड़ रुपये महाराष्ट्र ऊर्जा विकास एजेंसी (एमइडीए) द्वारा योगदान दिया  जाएंगा।
  • दूरदराज के क्षेत्रों के किसानों को इस योजना के लिए प्राथमिकता दी जाएंगी।
  • राज्य सरकार भी मुख्यमंत्री सौर वाहिनी योजना शुरू करने की योजना बना रहा है।
  • इस योजना के तहत कृषि बिजली उपभोक्ताओं को सौर बिजली में स्थानांतरित किया जाएंगा।

One thought on “अटल सौर कृषि पंप (एएसकेपी) योजना: सौर पंप वितरण योजना महाराष्ट्र

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *